google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

जानिए राजनाथ सिंह ने क्यों कहा राजनीति छोड़ दूंगा


अमरोहा, 3 फरवरी 2022 : खराब मौसम के बीच भी रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह अमरोहा पहुंच गए। यहां नौगावां सादात के जब्दा गांव में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि इस बार लोगों को मदतान नहीं करना बल्कि यूपी का भविष्य तय करना है। सबसे बड़ा दान मतदान होता है। कोई व्यक्ति मतदान से न छूटे, इसका आप सभी को ध्यान रखना है। यूपी का भविष्य लिखने की जिम्मेदारी आपकी है। आपने दिल्ली में साढे़ सात साल तो यूपी में पांच साल काम करते भाजपा को देखा है। सपा, बसपा, कांग्रेस में भ्रष्टाचार रहा, उनके मंत्री जेल तक गए। भाजपा पर कोई भी भ्रष्टाचार साबित कर दे तो राजनीति छोड़ दूंगा।भ्रष्टाचार को लेकर राजनाथ सिंह ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का जिक्र किया। कहा-राजीव गांधी प्रधानमंत्री रहते हुए खुद भ्रष्टाचार से परेशान थे। वह सरकारी सिस्टम से परेशान थे।

मौसम का सीना चीरकर आया हूं अमरोहा

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का भाषण सुनकर जनसभा में आई जनता में जोश आ गया। लोगों ने नारेबाजी शुरू कर दी। इस पर रक्षामंत्री बोले-शांत रहो, फिर मैं कैसे बोलूंगा। बोले-मौसम खराब है। मौसम का सीना चीरकर आपके बीच आया हूं। भाजपा ने हर वर्ग का ध्यान रखा। महिलाओं को सुरक्षा दी। हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार की चुनौती स्वीकार किया। किसान सम्मान निधि सभी को पूरी मिलती है। छह हजार सीधे खाते में जा रहे हैं। उन्होंने भ्रष्टाचार को रोकने की कोशिश नहीं की, बल्कि पूरा सिस्टम ही बदल दिया। सपा, बसपा सरकार में गुंडे, माफिया, भ्रष्टाचारी के हौंसले बुलंद हो जाते हैं। सड़क पर घूमते हैं। हमारी सरकार में गुंडे सीने के बटन खोल कर सड़क पर नहीं आ सकते। कानून व्यवस्था दुरुस्त होना विकास की पहली शर्त होती है।

भाजपा आंखों में धूल नहीं झोंकती, आंख से आंख मिलकर करती है बात

रक्षामंत्री बोले, हमारे सरकार में गुंडे खुद थानों में पहुंच रहे हैं। जेल में हैं। गांव गरीब किसान, झुग्गी झोपड़ी का इंसान, महिलाओं का सम्मान व बेरोजगार नौजवान, हमने इन चारों बातों का ध्यान रखा है। अटल जी की सरकार में ही हमने सड़कों का विकास करना शुरू कर दिया था। केंद्र व प्रदेश सरकार ने सड़कों का जाल बिछाया है। सपा, बसपा व कांग्रेस ने जनता की आंखों में धूल झोकी है। भाजपा जनता की आंखों में आंखे डालकर बात करती है।

सपा के हालात हो चुके हैं खराब, अब ले रही लाल पोटली का सहारा

सपा के हालात इतने खराब हो चुके हैं कि वह लाल पोटली हाथ में लेकर घूम रहे हैं।अब उन्हें पोटली का सहारा है। प्रधानमंत्री ने आजादी के बाद किसान सम्मान निधि दी। किसानों का ध्यान रखा। महिलाओं का ध्यान किसी ने नहीं किया। हमारे प्रधानमंत्री ने ध्यान दिया। हर घर में गैस सिलिंडर देने का काम किया, पहले गांव में कच्चे मकान दिखाई देते थे। प्रधानमंत्री ने संकल्प लिया, तो हर सिर पर पक्की छत दी। महिलाएं पहले पानी लेने घर से बाहर जाती थीं। पीएम ने हर घर नल व जल पहुंचाया।

28 views0 comments
bottom of page