google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

ऊर्जा मंत्री के अधिकारियों को सख्त निर्देश, बोले- काम में ढिलाई व लापरवाही बर्दाश्त नहीं


लखनऊ, 25 मई 2022 : उत्‍तर प्रदेशमें विद्युत व्यवस्थामें सुधार वउपभोक्ताओं की विभिन्नशिकायतों, समस्याओं के निराकरणके लिए डिस्कामके सभी प्रबंधनिदेशकों ने जनसुनवाईकी। संभव पोर्टलके तहत उपभोक्ताओंकी समस्याओं कामौके पर हीनिस्तारण किया गया।जनसुनवाई में बिलिंग, मीटर खराब, विद्युतआपूर्ति, लो-वोल्टेज, ज्यादा बिल आनेव कनेक्शन आदिसे संबंधित शिकायतेंसुनी गई।

ऊर्जा मंत्री एकेशर्मा ने कहाकि प्रदेश मेंविद्युत की सुचारूव्यवस्था एवं उपभोक्ताओंकी समस्याओं कासमयबद्ध, गुणवत्तापूर्ण व संतोषजनकनिस्तारण के लिएसंभव पोर्टल केतहत जनसुनवाई निरंतरचलती रहेगी। इसकार्य में किसीप्रकार की ढिलाईव लापरवाही बर्दाश्तनहीं की जाएगी।उन्होंने कहा किसंभव पोर्टल परहर सोमवार कोजिलास्तर पर अधिशासीअभियंता सुबह 10 से 12 तकव सर्किल स्तरपर अधीक्षण अभियन्ताअपराह्न तीन सेपांच बजे तकजनसुनवाई करेंगे।

डिस्काम स्तर परप्रबंध निदेशक हर मंगलवारको प्रात: 10 से 12 बजे तक लोगोंकी समस्याएं सुनेंगेऔर मौके परनिस्तारण करेंगे। जिला, सर्किलऔर डिस्काम स्तरपर जिन शिकायतोंका निस्तारण नहींहो पायेगा, उनकेसमाधान के लिएमाह के तीसरेबुधवार को दोपहर 12 बजे से स्वयंऊर्जा मंत्री औरविभाग के उच्चाधिकारीसुनवाई करेंगे।

बता देंकि संभव काफुल फार्म सिस्टेमैटिकएडमिनिस्ट्रेटिव मैकेनिज्म फार ब्रिंगिंगहैपीनेस एंड वैल्यू...है। यहपोर्टल उनके दोनोंविभागों की योजनाओं, व्यक्तिगत जनशिकायतों, विभागीय मुद्दे, परियोजनाओं एवं कार्यक्रमोंकी सतत निगरानीकरेगा। दोनों विभागों मेंऊपर से लेकरनीचे तक केअधिकारियों व कर्मचारियोंकी जिम्मेदारी तयकी गई है।

शिकायतें ऊपर पहुंची तो खैर नहीं : मंत्री ने कहा कि स्थानीय, क्षेत्रीय एवं राज्य स्तर पर समन्वित कार्यक्रम शुरू किए जाने के पीछे भाव यह है कि जो शिकायत जहां प्राप्त हो, वहीं उसका निस्तारण होना चाहिए। शिकायत निस्तारण में विलंब या गैर जिम्मेदारी सिद्ध होने पर दंड की व्यवस्था तय की गई है। नीचे से बिना निस्तारण के शिकायतें राज्य स्तर पर पहुंची तो इसे लापरवाही माना जाएगा।

1 view0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0