google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

मंगल का मेष में गोचर – राशियों पर प्रभाव जानिए ज्योतिषाचार्य धनंजय नाथ जी से



हाल ही में बीती 16 अगस्त 2020 की रात्रि 8:45 मिनट पर मंगल गोचरवश अपनी राशि परिवर्तन कर अपनी स्वराशि मेष में प्रवेश कर गए हैं। सामान्यत: मंगल 57 दिनों में अपनी राशि बदलते हैं।


मंगल को ज्योतिष शास्त्र में सेनापति माना गया है। मंगल समस्त साहसिक कार्य जैसे सेना, अग्निशमन सेवाएं, पुलिस आदि के साथ-साथ प्रशासनिक दक्षता का भी प्रतिनिधित्व करता है। मंगल अग्नि तत्व ग्रह होने के साथ-साथ एक उत्तेजनात्मक ग्रह भी है। मंगल में मारणात्मक शक्ति का आधिक्य होता है। जिस जातक का मंगल प्रबल होता है वह सामान्यत: क्रोधी व उत्तेजनात्मक स्वभाव वाला होता है।




टीम स्टेट टुडे

22 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0