google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

अखिलेश का सरकार पर हमला, कहा-बेटी को न्याय दिलाने के लिए उठायेंगे सवाल


लखनऊ, 24 अप्रैल 2022 : अमेठी जिले मेंतैनात रही गोसाईगंजके मलौली गांवकी महिला उपनिरीक्षक रश्मि यादव कीसंदिग्ध हालात में हुईमौत के मामलेमें राजनीति पाराभी चढऩे लगाहै। रविवार कोसमाजवादी पार्टी के राष्ट्रीयअध्यक्ष एवं पूर्वमुख्यमंत्री अखिलेश यादव गोसाईगंजके मलौली गांवस्थित रश्मि यादवके घर पहुंचे।इस दौरान उन्होंनेकहा कि समाजवादीपार्टी रश्मि की मौतके मामले मेंसदन में सवालउठाएगी। रश्मि की मौतके लिए दोषीलोगों को सजादिलाने की मांगकी जाएगी।

अखिलेश ने रश्मिके पिता अधिवक्तामुन्नालाल यादव, मां, बहनोंव भाई सेबात की। उन्होंनेकहा कि घटनाकी उच्चस्तरीय जांचकी मांग कीजाएगी। परिवारीजन ने अखिलेशको बताया किरश्मि आत्महत्या नहींकर सकती। वहकुछ देर पहलेतक ड्यूटी परथी। ऐसे मेंअचानक से आत्महत्याक्यों करेगी। अखिलेशने कहा किपीडि़त परिवार से मुलाकातके बाद उन्हेंजानकारी मिली हैकि रश्मि काफीमेहनती थी, उसनेकई परीक्षाएं पासकर नौकरी हासिलकी थी। वहऐसा कैसे करेगी।उन्होंने कहा किमहिला उप निरीक्षकको प्रताडि़त कियागया, उसे गालीदी गई औरउसको जाति सेसंबोधित करके परेशानकिया गया।

उन्होंने सरकार परभी निशाना साधा।बोले, सरकार केमंत्री भ्रष्टाचार और अस्पतालोंमें अव्यवस्था कीबात कह रहेहैं। मंत्रियों कोमुख्यमंत्री से मिलकरसारी बात बतानीचाहिए। अखिलेश यादव केसाथ सपा प्रवक्ताराजेन्द्र चौधरी, पूर्व विधायकअंबरीष पुष्कर, जिलाध्यक्ष जयङ्क्षसहजयंत, बृजेश यादव, आशिक अली, महिलासभा की मोहनलालगंजविधानसभा प्रभारी अर्चना रावत, अकरम, राम समुझरावत, सीएल वर्मासमेत पार्टी केकई पदाधिकारी वकार्यकर्ता मौजूद रहे।

उधर, अमेठीके मोहनगंज थानेपर तैनात महिलाचौकी प्रभारी रश्मियादव के आत्महत्याकांड के 24 घंटेबीतने के बादभी पुलिस अधिकारीगुत्थी सुलझाने में नाकामहैं। महिला दारोगाके आत्महत्या केबाद फोरेंसिक टीमसमेत पुलिस अधीक्षकदिनेश सिंह नेघटना स्थल काजायजा लेते हुएउनके मोबाइल फोनव तमाम जरूरीचीजें कब्जे मेंलेकर जांच पड़तालशुरू की, लेकिनअधिकारी अब तककिसी नतीजे तकनहीं पहुंचे हैं, जो महकमें केलिए शर्मशार करनेवाला है। वहींपिता ने साजिशनहत्या का आरोपलगाया है।
2 views0 comments