google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

'अपने बुद्धिदाता' के कृत्यों के लिए माफी मांगे कांग्रेस, गुलामी की निशानियों से मुक्त होगा प्रदेश, विरासत को मिलेगा सम्मान - Cm Yogi Adityanath



सैम पित्रोदा के बयान पर बिफरे सीएम, बोले- रंग और चमड़ी के आधार पर देश को बांटने का प्रयास कर रही कांग्रेस


सैम पित्रोदा जैसे बुद्धिमान लोग कांग्रेस को मुबारकः योगी


भारत के हर परिवार में मर्यादा के आदर्श माने गए हैं श्रीरामः योगी


लखनऊ, 9 मईः मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सैम पित्रोदा कांग्रेस के बुद्धिदाता हैं। वे कांग्रेस की बांटो और राज करो की नीति को बयां कर रहे हैं। कांग्रेस में सत्ता प्राप्ति की अतिलिप्सा है। कांग्रेस 1947 में भारत के विभाजन की त्रासदी की जिम्मेदार है। कांग्रेस ने आजादी के बाद भी जाति, क्षेत्र, भाषा के नाम पर देश को बांटने का पाप किया है। सैम पित्रोदा का बयान अत्यंत निंदनीय है। कांग्रेस सैम पित्रोदा के मुंह से जो बोलवा रही है, उसके लिए उसे देश की जनता से माफी मांगनी चाहिए। कांग्रेस को अपने बुद्धिदाता के कृत्यों के लिए माफी मांगनी चाहिए।


रंग और चमड़ी के आधार पर बांटने का कर रहे प्रयास


सीएम ने कहा कि वे लोग उत्तर भारत, दक्षिण भारत, पूर्वी भारत, पश्चिमी भारत को रंग व चमड़ी के आधार पर बांटने का प्रयास कर रहे हैं। यह देश के प्रति साजिश का पर्दाफाश होने के साथ ही कांग्रेस की बहुत खतरनाक मंशा है। यह शर्मनाक और निंदनीय बयान भारत जैसे सनातन देश में 140 करोड़ भारतवासियों को अपमानित करने वाला है।


सैम पित्रोदा अपनी बुद्धि अपने पास रखें


राम मंदिर से जुड़े सैम पित्रोदा के बयान पर सीएम ने खरी-खरी सुनाई। उन्होंने कहा कि सैम पित्रोदा अपनी बुद्धि अपने पास ही रखें। उनके जैसे बुद्धिमान लोग कांग्रेस को मुबारक हों। राष्ट्रवादी राम और राष्ट्र को एक-दूसरे के पूरक मानते हैं। मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्रीराम भारत राष्ट्र के सांस्कृतिक एकता के आधार हैं। भारत का मूल चरित्र राम की चेतना से नई संजीवनी प्राप्त करता है। भारत के हर परिवार में श्रीराम मर्यादा के आदर्श माने गए हैं। राम भारत की सांस्कृतिक और राजनीति एकता के प्रतीक हैं। इसमें गरीब कल्याण, सबका साथ-सबका विकास, सर्वे सन्तु निरामया का भाव निहित है। इसकी मूल चेतना प्रभु श्रीराम से प्राप्त होती है, इसलिए राम मंदिर का निर्माण भारत के लिए गौरव का विषय है। जिनका भारत और भारतीयता पर विश्वास नहीं है और जिन्हें अच्छे कार्य में शर्मिंदगी महसूस होती है। ईश्वर करे कि उन्हें यह शर्मिंदगी हमेशा मिलती रहे।


राम मंदिर के निर्माण से प्रफुल्लित हैं मानवता के कल्याण के पक्षधर


सीएम योगी ने कहा कि भारत के 140 करोड़ लोगों के साथ ही दुनिया में जहां भी सनातन धर्मावलंबी निवास करते हैं। दुनिया में जहां कहीं भी मानवता के कल्याण के पक्षधर हैं, वह हर व्यक्ति राम मंदिर के निर्माण से आनंदित व प्रफुल्लित है। इसके जरिए उन्हें बहुत पॉजीटिव एनर्जी भी प्राप्त हुई है। यही कारण है कि न केवल सनातन धर्मावलंबी, बल्कि दुनिया के दर्जनों राजदूत अयोध्या की यात्रा कर वहां के विकास कार्यों को देख चुके हैं। यह निरंतरता आगे चलती रहेगी।


