google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

सोनिया गांधी पर FIR, कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने CM येदियुरप्पा को केस वापस लेने के लिए लिखा पत्र



कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी पर एफआईआर के बाद कांग्रेस की बेचैनी बढ़ गई है।


कर्नाटक के शिमोगा जिले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। जिसके बाद से कांग्रेस पार्टी में हड़कंप मचा हुआ है। कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने इस एफआईआर के खिलाफ मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा को एक पत्र लिखा है। शिवकुमार ने आरोप लगाया है कि सोनिया गांधी पर गलत जानकारी के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया है। उन्होंने इसे तत्काल निरस्त करने की मांग की है।



कांग्रेस नेता ने की एफआईआर वापस लेने की मांग


कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने कहा कि बीजेपी के एक कार्यकर्ता द्वारा सोनिया गांधी के खिलाफ गलत जानकारी के आधार पर राजनीतिक मकसद से एफआईआर दर्ज कराई गई है। कांग्रेस के नेता डीके शिवकुमार तो इस कदर हमलावर हुए है कि उन्होने एफआईआर दर्ज करने वाले पुलिस अधिकारी को ही दोषी ठहरा दिया है। शिवकुमार ने एफआईआर दर्ज करने वाले पुलिस अधिकारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर उन्हें निलंबित करने की भी मांग की है।


Advt.

सोनिया पर मुकदमा दर्ज होने का कारण


कर्नाटक के शिमोगा जिले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ दर्ज एफआईआर में आरोप लगाया गया कि कांग्रेस पार्टी ने सोशल मीडिया पर केंद्र सरकार को लेकर गलत जानकारी फैलाई।


इस बात का भी जिक्र किया गया है कि 11 मई को कांग्रेस पार्टी की ओर से गलत दावे किए गए और केंद्र सरकार पर झूठे आरोप लगाए गए। इसमें प्रधानमंत्री केअर्स फंड से जुड़े कुछ आरोप लगाए गए, जो बिल्कुल गलत थे।


Advt.

धाराओं जिसमें दर्ज हुआ मुकदमा


केंद्र सरकार पर झूठे आरोप लगाने के मामले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ आईपीसी की धारा 153, 505 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। साथ ही एफआईआर में अपील भी की गई है कि सोनिया गांधी के खिलाफ कानूनी कार्यवाही होनी चाहिए। ये एफआईआर प्रवीण नामक एक स्थानीय वकील द्वारा दर्ज की गई है।


क्या किया था सोनिया और कांग्रेस ने


देश में कोरोना वायरस महामारी संकट के बीच कांग्रेस की तरफ से लगातार मोदी सरकार पर आरोपों-इल्जामों की बरसात की जा रही है। कांग्रेस नेता कभी बस चलाने की बात करते हैं। कभी केंद्र सरकार पर राज्य सरकारों के साथ सौतेले बर्ताव का आरोप लगाते हैं। कभी आरोग्य सेतु एप का विरोध करते हुए जानकारी डेटा लीक का आरोप लगाते हैं। कभी गरीब मजदूरों श्रमिकों का हवाला देकर लोगों को भड़काने का काम करते हैं। केंद्र सरकार की तरफ से कोरोना वायरस के खिलाफ चलाए जाने वाले किसी भी अभियान की हवा निकालने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं।

Advt.

PM केयर्स फंड की जानकारी सार्वजनिक करने की अपील


इसके साथ ही महामारी संकट के बीच प्रधानमंत्री केयर्स फंड की जानकारी सार्वजनिक करने की अपील की जा रही है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, नेता राहुल गांधी की तरफ से इस बारे में लगातार सोशल मीडिया के जरिए निशाना साधा जा चुका है। वहीं खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी चिट्ठी लिखी जा चुकी है।


टीम स्टेट टुडे

Advt.


36 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0