google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

चोरी करने आए थे गांव में भैंस, पुलिस से हो गई मुठभेड़


बिल्सी, 18 मार्च 2023 : थाना क्षेत्र में चोरी, भैंस चोरी और गोकुशी जैसी वारदातों के दाग को बिल्सी पुलिस ने मुठभेड़ में एक भैंस चोरी के आरोपित को गिरफ्तार मिटाने का प्रयास किया है। पुलिस ने मुठभेड़ में एक आरोपित को पैर में गोली मारकर गिरफ्तार किया है, जबकि उसके तीन साथी फरार बताए जा रहे हैं।

पुलिस ने चिकित्सकीय परीक्षण कराने के बाद शुक्रवार शाम को उसे जेल भेज दिया है। हांलांकि पुलिस की इस मुठभेड़ की कहानी पर कई सवाल भी उठ रहे हैं। बिल्सी पुलिस के मुताबिक गुरुवार रात थाना क्षेत्र के गांव रिसौली निवासी गोपाल सिंह के द्वारा सूचना मिली कि दो चोर उनकी दो भैंस को चुरा कर ले गए हैं। उनके पास अवैध असलाह भी है। इस पर पुलिस घेराबंदी करते हुए मौके पर पहुंची और भैंस चोरों की तलाश शुरू कर दी।

इसी दौरान रिसौली से उझानी को जाने वाले रास्ते दो भैंस को चार लोग ले जाते दिखाई दिए। जिन्हें रोकने का पुलिस ने प्रयास किया तो उन्होंने पुलिस पर फायर कर दिया। लेकिन पुलिस ने खुद को बचाते हुए उन्हें फिर रुकने और भैंस पुलिस के सुपुर्द करने की चेतावनी दी गई तो बदमाशों ने फिर फायरिंग कर दी। इस पर पुलिस ने आत्मरक्षा में बदमाशों पर फायर किया तो एक बदमाश के पैर में गोली लग गई, जिससे वह घायल हो गया।

इस दौरान तीन बदमाश अंधेरे का फायदा उठाते हुए फरार हो गए। पुलिस ने घायल बदमाश के कब्जे से एक तमंचा व दो जिंदा कारतूस व एक खोखा बरामद किया। वहीं पास में दोनों भैंस भी मिल गईं। पुलिस ने बदमाश से पूछताछ की तो उसने अपना नाम बिल्सी थाना क्षेत्र के गांव खैरी निवासी भूरा बताया। इसके अलावा फरार आरोपितों के नाम खैरी निवासी रिहान, सलमान, ईशाक बताए। पुलिस उन तीनों की तलाश कर रही है। वहीं घायल भूरा काे पहले सीएचसी बिल्सी में भर्ती कराया, फिर वहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। देर शाम उसे कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया।

एसपी देहात अजय प्रताप ने कहा कि बिल्सी पुलिस ने भैंस चोरी की सूचना पर एक आरोपित को मुठभेड़ में गिरफ्तार किया है। उससे तमंचा, कारतूस और भैंस बरामद की गई है। उसे जेल भेज दिया गया है। शेष तीन आरोपितों की तलाश जारी है।

3 views0 comments
bottom of page