 

परिवार की पांचों सीट हारेगी सपा, नहीं खुलेगा खाता : योगी आदित्यनाथ



- लखीमपुर खीरी में सीएम योगी ने चुनावी जनसभा को किया संबोधित


- बोले योगी, कांग्रेस और सपा देश को बांटने की साजिश रच रही


- कहा- काशी के तर्ज पर होगा छोटी काशी का विकास, बनेगा गोला गोकर्णनाथ कॉरीडोर


- देश की जनता कह रही, जो राम को लाए हैं हम उनको लाएंगे : योगी


- सपा रामभक्तों पर गोलियां चलवाती थी, आतंकियों के केस वापस लेती थी : योगी आदित्यनाथ


लखीमपुर खीरी, 9 मई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि लोकसभा चुनाव में यूपी में सपा का खाता भी नहीं खुलेगा। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी के मुखिया के परिवार की पांचों सीटों पर हार सुनिश्चित है। सीएम योगी गुरुवार को गोला में खीरी लोकसभा सीट के लिए चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने पार्टी प्रत्याशी अजय मिश्रा टेनी के लिए वोट की अपील की। मुख्यमंत्री ने बाबा गोला गोकर्णनाथ की पावन धरा को नमन करते हुए महाराणा प्रताप की पावन जयंती पर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किये।


सीएम योगी ने कहा कि लोकसभा चुनाव के तीन चरण पूरे हो चुके हैं। देश में एक ही स्वर गूंज रहा है फिर एक बार मोदी सरकार। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और सपा के लोग कह रहे हैं कि राममंदिर का निर्माण अनावश्यक हुआ है। चुनाव जैसे जैसे आगे बढ़ रहा है दो चीजें साफ हो गई हैं। एक तरफ भारत के विकास, गरीब कल्याण के लिए योजनाओं का लाभ देने वाले रामभक्त हैं। दूसरी तरफ भारत की सुरक्षा में सेंध लगाने वाले, अंतरराष्ट्रीय मंच पर भारत का अपमान करने वाले, आस्था के साथ खिलवाड़ करने वाले रामद्रोही हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और सपा देश को बांटने की साजिश रच रही है। एक तरफ कांग्रेस के कार्यकाल में जहां देश की सीमाएं असुरक्षित थीं, आतंकवाद और नक्सलवाद चरम पर थे वहीं दूसरी तरफ सपा रामभक्तों पर गोलियां चलवाती थी और आतंकियों के केस वापस लेती थी। मगर इस बार पूरे देश में एक ही स्वर गूंज रहा है कि जो राम को लाए हैं हम उनको लाएंगे।


मुख्यमंत्री ने कहा कि जैसे अयोध्या नई अयोध्या बन गई है। काशी विश्वनाथ धाम जगमगा रहा है। ऐसे ही छोटी काशी को भी हम लोग उसी सुंदरीकरण के साथ जोड़ने का काम करने जा रहे हैं। फोर लेन के साथ यहां सुंदर गलियारा होगा। एक एक व्यापारी को बसाने का काम होगा, किसी को उजाड़ा नहीं जाएगा। यह केवल रामभक्त ही कर पाएंगे रामद्रोही नहीं कर पाएंगे। रामद्रोही सपा सरकार के समय दंगा, कर्फ्यू होता था, व्यापारी और बेटी असुरक्षित थीं। कांग्रेस के समय में देश में घुसपैठ होती थी। आतंकवाद और नक्सलवाद सिर चढ़कर बोल रहा था, विकास का कार्य ठप था। गरीबों को मिलने वाली योजनाओं में बंदरबांट होता था। आज तो 80 करोड़ लोगों को फ्री राशन उपलब्ध कराया जा रहा है। सीएम योगी ने केंद्र और प्रदेश सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए जनता से भाजपा के पक्ष में मतदान की अपील की।


