google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

'मैंने जुल्म किए होते तो पैदा होने से पहले बच्चाे कहता, आजम से पूछ लो'


रामपुर, 30 नवंबर 2022 : समाजवादी पार्टी के वरिष्‍ठ नेता आजम खां सपा प्रत्‍याशी आसिम रजा के समर्थन में धुआंधार चुनावी सभाएं कर रहे हैं। इस दौरान वह भावुक भाषण भी दे रहे हैं। उनके भाषणों पर जमकर तालियां बज रही हैं। मंगलवार को एक सभा के दौरान आजम खां द्वारा दिए गए भाषण का एक अंश इंटरनेट मीडिया पर खूब प्रसारित हो रहा है, जिसमें वह कह रहे हैं कि पैदा होने से पहले बच्‍चा अपनी मां से कहता कि पहले आजम खां से पूछ लो कि बाहर निकलना भी है या नहीं। इस दौरान आजम ने कहा कि वफादार आज भी हमारे साथ हैं, जबकि ठेकेदार भाग गए हैं। वह अपनी कोठियों का हिसाब नहीं दे पा रहे थे। भाजपा के मंच पर अब अपराधी भी बैठ रहे हैं।

यह था आजम खां का पूरा भाषण

सपा प्रत्‍याशी के समर्थन में आजम खां ने नालापार मुहल्ले में हुई चुनावी सभा में कहा कि आज की सरकार हमारे और तुम्‍हारे पर जुल्‍म कर रही है। हमारी भी चार बार सरकार रही। तुम सबकी मुस्‍कुराहट की कसम अगर मैंने इतने जुल्‍म किए होते तो पैदा होने से पहले बच्‍चा अपनी मां से पूछता कि आजम खां से पूछ लो हमें बाहर निकलना है या नहीं। हमने तो कभी ऐसा जुल्‍म किसी पर नहीं किया। मैंने हमेशा दिलों को मिलाया है। हमें तो जिसने भी प्‍यार से बुलाया हम उसी के हो लिए।

हमारी सरकार में कायम रहा भाईचारा और शांति

आजम ने कहा कि बहुत सारी सरकारें आईं और गईं। हमारी सरकार भी आई और गई, लेकिन हमारी सरकार में भाईचारा और शांति थी। अब घरों के दरवाजे तोड़े जा रहे हैं। औरतों को थप्पड़ मारे जा रहे हैं। घसीटकर थानों में बंद किया जा रहा है। हमने तो मंत्री बनकर अपने शहर में सड़कें बनवाईं, इमारतें बनवाईं, गरीबों के लिए घर बनवाएं।

मेरी बदकिस्‍मती, अपने बेटे की उम्र साबित न कर सका

आजम ने कहा कि मैं अपने बेटे की उम्र साबित नहीं कर सका। उसे पैदा करने वाली मां अपनी औलाद की उम्र साबित नहीं कर सकी। यह हमारी बदकिस्मती नहीं तो क्या है। पैन कार्ड दो नहीं एक है। एक खारिज हुआ तो दूसरा बना। इसी तरह पासपोर्ट दो नहीं एक है। एक खारिज हुआ तो दूसरा बना, फिर भी हम सजा के दरवाजे पर खड़े हैं।

'जो दरी न बिछाने की बात करते थे, वहां पोछा लगाएंगे'

आजम खां ने अपने मीडिया प्रभारी फसाहत अली खां शानू के साथ छोड़ने पर तंज कसते हुए कहा कि हमारा साथ छोड़कर जाने वाला कहता है कि दरी नहीं बिछाएगा, लेकिन याद रखना आठ तारीख के बाद ये दरी नहीं बिछाएंगे, बल्कि पोछा लगाएंगे। उन्होंने सपा प्रत्याशी आसिम राजा को जिताने की अपील की। दरअसल, आजम के मीडिया प्रभारी ने भाजपा में शामिल होने पर कहा था कि अब अब्‍दुल (यानी मुसालमान) अब दरी नहीं बिछाएगा। आजम खां ने उसी बात पर तंज कसा।

कल अखिलेश यादव तो तीन दिसंबर को आएंगे जयंत चौधरी

सपा प्रत्‍याशी आसिम राजा के समर्थन में प्रचार के लिए कल पूर्व मुख्‍यमंत्री और सपा अ‍ध्‍यक्ष अखिलेश यादव रामपुर आएंगे। उसके बाद तीन दिसंबर को राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष एवं राज्‍यसभा सदस्‍य जयंत चौधरी रामपुर आएंगे। वह यहां समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी आसिम राजा के समर्थन में किला मैदान से चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगे।

2 views0 comments