google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

चीन के खिलाफ भारत की “आम जनता” को चलानी है ये “मिसाइल”



चीन भारत के खिलाफ सिर्फ लाठी, पत्थर, तोप, गोला ,बारुद से ही युद्ध की तैयारी नहीं कर रहा बल्कि अब उसने सोशल मीडिया से भी जंग छेड़ दिया है।


चीन ने अपनी 'मिसाइल' ग्‍लोबल टाइम्‍स को मोर्चे पर लगा दिया है।


ग्‍लोबल टाइम्‍स ने पिछले एक महीने में सैकड़ों ट्वीट करके न केवल भारत के खिलाफ बल्कि अमेरिका, ऑस्‍ट्रेलिया और ताइवान के खिलाफ मनोवैज्ञानिक युद्ध छेड़ रखा है। चीन की बिना गोली चलाए ही युद्ध को जीतने की रणनीति रही है। इस रणनीति को अमल में लाने का काम चीन के सरकारी समाचार पत्र ग्‍लोबल टाइम्‍स को दिया गया है। लद्दाख में तनाव के बाद चीन की प्रोपेगेंडा मशीन ग्‍लोबल ने भारत के खिलाफ एक तरीके से मनोवैज्ञानिक युद्ध छेड़ दिया है।


ग्‍लोबल टाइम्‍स के जरिए करती है दुष्‍प्रचार की चीन सरकार


भारत-चीन तनाव शुरू होने के बाद पिछले एक महीने में ग्‍लोबल टाइम्‍स ने दर्जनों की संख्‍या में ऐसी खबरें लिखी हैं और वीडियो जारी किए हैं जिससे चीन की ताकत को बढ़ा चढ़ाकर पेश किया जाए और भारत को कमजोर साबित किया जाए। ग्‍लोबल टाइम्‍स पहले चीन सरकार के दावे को व‍िशेषज्ञ के हवाले से कहता है और फिर सरकार भी उसको दोहराती है।


गलवान घाटी में पहले हुआ प्राक्सीवॉर


गलवान घाटी में सीमा विवाद शुरू होने के बाद ग्‍लोबल टाइम्‍स ने सबसे पहले दावा क‍िया क‍ि भारत के नियंत्रण वाली गलवान वैली चीन की है। गलवान घाटी चीन का इलाका है और भारत जानबूझकर वहां विवाद पैदा कर रहा है। भारत गलवान में चीन के इलाके में अवैध तरीके से डिफेंस फैसिलिटीज का निर्माण कर रहा है। इस कारण चीन की सेना के पास इसका जवाब देने के अलावा कोई चारा नहीं है। इसके बाद से चीन सरकार अब लगातार दावा कर रही है कि यह इलाका उसका है। इसी गलवान वैली में भारत और चीन के बीच सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई थी जिसमें भारत के 20 जवान शहीद हो गए।


प्रोपेगेंडा वीडियो अटैक


चीन का ग्‍लोबल टाइम्‍स लगातार चीनी सेना के युद्धाभ्‍यास के वीडियो पोस्‍ट कर रहा है। उसका दावा किया है कि ये वीडियो तिब्‍बत में भारतीय सीमा के पास किए गए हैं। दावा किया जा रहा है कि चीनी सेना ने अत्‍याधुनिक हथियार तैनात किए हैं कि उसका जवाब किसी देश के पास नहीं है। उसका दावा है कि ये हथियार पहाड़ों में जंग लड़ने के लिए बेहद कारगर हैं।

भारत-चीन में सीमा पर जारी तनाव के बीच भारत के सख्‍त रुख के बाद अब चीनी मीडिया ने पाकिस्‍तान और नेपाली सेना की धमकी दी है। चीन के सरकारी समाचार पत्र ग्‍लोबल टाइम्‍स ने कहा कि भारत का चीन के साथ पाकिस्‍तान और नेपाल के साथ सीमा विवाद चल रहा है। भारतीय सेना को दो या तीन मोर्चो पर दबाव का सामना करना पड़ सकता है।

अमेरिका, ऑस्‍ट्रेलिया और ताइवान के खिलाफ 'जंग'


ग्‍लोबल टाइम्‍स ने न केवल भारत के खिलाफ बल्कि चीन का जोरदार विरोध कर रहे अमेरिका, ऑस्‍ट्रेलिया और ताइवान के खिलाफ भी 'जंग' छेड़ रखी है। हांग कांग को लेकर चल रहे अमेरिकी विरोध के बाद ग्‍लोबल टाइम्‍स ने मोर्चा खोल दिया है। यही नहीं ग्‍लोबल टाइम्‍स ऑस्‍ट्रेलिया और ताइवान को भी डराने में लगा हुआ है।

शायद चीन इस मामले में भी भारत को लेकर अब तक धोखे में हैं। पहली बात तो भारत की आम जनता प्रोपेगेंडा वार में उलझती नहीं है और अगर उलझ गई तो भारत का बच्चा बच्चा जानता है कि सोशल मीडिया पर उसे चीन को किस तरह जवाब देना है।


टीम स्टेट टुडे

24 views0 comments
bottom of page