google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

बुलंदशहर में दो साधुओं की हत्या के बाद तनाव, मुख्यमंत्री ने दिए जांच के आदेश




उत्तर प्रदेश में कोरोना की वजह से चल रहे लॉकडाउन के बीच बुलंदशहर से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां मंदिर में सो रहे दो साधुओं की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई।


घटना बुलंदशहर के अनूपशहर कोतवाली की है। जानकारी के अनुसार अनूपशहर कोतवाली के अंतर्गत आने वाले गांव के शिव मंदिर के दो पुजारियों की देर रात हत्या हो गई। साधु जब सो रहे थे उसी समय उनपर धारदार चीज से वार किया गया जिससे उनकी मौत हो गई।


साधुओं की पहचान 55 वर्षीय जगनदास और 35 वर्षीय सेवादास के रूप में हुई है। मंगलवार सुबह जब ग्रामीण मंदिर पहुंचे तो साधुओं के लथपथ शव देखकर भड़क गए। देखते ही देखते मंदिर में सैकड़ों लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई।


इस बीच ग्रामीणों ने एक शख्स पर शक जताया। इसके बाद उसकी जबरदस्त पिटाई की गई। घटना की सूचना पाकर मौके पर पुलिस फोर्स पहुंच गई और आरोपी शख्स को अपनी कस्टडी में ले लिया। इसके साथ ही शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।


बुलंदशहर के एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने कहा कि प्रारंभिक जांच में पाया गया है कि कुछ दिन पहले आरोपी ने साधुओं के एक सामान (चिमटा) को छीन लिया था, जिसके बाद साधुओं ने उसे डांटा था। इससे नाराज होकर आरोपी ने दोनों साधुओं की हत्या कर दी। मामले की जांच की जा रही है।


बुलंदशहर की घटना सामने आते ही मामले पर सियासत भी शुरु हो गई। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हत्या की घटना का संज्ञान लिया है। उन्होने जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को तुरंत मौके पर पहुँच कर घटना के सम्बन्ध में विस्तृत आख्या देने तथा दोषियों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्यवाई सुनिश्चित करने निर्देश दिए हैं।

7 views0 comments

Comments


bottom of page