google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

भाजपा को बिना शर्त समर्थन देगा बिहार का ये राजनीतिक दल, योगी को बड़ी राहत


लखनऊ, 4 जनवरी 2022 : उत्‍तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में एनडीए का एक सहयोगी बिना शर्त भाजपा को समर्थन देने के लिए तैयार हो गया है। बिहार में एनडीए के घटक सभी दल यूपी के चुनाव में दो-दो हाथ करने के लिए तैयार हैं। सबका फंडा साफ है कि अगर भाजपा उनके मन लायक सीटें गठबंधन के तहत लड़ने को देती है, तो ठीक, वर्ना खुद अपने दम पर भाजपा के खिलाफ ही खम ठोकेंगे। यूपी चुनाव को लेकर जदयू और भाजपा के बीच सीटों के बंटवारे पर बात चल रही है। पार्टी कह चुकी है कि गठबंधन में या गठबंधन से बाहर, हर हाल में यूपी का चुनाव लड़ेंगे।

विकासशील इंसान पार्टी के अध्‍यक्ष मुकेश सहनी तो गठबंधन की बात नहीं बनने के बाद यूपी में अकेले दम पर चुनाव लड़ने की पूरी तैयारी कर चुके हैं। वे यूपी में भाजपा के विरोधियों से भी हाथ मिलाने के लिए तैयार दिख रहे हैं। इस बीच एक पार्टी ने घोषणा कि है कि वे बिना शर्त भाजपा के लिए चुनाव प्रचार करेंगे।

मचल रहा जीतन राम मांझी का भी मन


बिहार में एनडीए का हिस्‍सा हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा ने अभी तक यूपी चुनाव के लिए कोई खास तैयारी नहीं की है, लेकिन पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जीतन राम मांझी का मन भी अब मचलने लगा है। उन्‍होंने पिछले दिनों कहा कि उन्‍हें भी यूपी के चुनाव के लिए बुलावा आ रहा है। वे यूपी जाकर अपनी पार्टी के लिए संभावना तलाशेंगे। राजनीति के जानकार मानते हैं कि मांझी को यूपी में बुलावा देने वाला कोई और नहीं बल्कि वीआइपी के अध्‍यक्ष और बिहार सरकार के मंत्री मुकेश सहनी हैं। यूपी में भाजपा की ओर से भाव नहीं मिलने से सहनी नाराज हैं। यूपी में इस पीड़ा को वे खुलेआम तो बिहार में थोड़े संयमित तरीके से जाहिर करते रहते हैं। उनकी कोशिश है कि मांझी के साथ मिलकर यूपी में भाजपा की चुनौती अधिक बढ़ा सकते हैं।


पशुपति पारस ने की बिना शर्त समर्थन की घोषणा


राष्‍ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी के अध्‍यक्ष और केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस ने कहा कि वे यूपी चुनाव में अपने गठबंधन सहयोगी के पक्ष में प्रचार करने जरूर जाएंगे। उन्‍होंने कहा कि उनकी पार्टी यूपी में चुनाव लड़े या नहीं लड़े, इससे फर्क नहीं पड़ता है। उनके गठबंधन की पार्टी यूपी में चुनाव लड़ रही है तो वे प्रचार करने और वोट मांगने जरूर जाएंगे। आपको बता दें कि बिहार के एनडीए के सहयोगी मुकेश सहनी यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ और उनकी सरकार पर लगातार हमलावर हैं। ऐसे में पशुपति पारस अगर भाजपा के पक्ष में वोट मांगते हैं, तो भाजपा जरूर ही राहत महसूस करेगी। अगर जदयू के साथ भाजपा का तालमेल बन जाता है तो बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार भी एनडीए के लिए वोट मांगने जा सकते हैं।

13 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0