पाकिस्तान के मंच पर भारत के खिलाफ कांग्रेस नेता शशि थरुर ने उगला जहर – बीजेपी ने दागे सवाल


पाकिस्तान के लाहौर में लिटरेचर फेस्टिवल चल रहा है। कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने देश के दुश्मन के सामने देश को बदनाम करने वाला बयान दिया है। शशि थरूर ने पाकिस्तान के मंच पर कहा है कि भारत में मुसलमानों और उत्तर पूर्व के लोगों के साथ भेदभाव होता है।


लाहौर थिंक फेस्ट कार्यक्रम में शशि थरूर ऑनलाइन जुड़े थे। थरुर ने इसी कार्यक्रम में कहा कि कोरोना महामारी के दौरान भारत में भेदभाव बढ़ा है। कोरोनाकाल में मस्जिदों में छिपकर कोरोना संक्रमण को फैलाने और छिपाने वाली तब्लीगी जमात की हरकतों को जायज बताते हुए थरुर ने सरकार की कार्रवाई को भारत में मुसलमानों के खिलाफ भेदभाव से जोड़ दिया। सिर्फ इतना ही नहीं थरुर ने पाकिस्तान के मंच पर यहां तक कह डाला कि भारत में उत्तर पूर्व के लोगों के साथ भी भेदभाव होता है।


पाकिस्तान के लाहौर लिटरेचर फेस्टिवल में कांग्रेस नेता शशि थरूर द्वारा भारत की केंद्र सरकार की आलोचना पर भाजपा ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि शशी थरूर ने भारत का मज़ाक बनाया है, भारत को बहुत ही खराब छवी दिखाने की कोशिश की है। पात्रा ने कहा कि भारत सरकार ने कोविड मैनेजमेंट में बेजोड़ काम किया। जनता-जर्नादन मोदी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से संतुष्ट है।


पहले चिदंबरम और अब थरुर के देश विरोधी बयानों से हतप्रभ बीजेपी ने कांग्रेस नेताओं को लताड़ लगाते हुए सवालों की झड़ी लगा दी। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि जिस तरह कांग्रेस नेता अंतरराष्ट्रीय मंचों पर देश को नीचा दिखा रहे हैं, खासकर पाकिस्तान में, ऐसा लगता है कि राहुल गांधी पाकिस्तान में चुनाव लड़ रहे हैं। पात्रा ने कहा भारत से शशि थरूर इमरान खान की रैली को संबोधित कर रहे हैं। यहां पर अनुच्छेद 370 फिर से आ जाए जो इमरान खान चाहते हैं, वही पी. चिदंबरम कह रहे हैं। ये क्या हो रहा है?


संबित पात्रा ने कहा कि अब से वो राहुल गांधी को राहुल लाहौरी के नाम से संबोधित करेंगे।


पात्रा ने कांग्रेस से पूछा कि वो जिन्ना के समर्थक को टिकट क्यों देते है। आप लाहौर में भारत के बारे में क्यों रोएंगे। इसमें संदेह नहीं है कि राहुल गांधी भारत से नफरत करते हैं। पात्रा ने कहा कि कांग्रेस की नजर में हिंदुस्तान के मुसलमानों के खिलाफ सरकार कट्टरता और पक्षपात दिखा रही है, ये राहुल गांधी के दोस्त शशि थरूर ने कैसे कहा? खासकर तब जब पाकिस्तान में हिंदू और सिखों के साथ क्या हो रहा है, सब देख रहे है।

आपको याद दिला दें कि शशि थरुर की तरह ही इससे पहले पी.चिदंबरम और मणिशंकर अय्यर भी पाकिस्तान परस्त बयान दे चुके हैं।


थरुर के विवादित बयान


जुलाई 2018 - 2019 में मोदी के दोबारा सत्ता में आने पर देश 'हिंदू पाकिस्तान' बन जाएगा।

16 अक्टूबर 2018 - अच्छा हिंदू नहीं चाहेगा कि मस्जिद का ढांचा गिराकर राम मंदिर बने।

28 अक्टूबर 2018 - पीएम मोदी शिवलिंग पर बैठे बिच्छू की तरह हैं, जिसे न तो हाथ से हटाया जा सकता है और न चप्पल से मारा जा सकता है।

29 जनवरी 2019 – सीएम योगी की प्रयागराज में कैबिनेट बैठक पर - गंगा भी स्वच्छ रखनी है और पाप भी यहीं धोने हैं। इस संगम में सब नंगे हैं। जय गंगा मैया की।

31 जनवरी 2019 - हिंदी, हिंदू, हिंदुत्व की विचारधारा देश को बांट रही है। हमें एकता की जरुरत है ना कि समानता की।


कौन हैं शशि थरूर?


शशि थरूर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, साहित्यकार और पूर्व राजनयिक हैं।

केरल के तिरुवनंतपुरम से लगतार तीसरी बार सांसद चुने गए।

2009 में पहली बार तिरुवनंतपुरम से लोकसभा पहुंचे थे।

डीयू के सेंट स्टीफेंस कॉलेज के बाद अमेरिका के टफ्ट यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की है।

थरूर संयुक्त राष्ट्र संघ के उप महासचिव थे, वे साल 2006 में संयुक्त राष्ट्र के महासचिव का चुनाव लड़ चुके हैं। मई 2009 से अप्रैल 2010 तक यूपीए-2 में विदेश राज्यमंत्री रहे।

अक्टूबर 2012 से 2014 तक केंद्रीय शिक्षा राज्यमंत्री रहे।

शशि थरुर की भूमिका अपनी पत्नी सुनंदा पुष्कर की हत्या में भी संदिग्ध हैं। सीबीआई इस मामले की जांच कर रही है।


टीम स्टेट टुडे