google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

सीएम योगी बोले- हमारी सरकार ने दूर कराया पहचान का संकट


लखनऊ, 4 जुलाई 2022 : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को प्रदेश में अपनी सरकार के सौ दिन के कार्यकाल का रिपोर्ट कार्ड पेश किया। लोक भवन में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में सीएम योगी आदित्यनाथ ने पिछली सरकारों तथा अपनी सरकार की कार्यकाल की तुलना भी की। इस दौरान उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि देश तथा विशेष में अब उत्तर प्रदेश की पहचान का संकट दूर हो गया है। उत्तर प्रदेश अब विशिष्ट प्रदेश बन गया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम सभी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश 2017 के पहले परिवारवाद जातिवाद दंगों और अराजकता के लिए जाना जाता था। उत्तर प्रदेश के अंदर एक बड़ी अजीब सी स्थिति थी, पहचान का संकट था। उत्तर प्रदेश में 2017 के पहले 2014 से केन्द्र में सत्ता संभालने वाली नरेन्द्र मोदी की सरकार की अधिकांश कल्याणकारी योजनाओं को रोका जाता था। राज्य सरकार उनको लागू करने की इच्छाशक्ति नहीं रखती थी। इसके विपरीत बीते पांच वर्ष में हमारी सरकार ने उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था की बेहतर कायम कर, माहौल ही बदल दिया है। इस दिशा में जो प्रयास किए हैं, उससे देश की जनता के बीच में उत्तर प्रदेश को लेकर नजरिया ही बदल गया है। लोगों का विश्वास बढ़ा है और रोजगार का संकट दूर हो रहा है। आम जनमानस में एक विश्वास पैदा हुआ और उत्तर प्रदेश के बारे में लोगों की धारणाएं बदली हैं। इसी कारण यहां पर निवेश के अनेक संभावनाओं ने आगे बढ़कर के प्रदेश के विकास को नई ऊंचाइयों देना प्रारंभ कर दिया। निवेश की संभावनाओं ने रोजगार के नई संभावनाएं पैदा की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में हमारी सरकार ने अपराध और अपराधियों के ऊपर प्रभावी ढंग से नियंत्रण किया। संगठित गिरोह के साथ अपराधियों को या तो जेल भेजा या फिर मुठभेड़ में ढेर किया। हमारी सरकार ने माफिया और अपराधियों की करोड़ों की संपत्ति को जब्त किया। अपनी उस प्रतिबद्धता को हमने सबके सामने प्रस्तुत किया है। उन्होंने कहा कि पहली बार प्रदेश में अवैध स्टैंड टैक्सी स्टैंड आदि हटाए गए। 68700 से अधिक अतिक्रमण स्थल थे जो सड़कों पर थे उन्हें हटाया गया। 76000 से अवैध पार्किंग स्थल भी मुक्त किए गए। धर्म स्थलों से भी माइक हटाया गया। जिससे कि लोगों को अनावश्यक शोरगुल से मुक्ति मिले। 74020 से अधिक लाउडस्पीकर हटाए गए या फिर उनकी वॉल्यूम को कम किया गया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने तय किया था कि प्रदेश में ईद पर अलविदा की नमाज या फिर के राम नवमी पर कोई भी कार्यक्रम सड़क पर नहीं होगा। हम इसके क्रियान्वयन में सफल भी रहे। सभी कार्यक्रम शांतिपूर्ण तरीके से सभी कार्यक्रम संपन्न हुए। अलविदा की नमाज मस्जिदों में हुई। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में हमने बालिका तथा महिलाओं के प्रति अपराध को भी काफी कम किया। पोक्सो एक्ट के अंतर्गत भी प्रभावी कार्रवाई करते हुए महिलाओं और बालिकाओं के प्रति अपराधों करने वालों को ना केवल सजा दिलाई गई बल्कि कटघरे में खड़ा किया गया।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमने प्रदेश में पांच वर्ष में कानून का राज स्थापित किया, जिसको अब आगे भी बढ़ा रहे हैं। हमारी अपराध और अपराधियों के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति जारी है। हमने बीते सौ दिन में अपराधियों की 847 करोड़ की सम्पत्ति जब्त की है। प्रदेश में हम आज हर तहसील में अग्निशमन केन्द्र केंद्र की स्थापना की ओर अग्रसर है। हमको विश्वास है कि यह कार्य दो वर्ष में पूरा हो जाएगा। प्रदेश की जीडीपी में दोगुनी वृद्धि हुई है तो प्रति व्यक्ति आय भी काफी बढ़ी है। इतना ही नहीं प्रदेश का बजट भी दोगुना हो गया है।

1 view0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0