सीएम योगी ने सपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के निधन पर सपा अध्यक्ष ने कोई संवेदना जाहिर नहीं की, जबकि एक माफिया मरा तो उसके घर फातिहा पढ़ने चले गये। उन्होंने कहा कि सपा के पास गरीबों के कल्याण के लिए कोई कार्य योजना नहीं है। माफिया को गले का हार बना कर ये लोग प्रदेश को अराजकता की भट्ठी में झोकने का कार्य करते रहे हैं। सीएम योगी ने कहा कि आज देश में जो परिवर्तन दिख रहा है, उसके महानायक नरेन्द्र मोदी हैं। उनके नेतृत्व में भारत विश्व शक्ति बनने की ओर अग्रसर है। उन्होंने कहा कि आज का नया भारत कहता है कि हम किसी से भिड़ेंगे नहीं, मगर कोई छेड़ेगा तो उसे छोड़ेंगे भी नहीं। कांग्रेस के लिए फैमिली फर्स्ट है और भाजपा के लिए नेशन फर्स्ट। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में प्रदेश की जनता 80 सीटों पर 80 कमल की माला प्रधानमंत्री मोदी जी को पहनाएगी।


इस अवसर पर वर्तमान सांसद, केंद्रीय मंत्री और सांसद प्रत्याशी अजय मिश्रा टेनी, भाजपा जिलाध्यक्ष सुनील सिंह, जिला प्रभारी वसुधैव मौर्य, विधायकगण अमन गिरी, रोमी साहनी, योगेश वर्मा, मंजू त्यागी, शशांक वर्मा सहित अन्य गणमान्य मौजूद रहे।


 

गुलामी की निशानियों से मुक्त होगा प्रदेश, विरासत को मिलेगा सम्मान



बुधवार को अकबरपुर लोकसभा क्षेत्र के नाम पर सीएम योगी ने जनसभा के दौरान की थी महत्वपूर्ण टिप्पणी


गुलामी की निशानियों को मिटाकर क्षेत्र को विकास की मुख्य धारा से जोड़ने का दिया आश्वासन


अलीगढ़, आजमगढ़, शाहजहांपुर, गाजियाबाद, फिरोजाबाद और मुरादाबाद जैसे जिलों से भी उठ चुकी है नाम बदलने की आवाज


लखनऊ, 9 मई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में गुलामी की निशानियों को समाप्त कर विरासत का सम्मान करने का संकल्प लिया है। इसी क्रम में बुधवार को जब वह अकबरपुर लोकसभा क्षेत्र में जनसभा को संबोधित कर रहे थे तो उन्होंने लोकसभा के नाम पर अपनी आपत्ति जाहिर करते हुए कहा कि 'चिंता मत करिए, ये सब बदल जाएगा।' ये इस बात का संकेत है कि लोकसभा चुनावों में जीत दर्ज करने के बाद तीसरी बार मोदी सरकार बनी तो राज्य सरकार की ओर से अकबरपुर का नाम बदलने का प्रस्ताव केंद्र सरकार को दिया जा सकता है। योगी सरकार पहले भी ऐसा कर चुकी है। सिर्फ अकबरपुर ही नहीं, प्रदेश के अंदर कई ऐसे जिले हैं जिनका नाम बदलने को लेकर मांग की जा रही है। इन जिलों के नाम गुलामी के दिनों की याद दिलाते हैं। ऐसे में अकबरपुर पर सीएम योगी की टिप्पणी के बाद ऐसे सभी नामों में बदलाव की संभावना जगी है।


गुलामी की याद दिलाते हैं ये नाम


बुधवार को अकबरपुर लोकसभा क्षेत्र के घाटमपुर में जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि अकबरपुर का नाम ही ऐसा है कि बार-बार बोलने में संकोच लगता है। ये सब बदल जाएगा। हमें गुलामी के निशानों को समाप्त करना है और विरासत का सम्मान करना है। इस क्षेत्र को विकास की मुख्यधारा के साथ जोड़ना है। इसके लिए जो अभियान देश में शुरू हुआ है, उसमें हमें भी एक वोट के साथ सहभागी बनना है। सीएम योगी का इशारा मुगलकालीन बादशाह अकबर के नाम पर लोकसभा क्षेत्र का नाम होने पर था। हालांकि, प्रदेश में अकबरपुर ही नहीं, कई जिले ऐसे हैं जिनके नाम भारतीय संस्कृति और विरासत से तालमेल नहीं खाते और गुलामी के दिनों की याद दिलाते हैं। मसलन, अलीगढ़, आजमगढ़, शाहजहांपुर, गाजियाबाद, फिरोजाबाद, फर्रुखाबाद और मुरादाबाद जैसे जिलों के नाम बदलने के लिए पहले भी आवाज उठ चुकी है। अकबरपुर में सीएम योगी के इस बयान ने इन आवाजों को और ताकत दी है।


