google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

बुआ-बबुआ ने यूपी को बनाया बीमारू, डबल इंजन सरकार से विकास को रफ्तार


अलीगढ़, 2 फरवरी 2022 : विधानसभा चुनाव में अतरौली से भाजपा प्रत्याशी प्रदेश सरकार के राज्य मंत्री व पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के नाती संदीप सिंह के लिए सभा को संबोधित करने पहुंचे गृह मंत्री अमित शाह ने सबसे पहले भारत माता की जय के साथ विजय संकल्प दिलाते हुए नारा लगवाया।



विपक्षियों पर जमकर साधा निशाना

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि जब वह अलीगढ़ आते हैं तो महेंद्र प्रताप को कैसे भूल सकते हैं, जिन्होंने शिक्षा के लिए जमीन दान दी। यह वही भूमि है जहां शहीद भगत सिंह शादीपुर गांव में रहे, यहाँ बलिदानियों की भूमि है। गोपालदास नीरज व हरिदास जी की भूमि है। अशोक सिंघल व कल्याण सिंह की कर्म भूमि है। हम भूल नहीं सकते हैं कि गुजरात से मुझे यहां प्रभारी बनाकर भेजा था, इतना बड़ा प्रदेश था पता नहीं क्या होगा, कैसे होगा।

मैने बाबू जी से समय मांगा, बाबू जी के साथ भोजन किया। उन्होंने बेटे की तरह अंगुली पकड़कर सिखाया। बाबू जी ने बिना बांटे पिछड़ा समाज को उसका अधिकार दिया, एक समय आया कि सीएम की कुर्सी चाहिए या राम मंदिर चाहिए तो उन्होंने कुर्सी पसंद नहीं किया और इस्‍तीफा दे दिया। उनके चेहरे पर खुशी का भाव था। बाबू जी की आत्मा को जरूर शांति मिलती होगी कि उनके रहते हुए पीएम ने निर्माण की नींव रखी। मै यहां की जनता से हाथ जोड़कर निवेदन करने आया हूं कि पहले 2014 में फिर 2017 में सरकार बनाई, 2019 में फिर पीएम को बनाया। अब 2022 में फिर सीएम योगी को मुख्यमंत्री बनाना है। बुआ, भतीजा सपा बसपा प्रदेश का भला नहीं कर सकती। इन्होंने बीमारू प्रदेश बनाया, यहां अब डबल इंजन की सरकार है। अब गरीब के घर मे टॉयलेट है, हर घर मे बिजली है, क्या समाज वादी में हर घर मे बिजली आती। अगर बुआ बबुआ की सरकार होती तो क्या गरीब को सिकन्दर मिलता, आयुष्मान में क्या पांच लाख तक का लाभ मिलता अब घर मे लाइट, टॉयलेट व गरीब को घर मिल रहा है। यह पीएम व सीएम की मेहनत का फल है। कोरोना का टीका मुफ्त लगवाया, अखिलेश इसका विरोध करते थे, वह गुमराह करते थे, लेकिन, बाद में डरकर उन्होंने भी टीका लगवा लिया। अगर उनकी बात मानकर टीका नहीं लगवाते तो क्या तीसरी लहर में बच पाते।

महालक्ष्‍मी कमल पर सवार होकर आईं

कोरोना आया तो गरीबों के सामने खाने के लाले थेे, यह कमल का फूल नहीं है। महा लक्ष्मी कमल पर सवार होकर उनके घर आई है। पहले सपा बसपा की सरकार चलती थी, इन्हें राजा महेंद्र प्रताप के नाम यूनिवर्सिटी की याद आयी क्या। सीएम ने पीएम के हाथों इनकी नींव रखवाई। पहले अखिलेश व बसपा के सरकार में गुंडे बदमाश करते थे, पहले पुलिस गुंडे से डरती थी, अब पुलिस से गुंडे डरते थे, अब माफिया पलायन कर रहे हैं। अब गुंडे जेल में हैं या प्रदेश से बाहर। अब सपा की प्रत्यशियों की सूची में भी गुंडा दिखते हैं। अब तीन जगह गुंडे हैं बस। अगर सपा का राज लाये तो फिर माफिया राज आएगा। यह कल खार खाने बन्द हो जाएंगे, डिफेंस कारीडोर नहीं बनेगा, ऐसे में मजबूती से भाजपा को लाना है। कश्मीर को हमेशा के लिए भारत से जोड़ने चाहिए, धारा 370 हटनी चाहिए। सपा बसपा कांग्रेस हमेशा इसका विरोध करते थे। वह कहते थे कि खून की नदियां बहेंगी, लेकिन अब किसी के एक कंकर मारने की हिम्मत नहीं है। पहले मौनी बाबा मौन रहते थे। पाक प्रेमियों को मालूम नहीं था कि सरकार बदल गयी है। इसलिए उर्री में हमला हुआ लेकिन, इस बार पीएम मोदी थे। हमारी सेना ने10 दिन में पाकिस्तान में घुसकर आतंकियों का सफाया किया। इससे पूरी दुनिया मे संदेश गया कि अब भारत की सीमा पर कड़े प्रहरी हैं। गुजरात में लोग कहते हैं कि अलीगढ़ का ताला लेकर आओ, बुआ बबुआ ने अलीगढ़ की फैक्टियों पर ताला लगाया था लेकिन, हमने फैक्ट्रियां खोली हैं अब राहुल बाबा आएं हैं। उन्हें पता नहीं है कि खरीफ की फसल क्या होती है। वह कहते हैं कि आलू की फैक्ट्री लगा देंगे, क्या आलू फैक्ट्री में होता है। नरेंद्र मोदी ने यूपी के सात करोड़ से ज्यादा किसानों को 6 हजार रुपये खाते में दिए हैं।

अन्‍न की पोटली लेकर घूम रहे अखिलेश

अब अखिलेश अन्न की पोटली लेकर निकलते हैं। यह परिवार का भला करते हैं, कुछ दिन पहले एक समाज वादी पार्टी के यहां रेड हुई जिसमें 250 करोड़ रुपये मिले। अब वह बताएं कि इत्र कारोबारी के यहां क्या रिश्ता है, अगर रिश्ता नहीं है तो फिर दर्द क्यों हो रहा है। अमित शाह ने कहा कि एक बार सन्दीप को जिता दो, दोबारा आऊंगा तो तसल्ली से बात करूंगा। सपा की जमामत जप्त करा दो।

19 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0