google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

महिला सशक्तिकरण को लेकर मायावती का बयान, कहा- कांग्रेस व भाजपा का रवैया दिखावटी


लखनऊ, 22 दिसंबर 2021 : बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने कहा कि महिलाओं के सशक्तिकरण के प्रति कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) गंभीर नहीं हैं। दोनों ही पार्टियों का रवैया ज्यादातर दिखावटी ही होता है, जबकि बसपा की सरकार में महिलाओं की सामाजिक, आर्थिक और शैक्षणिक आत्मनिर्भरता के लिए काफी प्रयास किए, जिन्हें अब विरोधी पार्टियां भुना रहीं हैं।


बसपा प्रमुख मायावती ने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि देश में लगभग आधी आबादी महिलाओं की है, लेकिन अभी भी वे काफी अधिकारों से वंचित हैं। महिलाओं को कानूनी अधिकार देकर सशक्त बनाने के लिए परमपूज्य बाबा साहेब डा. भीमराव अम्बेडकर का काफी योगदान रहा है और बहुजन समाज पार्टी उन्हीं के नक्शेकदम पर चलने वाली पार्टी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस व भाजपा आदि पार्टियों की महिलाओं के सशक्तिकरण के प्रति लगभग एक जैसी ही धारणा है।




बसपा अध्यक्ष मायावती ने आगे कहा कि कांग्रेस व भाजपा आदि पार्टियों का महिला सशक्तिकरण के प्रति रवैया ज्यादातर दिखावटी ही होता है, जबकि बीएसपी सरकार में महिलाओं की सामाजिक, आर्थिक व शैक्षणिक आत्मनिर्भरता हेतु काफी प्रयास किए। अब उन्हीं को विरोधी पार्टियां भुना रहीं हैं। उन्होंने कहा कि महिलाओं को सशक्त व आत्मनिर्भर बनाने में कांग्रेस की तरह भाजपा भी गंभीर नहीं है। लोकसभा व विधानसभा में उनके लिए 33 प्रतिशत आरक्षण का मामला वर्षों से लम्बित पड़ा होना इसका जीता-जागता प्रमाण है। उन्होंने कहा कि बसपा मांग करती है कि यह आरक्षण व्यवस्था जरूर लागू होनी चाहिए।



5 views0 comments

Kommentare


bottom of page