google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

एयरपोर्ट पर पर्स, लाइटर, लैपटॉप निकालने के लिए परेशान नहीं होंगे यात्री, जानि‍ए नया नियम


लखनऊ, 7 मई 2023 : एयरपोर्ट के बोर्डिंग काउंटर पर लगेज जमा कराते समय उसमें सामान के साथ पावर बैंक, लाइटर, ढीली बैटरी, लैपटाप, ई-सिगरेट और सूखा नारियल जैसी प्रतिबंधित वस्तुएं ले जाने वाले यात्रियों को अब परेशान नहीं होना पड़ेगा। उनको प्रतिबंधित सामान निकालने के लिए लेवल चार सिक्यूरिटी एरिया में नहीं जाना होगा।

वह वर्चुअल रीयूनियन रूम (वीआरआर) से आनलाइन कैमरों और कनेक्टिविटी से सामान बाहर निकलवा सकेंगे। चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के घरेलू टर्मिनल के गेट नंबर एक के पास वीआरआर की सुविधा का शुभारंभ रविवार को किया गया।

अब तक लखनऊ एयरपोर्ट पर इन-लाइन बैगेज होल्ड स्क्रीनिंग (ILHBS) के दौरान सामान में मिलने वाली प्रतिबंधित वस्तुओं को बाहर निकालने के लिए यात्रियों को लेवल-4 क्षेत्र में बुलाया जाता था। विशेषकर बुजुर्ग, दिव्यांग और बच्चों के साथ यात्रा करने वाली महिला यात्रियों को परेशान होना पड़ता था।

एयरपोर्ट प्रवक्ता ने बताया कि यात्री वर्चुअल रीयूनियन रूम से सहमति देकर आडियो-वीडियो प्रक्रिया से सुरक्षित तरीके से अपने सामान में से प्रतिबंधित वस्तु को निकलवा सकेंगे। सामान में ताला लगा होने पर एयरलाइन अधिकारी यात्री से चाभी लेकर जाएंगे। प्रत्यक्ष रूप से प्रतिबंधित वस्तु को निकालकर चाभी वापस यात्री को सौंपी जाएगी। इस प्रक्रिया के लिए एयरलाइंस के कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी जा रही है। प्रवक्ता ने बताया कि नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो के एक सर्वेक्षण के अनुसार यात्रियों के चेक-इन सामान में काफी संख्या में प्रतिबंधित वस्तुएं पाई जाती हैं। इस अवसर पर एएएचएल के सीईओ अरुण बंसल, लखनऊ एयरपोर्ट के मुख्य हवाई अड्डा अधिकारी राहुल भटकोटी, सीआइएसएफ कमांडेंट अजय सिंह भी उपस्थित थे।

0 views0 comments

Kommentarer


bottom of page