पहले भी बदले गए हैं कई नाम


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की सत्ता संभालने के बाद गुलामी की निशानियों से निजात दिलाने की पहल शुरू की है। इसके अंतर्गत प्रदेश में कई सड़कों, पार्कों, चौराहों, इमारतों का नाम पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई के नाम पर रखा गया है। लखनऊ में एक निश्चित समय पर, कोई भी अटल बिहारी वाजपेई रोड से यात्रा कर सकता है, अटल चौराहा से गुजर सकता है और अटल बिहारी वाजपेई सम्मेलन केंद्र तक पहुंच सकता है, अटल सेतु को पार कर सकता है और अटल बिहारी कल्याण मंडप पहुंच सकता है। इसके अलावा योगी सरकार ने प्रतिष्ठित मुगलसराय रेलवे स्टेशन (जो देश का चौथा सबसे व्यस्त रेलवे जंक्शन है) का नाम बदलकर दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन कर दिया। यह कदम बीजेपी के सह-संस्थापक के प्रति सम्मान का प्रतीक था। राज्य सरकार ने 2019 कुंभ मेले से ठीक पहले इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज कर दिया। संतों का दावा है कि इस ऐतिहासिक शहर का मूल नाम प्रयाग राज ही था और मुगलों ने इसे बदलकर 'अल्लाहबाद' कर दिया था जो बाद में इलाहाबाद हो गया। वहीं, फैजाबाद का नाम भी बदलकर अयोध्या किया गया था, जबकि झांसी रेलवे स्टेशन का नाम भी बदलकर रानी लक्ष्मी बाई के नाम पर रखा गया है।


इन जगहों के नाम बदलने की उठ रही मांग


हाल ही में, अलीगढ़ के नगर निकायों ने शहर का नाम बदलकर हरिगढ़ करने की मांग करते हुए एक प्रस्ताव पारित किया था, जबकि फिरोजाबाद का नाम बदलकर चंद्र नगर करने का प्रस्ताव रखा गया था। ऐसा ही एक प्रस्ताव मैनपुरी में भी रखा गया था, जिसमें जिले का नाम बदलकर मायापुरी करने की मांग की गई थी। माध्यमिक शिक्षा राज्य मंत्री गुलाब देवी ने अपने गृह जिले संभल का नाम बदलकर पृथ्वीराज नगर या कल्कि नगर करने की मांग की है। इसी तरह, सुल्तानपुर जिले का नाम बदलकर कुशभवनपुर करने की मांग कर रहे हैं। इस शहर की स्थापना भगवान राम के पुत्र कुश ने की थी। देवबंद का नाम भी बदलकर देववृंद करने की मांग की जा रही है। देवबंद इस्लामिक मदरसा दारुल उलूम के लिए जाना जाता है, लेकिन दावा है कि प्राचीन हिंदू धर्मग्रंथों में इस स्थान को देववृंद कहा गया है। इसी तरह, शाहजहांपुर का नाम बदलकर शाजीपुर करने की भी मांग उठी थी, जो कि महाराणा प्रताप के करीबी भामाशाह का दूसरा नाम है। गाजीपुर का नाम बदलकर गाधिपुरी करने की मांग हो रही है।


 

देश की जनता कह रही, जो राम को लाए हैं हम उनको लाएंगे: सीएम योगी



- सीएम योगी ने लखीमपुर खीरी के मोहम्मदी के धौरहरा लोकसभा क्षेत्र में जनसभा को किया संबोधित


- बोले सीएम, प्रधानमंत्री के नेतृत्व में नये भारत में आ रहे विकास के नये-नये प्रोजेक्ट



