google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

'2024 में खाता भी नहीं खुलने वाला', विधानसभा में Yogi VS Akhilesh; किसने क्‍या कहा?


लखनऊ, 11 अगस्त 2023 : उत्तर प्रदेश विधान मंडल के मानसून सत्र का पांचवा द‍िन बेहद गहमा-गहमी भरा रहा। नेता विपक्ष अखिलेश यादव ने सरकार पर सवाल उठाए तो मुख्‍यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ भी पलटवार किया। आइए जानते हैं व‍िधानसभा में क‍िसने क्‍या कहा?

अखि‍लेश यादव ने क्‍या कहा? जानें बड़ी बातें

अखिलेश यादव ने शुक्रवार को सदन में कहा, "इतना बड़ा सपना दिखाया जा रहा है कि वन ट्रिलियन इकोनॉमी हो जाएगी। वन ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी बिना किसान की मदद के कैसे संभव है? बिना एग्रीकल्चरल सेक्टर को बेहतर किए कैसे संभव है?"

"नेता सदन प्रदेश को तो बाद में ठीक करेंगे, कोई गली ऐसी बता दो गोरखपुर की जिसमे पानी ना भरा हो। 6.5 साल से मुख्यमंत्री हैं और अपने शहर का जलभराव नहीं ठीक कर पा रहे, तो कोई कैसे उम्मीद करेगा कि प्रदेश में बाढ़ पर नियंत्रण होगा।"

अखि‍लेश ने सवाल क‍िया

"ये कहते थे कि किसान की आय दोगुनी करेंगे। क्या आपने आलू एक्सपोर्ट किया? मुझे लगता है कि दिल्ली और लखनऊ वाले इंजन टकरा रहे हैं। आप बात ही नहीं करना चाहते हैं टमाटर पर क्योंकि टमाटर की कीमत ने आपके चेहरे को लाल कर दिया।"

"जानें जा रही है कभी गुलदार से, टाइगर से, कुत्तों से और कभी सांड से। कितने गरीब और किसानों की जान जा चुकी है, सोचिए गुलदार (लेपर्ड) आपके खेतों में घूम रहा है। 7-8 महीने से लोगो की जान जा रही, किसान खेत में कैसे जाएंगे?"

"अगर मुख्यमंत्री जी फूल बरसाते हैं और प्रचार करते हैं, तो जिन लोगों की जान गई उनकी मदद क्यों नहीं करते? जिन कावड़ियों की जान गई मैं उन परिवारों से मिला हूं, सब किसान और गरीब हैं, क्या उनकी मदद नहीं होनी चाहिए?"

"बीजेपी बहुत कहती है परिवारवाद। परिवारवाद की शुरुआत नेता सदन आपने की, आप मुझसे पहले सांसद बने। आपको डबल लाभ मिला, आप सांसद भी बने और मठ के अध्यक्ष भी बन गए। नियुक्ति में आप 46 में 56 बताते है, आज भी सूची नहीं मिली। तो जो आपकी हुई है उसमे PDA कहां है?"

मणि‍पुर का क‍िया ज‍िक्र

"मणिपुर जैसी घटना आपकी सरकार में हो जाए। ये कोई घटना ऐसी नहीं है जो विधानसभा में न उठे। हमारे नेता सदन स्टार प्रचारक है, क्या उनका ये कर्तव्य नहीं बनता कि वो ऐसी घटना हो तो जाए और उनके दुःख दर्द में शामिल हो।"

जातीय जनगणना पर भी बोले अखि‍लेश

"मैं जातीय जनगणना की बात इसलिए कहना चाहता हूं कि सबका साथ सबका विकास तभी होगा जब गैर बराबरी खत्म होगी। ये तभी खत्म होगी जब जातीय जनगणना होगी और इसके साथ सामाजिक न्याय भी मिलेगा।"

