google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

करारी हार के बाद मायावती के तेवर सख्त, भतीजे आकाश को बनाया राष्ट्रीय कोआर्डिनेटर


लखनऊ, 27 मार्च 2022 : उत्तर प्रदेशविधानसभा चुनाव 2022 में बहुजनसमाज पार्टी कीकड़ी हार केबाद पार्टी कीमुखिया मायावती ने रविवारको समीक्षा बैठकमें कड़ा कदमउठाया है। मायावतीने बसपा उत्तरप्रदेश की पूरीकार्यकारिणी को भंगकरने के साथही तीन चीफकोआर्डिनेटर को नियुक्तकिया है। बहुजनसमाज पार्टी कीराष्ट्रीय अध्यक्ष उत्तर प्रदेशकी पूर्व मुख्यमंत्रीमायावती ने उत्तरप्रदेश बसपा कीकार्यकारिणी भंग करनेके साथ हीअपने भतीजे आकाशआनन्द को बसपाका राष्ट्रीय कोआर्डिनेटरबनाया है। बसपासुप्रीमो मायावती ने आकाशआंनद बड़ी जिम्मेदारीदी है।

मायावती ने प्रदेश अध्यक्ष तथा जिला अध्यक्ष को छोड़कर उत्तर प्रदेश बसपा की सारी कार्यकारणी को भंग किया। उन्होंने उत्तर प्रदेश के लिए तीन चीफ कोआर्डिनेटर बनाए हैं। मेरठ के मुनकाद अली, बुलंदशहर के राजकुमार गौतम तथा आजमगढ़ के विजय कुमार को प्रदेश के सभी कोआर्डिनेटर रिपोर्ट करेंगे। यह तीनों सभी कोआर्डिनेटर पर निगाह रखेंगे। इसी के साथ बसपा ने विधायक दल के नेता रहे शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली की घर वापसी भी करा ली है। माना जा रहा है कि गुड्डू जमाली को आजमगढ़ लोकसभा उप चुनाव में बसपा का प्रत्याशी बनाया जाएगा।

उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में 403 सीट में से सिर्फ बलिया की रसड़ा पर जीत मिलने के बाद बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती की चिंता काफी बढ़ गई थी। रविवार को उन्होंने लखनऊ में सभी प्रत्याशियों के साथ ही पार्टी के शीर्ष पदाधिकारियों के साथ लखनऊ में बैठक के दौरान बड़ा कदम उठाया। मायावती ने उत्तर प्रदेश की कार्यकारिणी को भंग कर दिया। इतना ही नहीं तीन चीफ कोआर्डिनेटर की नियुक्ति भी की गई है। अब तीन चीफ कोआर्डिनेटर अन्य कोआर्डिनेटर पर निगाह रखेंगे। मायावती ने बैठक के दौरान ही शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली को आजमगढ़ लोकसभा उप चुनाव के बसपा का उम्मीदवार घोषित किया।

बहुजन समाज पार्टी ने विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी को छोडऩे वाले विधायक दल के नेता शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली को पार्टी में दोबारा शामिल किया है। गुड्डू जमाली विधानसभा चुनाव में आजमगढ़ के मुबारकपुर से एआइएमआइएम के प्रत्याशी थे। एआइएमआइएम के गुड्डू जमाली ही इकलौते प्रत्याशी थे, जिनकी जमानत बची है। अब बसपा उनको आजमगढ़ से लोकसभा के उप चुनाव में उतारने की तैयारी में लगी है। आजमगढ़ लोकसभा की सीट समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव के इस्तीफे के बाद खाली हुई है।
15 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0