google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

16 यूट्यूब चैनल्स को किया ब्लाक, 6 पाकिस्तान से और 10 भारत से हो रहे थे संचालित


नई दिल्ली, 25 अप्रैल 2022 : सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेशी संबंधों और सार्वजनिक व्यवस्था से संबंधित दुष्प्रचार फैलाने के लिए 16 यू ट्यूब समाचार चैनलों जिसमें 10 भारतीय और 6 पाकिस्तानी हैं को ब्लाक किया है। उनका उपयोग फेक न्‍यूज फैलाने के लिए किया गया था।

ये यूट्यूब चैनल भारत में दहशत पैदा करने, सांप्रदायिक विद्वेष भड़काने और सार्वजनिक व्यवस्था को बिगाड़ने के लिए झूठी, असत्यापित जानकारी फैला रहे थे। ब्‍लाक किए गए समाचार चैनलों की दर्शकों की संख्या 68 करोड़ से अधिक थी। सूचना प्रसारण मंत्रालय ने 2021 के आइटी नियमों के तहत कार्रवाई की है। ये यूट्यूब चैनल ने दर्शकों को गुमराह करने के लिए कुछ न्यूज चैनलों के लोगो और थंबनेल का भी गलत इस्तेमाल कर रहे थे।

इन चैनलों पर अनेक विषयों पर भ्रामक और झूठी खबरों का प्रसारण किया जाता था, जिसमें जम्मू-कश्मीर, भारतीय सेनाओं से लेकर यूक्रेन के वर्तमान हालात जैसे विषय शामिल थे। इसमें कुछ ऐसी भ्रामक और झूठी खबरें भी थीं जिससे भारत के कई दूसरे देशों से आपसी रिश्ते पर प्रतिकूल असर हो सकता था।

इससे पहले केंद्र सरकार ने भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेशी संबंधों और सार्वजनिक व्यवस्था से संबंधित झूठे और भ्रामक प्रचार में शामिल पाकिस्तान के 4 यूट्यूब समाचार चैनलों सहित 22 यूट्यूब चैनलों को ब्लाक कर दिया था। सूचना प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि इन चैनलों को तुरंत प्रभाव से ब्लाक कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि भारत के खिलाफ दुष्प्रचार में शामिल ऐसे चैनलों के खिलाफ आगे भी कार्रवाई जारी रहेगी।

सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने कहा कि भारत सरकार एक प्रामाणिक, भरोसेमंद और सुरक्षित आनलाइन समाचार मीडिया वातावरण सुनिश्चित करने और भारत की संप्रभुता और अखंडता, राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेशी संबंधों और सार्वजनिक व्यवस्था को कमजोर करने के किसी भी प्रयास को विफल करने के लिए प्रतिबद्ध है।

29 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0