google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

आदेश गुप्ता दिल्ली बीजेपी के नए प्रदेश अध्यक्ष, मनोज तिवारी निपटे, सांसदों को भी सबक



बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने दिल्ली और छत्तीसगढ़ में पार्टी के नए प्रदेश अध्यक्षों के नाम का ऐलान किया है। दिल्ली में आदेश गुप्ता और छत्तीसगढ़ में विष्णुदेव साय को कमान सौंपी गई हैं।


दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद से ही बीजेपी आलाकमान दिल्ली के सांसदों से नाराज चल रहा था। एक पार्षद को दिल्ली बीजेपी का मुखिया बनाकर आला कमान ने सांसदों को उनकी हैसियत बताने की भी कोशिश की है। वैसे सतीश उपाध्याय और विजेंद्र गुप्ता भी पार्षद रहते अध्यक्ष रह चुके है।


Advt.

बनिया कोटे से जहां विजय गोयल और अनिल जैन, पंजाबी कोटे से आशीष सूद, देहात के कोटे से प्रवेश वर्मा से दिल्ली बीजेपी का मुखिया बनने का सपना देख रहे थे तो मनोज तिवारी को भी ब्राह्मण कोटे के सहारे अपनी कुर्सी बचने की उम्मीद थी लेकिन नड्डा ने सबके सपने चकनाचूर कर दिए।

आप को बताते हैं कि कौन हैं आदेश गुप्ता जिन्हें मनोज तिवारी की जगह पर दिल्ली बीजेपी का नया अध्यक्ष बनाया गया है।


दिल्ली के उत्तरी नगर निमग के रह चुके हैं मेयर


मनोज तिवारी की जगह लेने वाले आदेश गुप्ता वैसे तो दिल्ली की सियासत के कोई चर्चित या बड़े नाम नहीं रहे हैं। वह नॉर्थ एमसीडी के मेयर रह चुके हैं। गुप्ता पश्चिमी पटेल नगर से पार्षद हैं। अप्रैल 2018 में वह उत्तरी नगर निगम के मेयर बने थे।


Advt.

छत्रपति साहूजी महाराज यूनिवर्सिटी, कानुपर से बीएससी हैं गुप्ता


आदेश गुप्ता ग्रैजुएट हैं। उन्होंने 1991 में छत्रपति साहूजी महाराज यूनिवर्सिटी कानपुर से बीएससी की डिग्री हासिल की थी। उनका अब तक का राजनीतिक सफर बेदाग रहा है। चुनाव आयोग को दिए उनके चुनावी हलफनामे के मुताबिक उनके खिलाफ एक भी आपराधिक केस नहीं है। उन्होंने अपने पेशे को ठेकेदारी बताया है।

मूल रूप से यूपी के हैं आदेश गुप्ता


मूल रूप से यूपी के आदेश गुप्ता बीएससी करने के बाद नौकरी की तलाश में दिल्ली आ गए। काफी तलाश के बाद भी जब नौकरी नहीं मिली तो वह ट्यूशन पढ़ाने लगे। दो साल तक ट्यूशन पढ़ाने के बाद उन्होंने बिजनस शुरू करने का फैसला किया।

Advt.

कभी ट्यूशन पढ़ाकर किया गुजारा, बाद में शुरू की ठेकेदारी


शुरू में उन्होंने कॉस्मेटिक उत्पाद की ट्रेडिंग का काम शुरू किया, लेकिन उसमें भी नाकामी हाथ लगी। इसके बाद वह फिर से ट्यूशन पढ़ाने लगे। इसी दौरान उन्होंने सीपीडब्ल्यूडी में कॉन्ट्रैक्टर के लिए रजिस्ट्रेशन करा लिया और ठेकेदारी का काम शुरू कर दिया।

छात्र जीवन से ही बीजेपी की तरफ था गुप्ता का रुझान


ठेकेदारी में उन्हें कामयाबी मिलती चली गई। दिल्ली में अपना घर भी खरीद लिया। छात्र राजनीति में रुझान होने के कारण भारतीय जनता युवा मोर्चा में भी सक्रिय रहे। शुरू से ही बीजेपी में सक्रिय रहने के चलते 2017 में पटेल नगर से एमसीडी चुनाव का टिकट मिला और चुनाव जीत गए। बाद में वह नॉर्थ एमसीडी के मेयर भी बने।

टीम स्टेट टुडे


Advt.


25 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0