google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

बीजेपी विधायक सतीश महाना कल संभालेंगे विधानसभा अध्यक्ष की कुर्सी, विपक्ष का भी समर्थन


लखनऊ, 28 मार्च 2022 : उत्तर प्रदेश की योगीआदित्यनाथ सरकार 1.0 में कैबिनेटमंत्री रहे भारतीयजनता पार्टी केवरिष्ठ नेता सतीशमहाना अब विधानसभाअध्यक्ष की कुर्सीसंभालेंगे। पूर्व कैबिनेट मंत्रीसतीश महाना पंडितह्रदय नारायण दीक्षितकी जगह लेंगे।



कानपुर के महाराजपुरसे लगातार आठवींबार विधायक चुनेगए विधानसभा अध्यक्षपद के लिएभाजपा के वरिष्ठनेता 62 वर्षीय सतीश महानाका निर्विरोध निर्वाचितहोना तय है।विधानसभा अध्यक्ष पद केलिए नामांकन पत्रजमा करने कीसमय सीमा सोमवारदोपहर दो बजेसमाप्त हो गई।निर्धारित समय सीमातक सिर्फ महानाका नामांकन पत्रही प्रमुख सचिवविधानसभा के कार्यालयमें जमा हुआहै। लिहाजा विधानसभाअध्यक्ष पद परसतीश महाना केनिर्वाचन की घोषणाऔपचारिकता रह गईहै।



विधानसभा अध्यक्षके निर्वाचन कीघोषणा मंगलवार दोपहरतीन बजे कीजाएगी। माना जारहा है किविपक्ष का भीमहाना को पूरासमर्थन है। महानाने सीएम योगीआदित्यनाथ की मौजूदगीमें अपना नामांकनपत्र दाखिल किया।विपक्षी दलों नेभी सतीश महानाको समर्थन दियाहै। जनसत्ता दललोकतांत्रिक के अध्यक्षरघुराज प्रताप सिंह उर्फराजा भैया केसाथ उनकी पार्टीके विधायक विनोदकुमार ने भीसतीश महाना कासमर्थन किया है।



योगी आदित्यनाथसरकार 2.0 के मंत्रियोंकी सूची मेंसतीश महाना कानाम नहीं था।इसी के बादसे कयास लगरहे थी किउनको विधानसभा अध्यक्षका पद मिलेगा। 1991 से लगातार विधायक निर्वाचितहो रहे महानाको भाजपा नेसम्मानजनक पद दियाहै। पंडित ह्रदयनारायण दीक्षित की जगहलेने वाले पूर्वकैबिनेट मंत्री सतीश महाना 1991 से लगातार विधानसभा चुनावजीत रहे हैं। 2022 के विधानसभा चुनाव मेंवह आठवीं बारविधायक बने हैं।

सतीश महानाका राजनीतिक सफर

योगी आदित्यनाथसरकार 1.0 में कैबिनेटमंत्री। औद्योगिक विकास मंत्रीथे।

- कानपुर से लगातारआठ बार विधायक।पांच बार कानपुरकैंट तथा तीनबार महाराजपुर विधानसभाक्षेत्र।

- बीएससी तक कीशिक्षा।

- वह नगरविकास राज्यमंत्री, खादी, ग्रामीण उद्योग, टेक्सटाइल, एमएसएमई, निर्यात प्रोत्साहन मंत्री भीरह चुके हैं।

- पहला चुनाव 1991 में वह कैंटविधानसभा क्षेत्र से थे।

- 1993, 1996, 2002, 2007 में कैंट विधानसभासीट से हीचुनाव जीते।

- 2012, 2017 तथा 2022 के चुनावमें वह महाराजपुरसे जीते।

4 views0 comments