google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

CoronaVirus: 24 घंटे में सामने आए 3390 नए मामले, कौन आ रहा है विदेश से, क्या कोरोना बढ़ेगा जून में?



भारत समेत पूरी दुनिया इन दिनों कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रकोप का सामना कर रही है।

देश में पिछले 24 घंटे में 3390 नए केस कोरोना (COVID-19) के दर्ज किये गए हैं. साथ ही 1273 मामले ठीक भी हुए हैं. यह जानकारी स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने शुक्रवार को एक प्रेस कांफ्रेंस में दी।

लव अग्रवाल ने बताया कि रिकवरी रेट बढ़कर 29.36 प्रतिशत हो चुकी है.


प्रेस कांफ्रेंस की मुख्य बातें…

चार मई से लगातार लॉकडाउन के नियमों के पालन के साथ राहत देने का प्रयास किया जा रहा है. रेलवे ने 222 ट्रेन चलाई और 2.5 लाख लोगों को गंतव्य तक पहुंचाया.


केवल asymptotic यात्रियों को ही विदेशों से भारत लाया जाएगा. संस्थागत क्वारंटीन का खर्च देना होगा.


विदेश जाने वालों के लिए एक SOP बनाई गई है. एक अंतरमंत्रालयी समिति एसओपी लागू कराएगी.


मालदीव भारतीय नौसेना का जहाज पहुंच गया है. वह कल भारतीयों को वापस लेकर आएगा.


OCI कार्डधारक किसी भी अवधि तक भारत में रहने के लिए वैध हैं. ये भारत आने के लिए संबंधित देश के दूतावास में संपर्क कर सकते हैं.


पिछले 24 घंटे में 3390 नए केस कोरोना के दर्ज किये गए हैं.


दो पॉजिटिव केस रेलवे कोच में एक साथ रखे जा सकते हैं.


Icmr प्लास्मा का क्लिनिकल ट्रायल 21 हॉस्पिटल में करेगा. कोरोना के इलाज में आयुर्वेद का इस्तेमाल करने की तरफ कदम बढ़ाया गया है.


राज्यों में सुविधाजनक आइसोलेशन के लिए होटल तथा अन्य स्थानों की व्यवस्था के लिए कहा गया है.


निर्वासित मजदूरों को उनके गंतव्य पर पहुंचने पर सावधानियाँ बरती जाएंगी. उसके लिए कदम उठाए गए हैं.


महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में कोरोना के मामलों में तेजी से बढ़ोत्तरी हुई है. राज्य और केंद्र मिलकर काम कर रहे हैं.


देश में 216 जिले ऐसे हैं जिनमें कोई मामला सामने नहीं आया है, 42 ऐसे जिले हैं जिनमें पिछले 28 दिन से कोई मामला नहीं मिला है. 29 ऐसे जिले हैं जिनमें पिछले 21 दिन से कोई मामला नहीं मिला है.


36 ऐसे जिले हैं जिनमें पिछले 14 दिन से कोई मामला नहीं मिला है और 46 ऐसे जिले हैं जिनमें पिछले 7 दिन से कोई मामला नहीं मिला है.


महाराष्ट्र सरकार की तरफ से उठाए गए कदमों से केंद्रीय समिति संतुष्ट, सीएम उद्धव ठाकरे ने समिति से मुलाकात की थी. धारावी का भी दौरा किया था समिति ने.


मुंबई के कुछ इलाकों में माइक्रो स्प्रेड नहीं है. धारावी बहुत घना क्षेत्र है, होम आइसोलेशन और क्वारंटीन संभव नहीं. यह सलाह समिति ने सीएम को दी. सीएम ने समिति को आश्वासन दिया कि वह जल्द केंद्रीय समिति के सुझावों को लागू करेंगे.


Rapid testing को ICMR परख रहा है, जल्द नई गाइडलाइंस जारी की जाएंगी.


स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह कहा


स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि अगर हम जरूरी सावधानियों को बरतेंगे और आवश्यक दिशानिर्देशों का पालन करेंगे तो हम कोरोना वायरस के मामलों को चरम में पहुंचने से रोक सकते हैं। उन्होंने कहा कि यदि हम आवश्यक सावधानी नहीं बरतते हैं और प्रक्रियाओं का पालन करते हैं, तो मामलों में तेजी आ सकती है।

क्या कहा था रणदीप गुलेरिया ने


एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने बताया कि जिस तरीके से ट्रेंड दिख रहा है, कोरोना के केस जून में पीक पर होंगे। हालांकि ऐसा बिल्कुल नहीं है कि बीमारी एक बार में ही खत्म हो जाएगी। हमें कोरोना के साथ जीना होगा। धीरे-धीरे कोरोना के मामलों में कमी आएगी। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के कारण फिर भी ये आंकड़े कम हैं वरना मामले बहुत ज्यादा बढ़ जाते। अस्पतालों ने लॉकडाउन में अपनी तैयारी कर ली है। डॉक्टर्स को प्रशिक्षण दिए गए हैं। पीपीई किट्स, वेंटिलेटर और जरूरी मेडिकल उपकरणों के इंतजाम हुए हैं। कोरोना की जांच बढ़ी है।


टीम स्टेट टुडे


Advt.

Advt.


25 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0