लखीमपुर खीरी, 9 मई: लोकसभा चुनाव- 2024 एक निर्णायक मोड़ पर आ चुका है। अब तक तीन चरणों में आधा चुनाव संपन्न हो चुका है। वहीं बचे चरणों ने पहले से ही रुझान तय कर दिये हैं। पूरे देश का रुझान है कि फिर एक बार मोदी सरकार। देश की जनता जनार्दन जो राम को लाए हैं, हम उनको लाने की बात कह रही है। इस बार देश में पहली बार देखने को मिल रहा है कि किसी सरकार ने 10 वर्ष का कार्यकाल पूरा किया और उसके बाद भी जनता जनार्दन पूरे उत्साह और उमंग के साथ बीजेपी के प्रत्याशियों को जिताकर तीसरी बार मोदी सरकार बनाने जा रही है। भारत की जनता यह कृतज्ञता इसलिए जाहिर कर रही है क्योंकि मोदी सरकार ने देश के विकास, कल्याण और सम्मान के लिए काम किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नए भारत का निर्माण करके वर्तमान और भावी पीढ़ी के भविष्य को उज्ज्वल करने का काम किया है। ये बातें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को लखीमपुर खीरी के मोहम्मदी में धौरहरा लोकसभा क्षेत्र में जनसभा को संबोधित करते हुए कही। इस दौरान उन्होंने लोकसभा प्रत्याशी और सांसद रेखा वर्मा के पक्ष में वोट की अपील की।


नया भारत आतंकवाद और नक्सलवाद को जड़ से खत्म करना जानता है


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वदेशी और स्वधर्म के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले राष्ट्रीय नायक महाराणा प्रताप और भगवान परशुराम की जयंती पर बधाई दी। इस दौरान उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता सतीश वाजपेई और अमित त्रिपाठी की दुखद मृत्यु पर शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की। साथ ही दिवंगत आत्मा की शांति की कामना भी की। सीएम योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में नया भारत दुनिया में सम्मान प्राप्त कर रहा है। इतना ही नहीं यह नया भारत अपनी सीमाओं को सुरक्षित करने के साथ आतंकवाद-नक्सलवाद का जड़ से समाधान करना जानता है। नये भारत में विकास के नये-नये प्रोजेक्ट आ रहे हैं। देश में हाईवे, रेलवे, मेट्रो, वन जिला वन मेडिकल कॉलेज, आईटीएम से ट्रिपल आईटी, वर्ल्ड क्लास यूनिवर्सिटी का निर्माण हो रहा है। देश में कांग्रेस और सपा की सरकार के समय गरीब भूख और इलाज के अभाव में मरता था, लेकिन आज देश के 80 करोड़ लोगों को फ्री में राशन दिया जा रहा है। इसके अलावा 60 करोड़ लोगों को पांच लाख स्वास्थ्य बीमा का लाभ दिया जा रहा है। 5,00,000 की स्वास्थ्य बीमा का कवर मिल चुका है। सीएम ने लमीखपुर की जनता को चुनाव के बाद अयोध्या में रामलला के दर्शन करने का भी न्यौता दिया। उन्हाेंने कहा कि जब आप नई अयोध्या और नई काशी के लिए दर्शन करेंगे तब आपको लगेगा कि हम सतयुग और त्रेता युग में आ गए हैं। अब ऐसे ही हम बाबा गोला गोकर्णनाथ के धाम को भी करने जा रहे हैं, उसके लिए कार्य योजना बन गई है।


बुलेट ट्रेन की स्पीड से आगे बढ़ रहा बीजेपी का गठबंधन


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहले किसान आत्महत्या करता था, वहीं आज 12 करोड़ किसानों को किसान सम्मान निधि का लाभ मिल रहा है। पहले नारी की गरिमा तार तार होती थी, लेकिन आज 12 करोड़ घरों में एक-एक शौचालय बन गया है। सीएम योगी ने कहा कि महाराजा सुहेलदेव का भव्य विजय स्तंभ बनकर तैयार है। वह राष्ट्र रक्षक थे इसलिए सम्मान देना हमारा काम है। वहीं उनका भव्य स्मारक भी बनाया जा रहा है। काशी में काशी विश्वनाथ धाम और अयोध्या में अयोध्या धाम का पुनरोद्धार हो गया है। यह अनवरत जारी है। प्रदेश के हर पौराणिक स्थलों का पुनरोद्धार किया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में यह परिवर्तन देखने को मिल रहा है। यही वजह है कि बीजेपी अबकी बार 400 पार के लक्ष्य की ओर लगातार बढ़ रही है। इतना ही नहीं बुलेट ट्रेन की स्पीड से भारतीय जनता पार्टी का गठबंधन भी आगे बढ़ रहा है। इसमें धौरहरा लोकसभा की जनता को भी योगदान देना है क्योंकि हम लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को प्रदेश में 80 की 80 सीटों पर कमल खिलाने का आश्वासन दिया है।


