google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने किसे क्या दिया एक एक बात समझिए



कल पीएम का और्थिक पैकेज पर ऐलान आपने सुना, इस पैकेज पर फैसला समाज के कई सेक्शन, कई मंत्रालय और विभागों के बीच चर्चा के बाद लिया गया थाः निर्मला सीतारमण, वित्त मंत्री


कई विभागों, मंत्रालयों के अलावा पीएम मोदी खुद इस पैकेज पर चर्चा में शामिल रहेः वित्त मंत्री निर्मला सीतरमण


आत्मनिर्भर भारत के 5 पिलर हैंः इकॉनमी, इन्फ्रास्ट्रक्चर, सिस्टम, डेमोग्राफी और डिमांडः वित्त मंत्री निर्मला सीतरमण


डीबीटी के जरिए लोगों के खाते में सीधे पैसे पहुंच रहे हैं, किसी को बैंक तक जाने की जरूरत भी नहीं पड़ रही हैः वित्त मंत्री


पिछले कार्यकाल में कई योजनाएं आर्थिक सुधार से जुड़ी हुई थी, पीएम फसल बीमा योजना, फिशरी डिपार्टमेंट बनाना, पीएम किसान योजना जैसे सुधार कृषि क्षेत्रों के लिए किए गए हैंः वित्त मंत्री


सार्वजनिक क्षेत्र को बैंकों से जुड़े सुधार, बैंकों के रिकैपिटलाइजेशन जैसे काम किए गए हैंः वित्त मंत्री


कोरोना ने देश-दुनिया के सामने कई संकट खड़े किए, लेकि इस चुनौती के समय भी पीएम मोदी देश के लिए अवसर देखते हैंः अनुराग ठाकुर, वित्त राज्य मंत्री


संकट के वक्त हमारे देश में कोई भूखा ना रहे, ऐसी हमारी कोशिश हैः वित्त राज्य मंत्री


वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, 52606 करोड़ रुपए देश के 41 करोड़ जनधन खातों में डाले गए हैं. 18 हज़ार करोड़ रुपए का राशन बांटा गया है जिसमें 48 लाख मेट्रिक टन गेहूं और चावल 69 करोड़ राशनकार्ड धारकों में बांटा गया है.


कुटीर लघु उद्योग के लिए ऐसे 6 कदम उठाएंगे, 2 ईपीफ के लिए, NBFC से जुड़े 2 फैसले और 1 एमएफआई से जुड़े हैंः वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण


एमएसएमई को 3 लाख करोड़ का बिना गांरटी का लोन दिया जाएगाष। इससे 45 लाख एमएसएमई को फायदा होगाः वित्त मंत्री


एमएसएमई को 1 साल तक ईएमआई से राहत, 25,00 करोड़ तक वाले एमएसएमई को फायदाः वित्त मंत्री

संकट में फंसे 2 लाख एमएसएमई को कर्ज के लिए 20,000 करोड़ रुपयेः वित्त मंत्री


फंड ऑफ फंड्स के जरिए 50,000 करोड़ का इक्विटी इंफ्यूजन किया जाएगाः वित्त मंत्री


हमलोग एमएसएमई की परिभाषा बदल रहे हैं। अब एमएसएमई के लिए निवेश की सीमा ज्यादा बढ़ा रहे हैं। अब टर्नओवर का क्राइटीरिया भी लाया जाएगाः वित्त मंत्री


10 करोड़ तक का निवेश और 50 करोड़ के टर्नओवर वाले इंटरप्राइज को स्मॉल यूनिट माना जाएगा,

30 करोड़ तक का निवेश और 100 करोड़ के टर्नओवर वालों को मीडियम इंटरप्राइज माना जाएगाः वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण


अब 200 करोड़ तक के सरकारी कामों के लिए ग्लोबर टेंडर नहीं होंगेः वित्त मंत्री


एमएसएमई के लिए ई-मार्केट लिंकेज पर जोर दिया जाएगा। सरकार एमएसएमई के बाकी पेंमेंट 45 दिनों के अंदर करेगीः वित्त मंत्री


15,000 से कम वेतन वालों का ईपीएफ अगले 3 महीने तक सरकार देगी, 12 फीसदी की जगह 10 फीसदी कटेगा पीएफः वित्त मंत्री


कर्मचारियों का 12 फीसदी की जगह 10 फीसदी ईपीएफ कटेगा, पीएसयू में 12 फीसदी ही कटेगा ईपीएफः वित्त मंत्री


30,000 करोड़ की स्पेशल लिक्विडिटी स्कीम लॉन्च की जा रही हैः वित्त मंत्री


पार्शियल क्रेडिट गारंटी स्कीम 2.0 के जरिए 45,000 करोड़ का लिक्विडिटी इंफ्यूजन किया जाएगाः वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण


बिजली वितरण कंपनियों के लिए 90,000 करोड़ रुपये का प्रावधानः वित्त मंत्री


केंद्र सरकार की सभी एजेंसियां के कॉन्ट्रक्टर्स को राहत देते हुए उन्हें काम या सेवा पूरा करने के लिए 6 महीने तक समय दिया जा रहा हैः वित्त मंत्री निर्मला सीतरमण


टीडीएस और टीसीएस 31 मार्च में 2021 तक 25 फीसदी घटाया गयाः वित्त मंत्री


2019-20 के लिए इनकम टैक्स रिटर्न की आखिरी तारीख 31 जुलाई 2020 और 31 अक्टूबर 2020 से बढ़ाकर 30 नवंबर 2020 कर दिया जाएगाः वित्त मंत्री


टीम स्टेट टुडे


Advt.

Advt.

38 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0