google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

4 माह में 3 बार अस्पताल में हुए भर्ती आजम, हार्ट अटैक से पहले इस बीमारी से रहे परेशान


लखनऊ, 14 सितंबर 2022 : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीयमहासचिव आजम खांकी हालत फिरबिगड़ गई है।दिल की नसब्लाक होने परदिल्ली के सरगंगाराम अस्पताल में उनकीएंजियोप्लास्टी कर स्टंटडाला गया है।जेल से छूटनेके बाद यहतीसरी बार हैजब उन्‍हेंअस्‍पताल मेंभर्ती कराया गयाहै। इस बारतो उन्‍हेंहार्ट अटैक कीवजह से भर्तीकराया गया लेकिन, इससे पहले दोनोंबार उन्‍हेंसांस संबंधी समस्‍या केचलते अस्‍पतालमें भर्ती करानापड़ा था। फिलहालउनकी हालत स्थिरहै।

शहर विधायकआजम खां केखिलाफ 93 मुकदमे दर्ज हैं।वह करीब सवादो साल तकसीतापुर की जेलमें बंद रहे।इसी साल 20 मईको वह जेलसे छूटे थे।जेल से छूटनेके आठ दिनबाद ही उनकीतबीयत खराब होगई थी। सांसलेने में तकलीफहोने पर उन्‍हें 28 मई कीरात को दिल्‍ली केसर गंगाराम अस्‍पताल मेंभर्ती कराया गयाथा।

करीब एकहफ्ते तक चलेइलाज के बादचार जून कोवह डिस्‍चार्जहुए थे। तबउनसे मिलने सपाअध्‍यक्ष औरपूर्व मुख्‍यमंत्रीअखिलेश यादव भीगए थे। उसकेबाद 3 अगस्‍तको फिर आजमखां की तबीयतखराब हो गई।उन्‍हें सांसलेने में समस्‍या हुईतो उन्‍हेंलखनऊ के मेदांताअस्‍पताल में भर्तीकराया गया। जहांडाक्‍टरों नेउन्‍हें निमोनियाबताते हुए क्रिटिकलकेयर यूनिट मेंरखा। करीब नौदिन तक चलेइलाज के बादवह अस्‍पतालसे पूरी तरहस्‍वस्‍थहोकर डिस्‍चार्जकिए गए थे।

12 सितंबर की रातको एक बारफिर उनकी तबीयतबिगड़ी तो उन्‍हें दिल्‍ली केसर गंगाराम अस्‍पताल मेंभर्ती कराया गया।इस बार डाक्‍टर नेदिल की नसब्‍लाक होनेकी जानकारी दी। एंजियोप्‍लास्‍टीकर उनके स्‍टंट डालागया। अब उनकीहालत स्थिर है।आजम खां केसाथ उनकी पत्नीपूर्व सांसद डा.तजीन फात्मा, बेटे विधायक अब्दुल्लाआजम और बड़ेबेटे अदीब आजमउनके पास हीदिल्ली में हैं।

आजम खांके मीडिया प्रभारीफसहात अली खांशानू ने बतायाकि आजम खांकी तबियत काफीदिनों से खराबचल रही है।उन्होंने कई अस्पतालोंमें इलाज करायाहै। पांच दिनपहले भी दिल्लीमें जांच कराईगई। तीन दिनपहले उन्हें रिपोर्टमिली, जिसमें पतालगा कि उनकीदिल की एकनस ब्लाक है।इस पर सोमवारकी शाम उन्हेंदिल्ली के सरगंगाराम अस्पताल में भर्तीकराया गया।

कोरोना के कारणडेढ़ माह रहेथे अस्‍पतालमें

आजम खांपिछले साल जेलमें बंद होनेके दौरान बीमारहो गए थे।उन्‍हें कोरोनाहुआ था। उसकेबाद करीब डेढ़माह तक लखनऊके मेदांता अस्‍पताल मेंभर्ती रहे थे।इलाज के दौरानउनके फेफड़ों मेंसंक्रमण बढ़ गयाथा। पूरीतरह से ठीकहोने के बादउन्‍हें‍ फिरजेल भेज दियागया था।

दाढ़ निकलवानेके चलते नहींबोल पा रहेअब्‍दुल्‍ला

आजम खांकी फिर सेतबियत खराब होनेपर समर्थकों मेंबेचैनी है। एक-दूसरे से हाल-चाल जाननेकी कोशिश कररहे हैं। अब्दुल्लाआजम की भीएक दाढ़ निकालीगई है। इसकारण उन्हें बातकरने में भीदिक्कत हो रहीहै। डाक्टरों नेउन्हें बात नकरने की सलाहदी है।

0 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0