google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

भाजपा ने जारी किया लोक कल्याण संकल्प पत्र 2022, जाने प्रमुख बिंदु


लखनऊ, 8 फरवरी 2022 : भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश में दस फरवरी से सात चरण में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए मंगलवार को अपना लोक कल्याण संकल्प पत्र (घोषणा पत्र) जारी कर दिया है। गृह मंत्री अमित शाह के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य व डा. दिनेश शर्मा, भाजपा उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, केन्द्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर तथा कैबिनेट मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में जन कल्याण संकल्प पत्र जारी किया। भाजपा ने अपने इस लोक कल्याण पत्र में सभी वर्ग के साथ सभी क्षेत्र पर फोकस किया है। किसान, महिला, गरीब, बुजुर्ग का ध्यान रखने के साथ युवा और छात्र-छात्राओं के हित पर भी फोकस किया गया है।

भाजपा के जन कल्याण संकल्प पत्र के कुछ प्रमुख एलान

कानून-व्यवस्था पर फोकस

  • सभी 18 मंडलों में एंटी करप्शन ऑर्गनाइजेशन यूनिट स्थापित करेंगे।

  • मेरठ में कोतवाल धन सिंह गुर्जर अत्याधुनिक पुलिस ट्रेनिंग सेंटर।

  • लव जेहाद पर दस वर्ष की जेल और एक लाख रुपया जुर्माना।

  • मेरठ, रामपुर, आजमगढ़, कानपुर और बहराइच में एंटी-टेररिस्ट कमांडो सेंटर।

  • प्रत्येक पुलिस स्टेशन में साइबर हेल्प डेस्क।


रोजगार, स्वास्थ्य पर संकल्प में क्या

  • हर परिवार में कम से कम एक रोजगार या स्वरोजगार का अवसर देंगे।

  • प्रदेश की सभी विभागीय रिक्तियां भरने के लिए प्रतिबद्ध।

  • प्रतियोगी परीक्षा के लिए मुफ्त कोचिंग।

  • दो करोड़ टैबलेट या स्मार्टफोन बांटेंगे।

  • प्रत्येक ग्राम पंचायत में जिम व खेल मैदान।

  • लाइफ सपोर्ट से लैस एंबुलेंस की संख्या दोगुना करेंगे।

  • प्रत्येक जिले में डायलिसिस केन्द्र।

  • एमबीबीएस की सीटें दोगुना।

  • 6000 डॉक्टर और 10 हजार पैरा मेडिकल स्टाफ की नियुक्ति।


संकल्प पत्र में किसानों के लिए क्या

  • किसानों को सिंचाई के लिए मुफ्त बिजली।

  • 5 हजार करोड़ की लागत से कृषि सिंचाई योजना।

  • 25 हजार करोड़ की लगात से सरदार पटेल एग्री-इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन।

  • आलू, टमाटर, प्याज जैसी सभी फसलों का न्यूनतम मूल्य देने के लिए एक हजार करोड़।

  • गन्ना किसानों को 14 दिन के अंदर भुगतान, देरी होने पर ब्याज सहित भुगतान।

  • निषादराज बोट सब्सिडी योजना।


महिलाओं के लिए क्या

  • कालेज जाने वाली हर मेधावी छात्रा तथा कार्यालय जाने वाली महिला को मुफ्त स्कूटी।

  • उज्जवला के सभी लाभार्थी को होली और दीपावली में दो मुफ्त एलपीजी सिलेंडर।

  • कन्या सुमंगला योजना को 15 हजार से बढ़ाकर 25 हजार।

  • गरीब परिवार की बेटियों के विवाह के लिए एक लाख रुपये की आर्थिक मदद।

  • मिशन पिंक टॉयलेट के लिए 1000 करोड़।

  • हर विधवा और निराश्रित महिला को 1500 रुपये प्रति माह का पेंशन।

  • तीन नई महिला पीएसी बटालियन।

  • सभी सार्वजनिक स्थानों और शैक्षणिक संस्थानों में सीसीटीवी कैमरे और 3000 पिंक पुलिस बूथ।

  • 5 हजार करोड़ की लागत से अवन्ति बाई लोधी स्वयं सहायता समूह मिशन की शुरुआत।

  • यूपीपीएससी समेत सभी सरकारी नौकरियों में महिलाओं की संख्या दोगुनी।

  • एक करोड़ महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए एक लाख रुपय तक का न्यूनतम दर पर लोन।

  • 60 साल से अधिक उम्र की महिलाओं के लिए मुफ्त यात्रा।

  • महिला एथलीटों को पांच लाख रुपये तक की आर्थिक मदद।

  • सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं स्वास्थ्य सखियों को आयुष्मान भारत के अंतर्गत स्वास्थ्य बीमा प्रदान करेंगे।


छात्रों के लिए क्या

  • हर मंडल में एक यूनिवर्सिटी

  • अलीगढ़ में राजा महेंद्र प्रताप सिंह यूनिवर्सिटी

  • आजमगढ़ में महाराजा सुहेलदेव यूनिवर्सिटी

  • सहारनपुर में मां शाकुम्भरी देवी यूनिवर्सिटी

  • लखनऊ में यूपी इंस्टीट्यूट ऑफ पुलिस एंड फॉरेंसिक साइंस

  • अयोध्या में आयुष शैक्षिणक संस्थान

  • गोरखपुर में गुरु गोरक्षनाथ आयुष यूनिवर्सिटी

  • प्रयागराज में डॉ. राजेंद्र प्रसाद नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी और मेरठ में मेजर ध्यानचंद स्पोर्टस यूनिवर्सिटी का काम पूरा करेंगे।

विकास के पथ पर ले जाने वाली योजनाएं

  • पांच विश्व स्तरीय एक्जीबिशन और अत्याधुनिक कन्वेंशन सेंटर।

  • तीन अत्याधुनिक डाटा सेंटर पार्क।

  • कानपुर में मेगा लेदर पार्क।

  • दस लाख रोजगार और स्वरोजगार के मौके दिए जाएंगे।

  • बाबूजी कल्याण सिंह ग्राम उन्नत योजना।

  • वाराणसी, मिर्जापुर और चित्रकूट में रोप-वे सेवा।

  • 2000 नई बसों के माध्यम से सभी गांवों में बस की सुविधा।

  • पूरे प्रदेश में गरीबों के भोजन के लिए अन्नपूर्णा कैंटिन।

  • काशी, मेरठ, गोरखपुर, बरेली, झांसी और प्रयागराज में मेट्रो।

  • मछुआरा समुदाय के लिए नदियों के पास लाइफ गार्ड की नियुक्ति।

  • राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय की स्थापना।

  • ईडब्लूएस कल्याण बोर्ड का गठन।

  • सभी निर्माण श्रमिकों को मुफ्त जीवन बीमा।

  • दिव्यांग और वरिष्ठ नागरिकों को अब 1500 रुपये प्रतिमाह पेंशन।

  • महर्षि वाल्मीकि का चित्रकूट में, संत रविदास का बनारस में, निषादराज गुह्रा का श्रृंग्वेरपुर में और डॉ भीम राव अम्बेडकर की स्मृति में सांस्कृतिक केंद्र की स्थापना।

4 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0