इस अवसर पर पूर्व केंद्रीय मंत्री कृष्णाराज, प्रदेश सरकार के मंत्री जितिन प्रसाद, विधायक लोकेंद्र प्रताप सिंह, सौरभ सिंह सोनू, शाशांक त्रिवेदी आदि उपस्थित थे।


 


अयोध्या में नहीं तो क्या काबुल-कंधार, कराची और लाहौर में बनेगा राम मंदिर


मुख्यमंत्री ने सीतापुर के सांसद व लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी राजेश वर्मा के लिए फिर की जनसभा


अयोध्या में त्रेतायुग और काशी में सतयुग के हो रहे दर्शनः योगी


दिलाया विश्वासः देश में जल्द ही समान नागरिक कानून भी करेंगे लागू


सपा को घेरा, आतंकियों के मुकदमे वापस लेने की फाइल पर अखिलेश ने किया था हस्ताक्षर


आरोपः हर बड़ा माफिया-अपराधी समाजवादी पार्टी का शागिर्द


सीएम ने चेताया, सुरक्षा में सेंध लगाने वालों को पता है कि ऐसा करने से पहले यमराज जीवन की डोर काट ले जाएंगे


सीतापुर, 9 मईः मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पूरा चुनाव रामभक्तों व रामद्रोहियों के बीच रह गया है। जनता-जनार्दन और रामभक्त कह रहे हैं कि जो राम को लाए हैं, हम उनको लाएंगे, जबकि रामद्रोही कह रहे हैं कि मंदिर बेकार बना है। इसे बनाने की आवश्यकता ही नहीं थी। भारत के अंदर मंदिर की क्या आवश्यकता थी। सीएम ने तंज कसा कि भगवान राम का मंदिर उत्तर प्रदेश के अयोध्या में नहीं तो क्या काबुल-कंधार, लाहौर और कराची में बनेगा। अयोध्या श्रीराम की पावन जन्मभूमि और कोटि-कोटि सनातन धर्मावलंबियों की आस्था की भूमि है। अयोध्या हमारा पवित्र धाम है। आज की अयोध्या त्रेतायुग के रामायण काल की याद दिलाएगी और काशी में सतयुग के दर्शन होंगे।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को बिसवां में आयोजित जनसभा में अपनी बातें रखीं। उन्होंने सीतापुर के सांसद व 2024 लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा प्रत्याशी राजेश वर्मा को फिर से जिताने की अपील की। मुख्यमंत्री ने राष्ट्रनायक महाराणा प्रताप के जन्मदिन की बधाई दी।


नैमिषारण्य के लिए बड़ी कार्ययोजना तैयार, हेलीकॉप्टर-मेट्रो की सुविधा से जोड़ने जा रहे


सीएम ने कहा कि सरकार नैमिषारण्य के लिए भी बड़ी कार्ययोजना लेकर आ चुकी है। फोरलेन कनेक्टिवटी कार्य प्रारंभ हो चुका है। यहां यात्री विश्रामालय बनेंगे, गोमती नदी का रिवर फ्रंट के रूप में विकास होगा, मंदिरों का पुनरोद्धार व सुंदरीकरण, हर व्यापारी का पुनर्वास, नए होटल-रेस्तरां खुलेंगे। इलेक्ट्रिक बस को लखनऊ से जोड़ने की सेवा प्रारंभ कर चुके हैं। हेलीकॉप्टर की सुविधा से भी जोड़ने जा रहे हैं। धीरे-धीरे लखनऊ से बाहर मेट्रो भी वहां तक पहुंचेगी। सीएम ने सुरक्षा के बेहतरीन वातावरण का उदाहरण देते हुए कहा कि रेडिको खेतान ने भी यहां एक हजार करोड़ के निवेश के साथ सैकड़ों नौजवानों के लिए नौकरी-रोजगार के द्वार खोला। ईडी के एक अधिकारी ने नौकरी छोड़कर नौजवानों के भविष्य के लिए आपको बेहतरीन कैंपस उपलब्ध कराया।