सीएम योगी आद‍ित्‍यनाथ ने क‍िया पलटवार, बड़ी बातें

मुख्‍यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ ने सदन में अपने भाषण में अखिलेश यादव के एक-एक सवाल पर पलटवार क‍िया। सीएम योगी ने दुष्यंत कुमार की लाइनों का इस्तेमाल करते हुए कहा, "तुम्हारे पांव के नीचे कोई ज़मीन नहीं, कमाल ये है कि फिर भी तुम्हें यक़ीन नहीं..'।

सीएम योगी ने कहा, यदि समाजवादी पार्टी की सरकार ने चौधरी चरण सिंह की बातों को थोड़ा भी ध्यान रखा होता तो उनके कालखंड में किसानों ने सबसे ज्यादा आत्महत्या नहीं की होती।

योगी ने कहा, महान साहित्यकार रामकुमार वर्मा जी की पंक्तियों को ध्यान रखकर डबल इंजन की सरकार कार्य कर रही है, जिसमें उन्होंने कहा था, 'हे ग्राम देवता नमस्कार, सोने-चांदी से नहीं किंतु तुमने मिट्टी से किया प्यार... हे ग्राम देवता नमस्कार'

शि‍वपाल यादव का क‍िया जि‍क्र

सीएम योगी ने शिवपाल का जिक्र करते हुए कहा कि आपके साथ अन्याय हुआ है। आपके प्रति हमारी सहानभूति है। उन्होंने कहा कि आपकी कीमत को 'ये लोग' (समाजवादी पार्टी) समझेंगे नहीं। उन्होंने इशारों ही इशारों में शिवपाल यादव को नसीहत देते हुए कहा कि आपको अपना रास्ता चुन लेना चाहिए।

देश में उत्तर प्रदेश की स्थिति पर बात करते हुए सीएम योगी ने कहा कि पिछले दिनों चक्रवात के कारण हिमाचल, उत्तराखंड और हरियाणा के कई इलाकों में बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई थी। फसलों का नुकसान पहुंचा था, जिसकी जांच की जा रही है। इसी कड़ी में उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की स्थिति अन्य राज्यों से काफी बेहतर है।

बकौल सीएम, उत्तर प्रदेश... देश और संभवत: दुनिया का पहला ऐसा भू-भाग है जहां पर 86 से 90 फीसदी भू-भाग, कृषि योग्य भूमि सिंचित है। इस दौरान उन्होंने फसलों से संबंधित डाटा भी पेश किया।

नेता सदन के कार्यालय में काम करने वाले एक कर्मचारी की गाड़ी एक जानवर से टकराने से जान चली गई... अगर उनके लिए सुरक्षा नहीं है तो आम जनता के लिए क्या सुरक्षा है... हर दूसरे दिन हम सोशल मीडिया पर वीडियो देखते हैं कि गली में 'सांड' ने एक महिला, बच्चे या बुजुर्ग को उठा कर फेंक दिया... क्या यही एक ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था का सपना है?...आप अपने ही ज़िले में एक सांड सफारी बना लो, किसने रोका है आपको।

सीएम योगी ने अखि‍लेश पर पलटवार करते हुए कहा, समाजवादी पार्टी को प्रदेश में चार बार मुख्यमंत्री के रूप में काम करने का मौका मिला था...आपने इतने समय तक क्या किया? आपने कोई समाधान नहीं निकाला। मुझे बताते हुए गर्व हो रहा है कि हमारे पहले कार्यकाल ने ही इंसेफेलाइटिस का समाप्त कर दिया।

सीएम योगी ने कहा- 2024 में खाता भी नहीं खुलने वाला

सीएम योगी ने कहा, क्या आयुष्मान भारत की सुविधा में उत्तर प्रदेश के लोग शामिल नहीं हैं?... आपके लिए ये जाति, वोट बैंक का मुद्दा हो सकते हैं लेकिन हमारे लिए यूपी के लोग परिवार हैं। लोगों ने आपको वोट नहीं दिया, उन्होंने आपको एक बार फिर से खारिज कर दिया। 2024 में खाता भी नहीं खुलने वाला।


1 view0 comments

Comments


bottom of page