google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

14 वर्षों से लोगों को गुमराह करने का काम कर रहा यादव परिवार : विश्वनाथ चतुर्वेदी


लखनऊ, 13 जनवरी 2022 : सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता विश्वनाथ चतुर्वेदी ने प्रेस कान्फ्रेंस कर एक बार फिर सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर जमकर हमला बोला है। एक निजी न्यूज चैनल पर आय से अधिक संपत्ति मामले पर अखिलेश की तरफ से दी गई सफाई को लेकर विश्वनाथ चतुर्वेदी ने आरोप लगाया है कि जिस क्लोजर रिपोर्ट की बात अखिलेश यादव कर रहे हैं वो फर्जी है।

एडवोकेट विश्वनाथ चतुर्वेदी ने कहा कि फोर्ज क्लोज़र रिपोर्ट पर 2009 में सीबीआई ने खुद ही संज्ञान लेकर एफआईआर दर्ज की है। इसके बाद भी बीते 14 वर्षों से अखिलेश यादव लोगों को गुमराह करने का काम कर रहे है। उनका मानना है कि यह केस अभी भी सीबीआई में पेंडिंग है और 15 जनवरी को सीबीआई कोर्ट में इसकी सुनवाई है।

उन्होंने केंद्रीय जांच ब्यूरो पर आय से अधिक संपत्ति के मामले में मुलायम सिंह यादव परिवार को बचाने का भी आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि सीबीआई ने संपत्ति का कम मूल्यांकन किया और यादव परिवार को बचाने के लिए शीर्ष अदालत में एक फर्जी क्लोजर रिपोर्ट भी दायर की। विश्वनाथ चतुर्वेदी ने दावा किया है कि राजभवन के सामने एक संपत्ति है, जिसमें एक्सिस बैंक काम कर रहा है उसकी कीमत 33 लाख रुपये ही है, जिसके लिए यादव परिवार को 20 लाख रुपये मासिक किराया मिल रहा है। विश्वनाथ चतुर्वेदी ने न्यूक्लियर डील की बात करते हुए बताया कि कैसे मुलायम सिंह यादव ने यूपीए सरकार को समर्थन किया और बदले में अपना मामला सुलझाने का कोशिश की।

49 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0