google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

कॉफी शॉप पर मुलाकात... प्‍यार का इजहार


पुवायां (शाहजहांपुर), 22 अगस्त 2023 : विदेश घूमने के शौक ने यूपी के सुखजीत सिंह दक्षिणी कोरिया का दामाद और खास बना द‍िया। सुखजीत ने बीते शुक्रवार को कोर‍िया की क‍िम वोन हीं के साथ के शादी की और सात जन्‍मों तक साथ न‍िभाने का वादा क‍िया। आइए जानते हैं सुखजीत और क‍िम की लव स्‍टोरी कैसे और कब शुरू हुई।

सात साल पहले गए थे सुखजीत गए थे कोरिया

शाहजहांपुर के पुवायां तहसील क्षेत्र के गांव उदना निवासी बल्देव सिंह और हरजिंदर कौर की दो संतानों में बड़े बेटे सुखजीत सिंह को बचपन से ही विदेश घूमने का शौक था। कई बार वह नेपाल गए। विदेश जाने के लिए उन्होंने विविध देशों पर शोध किया। जापान व दक्षिणी कोरिया सर्वाधिक पसंद आया। प्रथम वरीयता में जापान जाने के लिए जापानी भाषा सीखी, लेकिन इसी बीच कोरिया का वीजा बनने पर वहां की कंपनी से बुलावा आ गया। सुखजीत 2016 में यहां से दक्षिणी कोरिया चले गए। वहां कॉफी शॉप पर काम शुरू कर दिया।

ऐसे शुरू हुई सुखजीत और क‍िम की Love Story

सुखजीत सिंह बताते हैं कोरिया पहुंचकर कोरियन भाषा सीख ली। चार साल पूर्व किम वोन नौकरी के लिए कंपनी आयी, जहां उनसे मुलाकात के बाद किम के स्वजनों से मिला। सुखजीत बताते हैं भारतीयों का कोरिया में बहुत सम्मान है। मेहनत व कार्य व्यवहार को सभी पसंद करते है। किम वोन से मुलाकात के बाद प्यार हो गया। चार साल तक लिव-इन रिलेशन में रहने के बाद भारत चला गया। किम वोन ही दिल्ली निवासी मित्र के साथ यहां आ गई। शुक्रवार को गुरुद्वारा में परंपरानुसार शादी हुई।

क‍िम वोन को खाने में पसंद हैं ये चीजें

सुखजीत की कोरियन दुल्हन को दक्षिणी कोरिया का मुख्य भोजन मछली समेत सी फूड है। सुखजीत सिंह की पत्नी किम वोन ही भी पूरी तरह मांसाहारी हैं, लेकिन यहां उन्हें चावल और नूडल्स सर्वाधिक पसंद है। सुखजीत ने बताया कि उनकी पत्नी ने यहां अभी तक नूडल्स ही बनाए हैं। भारतीय व्यंजन बनाने की विधि को सीख रही है। सुखजीत बताते हैं कि उनकी पत्नी किम वोन ही को सिर्फ कोरियन भाषा आती है। हिंदी, पंजाबी के कुछ शब्द ही बोल पाती है। इस कारण वह स्वयं दुभाषिये के रूप में संवाद में मदद करते है, लेकिन संकेतों की भाषा पूरी तरह समझ लेने की वजह से स्वजनों से संवाद में कोई असुविधा नहीं हो रही है। सुखजीत ने बताया कि बच्चे होने पर दक्षिणी कोरिया में बसने का मन बनाया है।


0 views0 comments

Comments


bottom of page