google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

एके-47 राइफल के साथ जीवा गैंग का बदमाश गिरफ्तार, मेरठ में डीन पर हमले से जुड़े तार


शामली, 5 अप्रैल 2022 : शामली जिले के थाना भवन थाना क्षेत्र की कादरगढ़ चौकी पर मंगलवार को पुलिस ने चेकिंग दौरान बदमाश अनिल उर्फ पिंटू गांव हडोली निवासी को एके-47 राइफल के साथ गिरफ्तार किया है, इस दौरान उसके दो साथी बदमाश फरार हो गए। पुलिस जांच कर रही है। पुलिस ने हिरासत में लिए गए बदमाश से पूछताछ की है, जिसमें उसने अपना नाम अनिल उर्फ पिंटू, गांव हडोली शहाबुद्दीन पुर, थाना भोरा कला, जनपद शामली बताया है। पकड़ा गया आरोपित संजीव गैंग का सदस्य हैं।

घेराबंदी करके पकड़ा

कार में सवार तीनों बदमाश मुजफ्फरनगर से कादरगढ़ होते हरियाणा जा रहे थे। मुखबिर की सूचना पर थाना प्रभारी प्रेमवीर सिंह राणा, कदरगढ़ चौकी प्रभारी उपेंद्र सिंह, जलालाबाद पुलिस चौकी प्रभारी, विजय त्यागी ने पुलिस कर्मियों के साथ कादरगढ़ चौकी पर चेकिंग से घेराबंदी की। घेराबंदी दौरान अनिल को गिरफ्तार कर लिया गया। जबकि उसके दो साथी फरार हो गए। पुलिस ने एके-47 राइफल,1300 मैगजीन बरामद की है।

मेरठ में डीन पर हमले के तार जुड़े

बताया जाता है कि जेल में बंद बदमाश अनिल बंजी,गांव सिसौली निवासी एके-47 राइफल खरीदवाने में शामिल रहा है। मेरठ में राजवीर सिंह डीन पर हमला करने में भी इन बदमाशों का संबंध रहा है। थाना थाना भवन पर एसपी सुकीर्ति माधव व अन्य पुलिस जांच एजेंसी पहुंची है। पुलिस व जांच एजेंसी गिरफ्तार बदमाश से जानकारी जुटा रही है।

संजीव जीवा की गैंग का सदस्‍य

बाद में इस संबंध में एसपी सुकीर्ति माधव प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की। पकड़ा गया आरोपित संजीव गैंग का सदस्य हैं। जो पूर्व में विक्की त्यागी हत्याकांड में भी जेल गया था। संजीव जीवा गैंग से पहले आरोपित धर्मेंद्र किरठल गैंग का सदस्य था, लेकिन धर्मेंद्र के करीबी नीरज बामडोली (बागपत) की हत्या के मामले में उनपर शक हुआ था। धर्मेंद्र किरठल ने पकड़े गए आरोपित अनिल उर्फ पिंटू, व जेल में बंद आरोपित अनिल बंजी पर शक किया था। बाद में यह दोनों संजीव जीवा की गैंग में शामिल हो गए थे। मेरठ में डीन पर हुए हमले में भी पकड़ी गई एके-47 राइफल का इस्तेमाल होना था, लेकिन अंतिम समय पर अन्य हथियार से गोली चलाई गई। आरोपित इन हथियारों को हरियाणा। आरोपित अपने दो साथियों के साथ एके-47 व बरामद कारतूसों को यूपी से बाहर किसी सुरक्षित ठिकाने पर लेकर जा रहे थे।

ऐसे मिली एके-47 राइफल

वहीं दूसरी ओर पुलिस सूत्रों से पता चला है कि मेरठ जेल में बंद अनिल बंजी ने अनिल पिंटू को एके-47 उपलब्‍ध कराई। अनिल बंजी मेरठ में प्रोफेसर की हत्या में शामिल रहा है। पिंटू से एके-47 और 1300 कारतूस भी मिले हैं। दो बदमाश भाग निकले। ये सभी क्रेटा कार से मुजफ्फरनगर के कादरगढ़ होते हुए हरियाणा जा रहे थे।

8 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0