देश में जल्द ही समान नागरिक कानून भी करेंगे लागू


सीएम ने कहा कि रामभक्त भारत की सुरक्षा, विकास-गरीबों के उत्थान, विकसित भारत के लिए कार्य कर रहे हैं। रामद्रोही दुनिया में भारत को अपमानित करते हैं। सुरक्षा में सेंध लगाते हैं। रामभक्तों पर गोली चलाते हैं और आतंकियों के मुकदमे वापस लेते हैं। मोदी जी के चमत्कारिक नेतृत्व के कारण देश में परिवर्तन हुआ है। नए भारत में सुरक्षा, सम्मान व विकास के कार्य भी हो रहे हैं। उन्होंने साफ कहा कि यह देश अब अधिक इंतजार नहीं करेगा, जल्द ही समान नागरिक कानून भी लागू करेंगे। कांग्रेस, सपा-बसपा के लोगों के लिए चुनाव सत्ता प्राप्त का माध्यम है, क्योंकि यह परिवार के लिए अधिक से अधिक धन लूट सके। भाजपा आत्मनिर्भर के सपने को साकार करने के लिए सत्ता में आना चाहती है।


हर बड़ा माफिया-अपराधी सपा का शागिर्द


सीएम योगी ने कहा कि कांग्रेस के समय आतंकी विस्फोट होते थे। आमजन कार्रवाई की मांग करते थे तो सरकार कहती थी कि आतंकी सीमापार के हैं। आज आतंकवाद को नेस्तनाबूद कर दिया गया। नया भारत छेड़ने वाले को छेड़ता नहीं है। समाजवादी पार्टी ने नैतिकता खो दी है, इसे जनता के बीच जाने का अधिकार ही नहीं है। इन लोगों ने सत्ता के समय खूब लूट मचाई। परिवार के सिवाय किसी को बख्शा नहीं। यह सिर्फ परिवार, आतंकवादियों, माफिया और अपराधियों की ही पैरवी करते थे। हर बड़ा माफिया-अपराधी सपा का शागिर्द था। यह रामभक्तों पर गोली चलाएंगे और राममंदिर को कहेंगे कि बेकार का काम हुआ है।


आतंकियों के मुकदमे वापस लेने की फाइल पर अखिलेश ने किया था हस्ताक्षर


सीएम योगी ने कहा कि आतंकियों ने हमारी आस्था राम जन्मभूमि अयोध्या, काशी के संकट मोचन, लखनऊ, वाराणसी, अयोध्या कचहरी और रामपुर सीआरपीएफ कैंप पर हमला किया था, लेकिन मुख्यमंत्री बनने के बाद अखिलेश यादव ने सबसे पहले इन आतंकियों के मुकदमे वापस लेने की फाइल पर हस्ताक्षर किया था पर न्यायपालिका ने ऐसा होने से बचा लिया। यह आतंकवादी बाहर निकलकर हमले और विस्फोट करते। आज आपकी सुरक्षा में कोई सेंध नहीं लगा सकता। किसी ने ऐसा सोचा भी तो उसे पता है कि ऐसा करने से पहले यमराज उसके जीवन की डोर काटकर ले जाएंगे। कानून को बंधक बनाने का प्रयास करने वालों की रामनाम सत्य की यात्रा निकल जाएगी।


जनसभा में भाजपा जिलाध्यक्ष राजेश शुक्ला, जिला प्रभारी नीरज सिंह, योगी सरकार के मंत्री राकेश राठौर गुरु, विधायक आशा मौर्या, मनीष रावत, निर्मल वर्मा, विधान परिषद सदस्य पवन सिंह चौहान, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रद्धा सागर, पूर्व विधायक सुनील वर्मा, लोकसभा संयोजक दिनेश तिवारी, कैप्टन मनोज पांडेय की भाभी अनुराधा पांडेय, समाजसेवी शरद चौधरी आदि की मौजूदगी रही।

17 views0 comments

Comments


bottom of page