google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

मंत्रिमंडल विस्तार के साथ Cm Yogi ने क्यों कही ये बात !!



'विकसित उत्तर प्रदेश' के संकल्प की सिद्धि में निभाएंगे महत्वपूर्ण भूमिका: सीएम योगी


मंत्रिमंडल में शामिल नए मंत्रियों को मुख्यमंत्री ने दी शुभकामनाएं


चार नए मंत्रियों को राज्यपाल ने दिलाई शपथ


लखनऊ, 5 मार्च: उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल में शामिल नए मंत्रियों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुभकामनाएं दीं। अपने सोशल मीडिया अकाउंट 'एक्स' पर शुभकामनाएं देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लिखा कि उत्तर प्रदेश सरकार में आज मंत्री पद की शपथ लेने वाले सभी साथियों को हार्दिक बधाई!


पूर्ण विश्वास है कि आप सभी 'मोदी की गारंटी' को धरातल पर उतारते हुए 'विकसित उत्तर प्रदेश' के संकल्प की सिद्धि में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। आप सभी के उज्ज्वल कार्यकाल के लिए मेरी मंगलमय शुभकामनाएं।


राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल ने दिलाई शपथ


योगी मंत्रिमंडल में मंगलवार को चार नए मंत्रियों ने शपथ ली। राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल ने इन्हें शपथ दिलाई। इस दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे।


योगी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला शपथ ग्रहण समारोह मंगलवार को राजभवन के गांधी सभागार में आयोजित किया। योगी सरकार में ओमप्रकाश राजभर, दारा सिंह चौहान, सुनील शर्मा व अनिल कुमार ने मंत्री पद की शपथ ली। इसके साथ ही योगी मंत्रिमंडल में अब 56 मंत्री हो गए हैं। राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी नवनिर्वाचित मंत्रियों को पुष्प देकर शुभकामनाएं दीं।





ओपी राजभर और दारा सिंह चौहान जहां पूर्वांचल में संतुलन बना रहे हैं तो वहीं सुनील कुमार और अनिल कुमार पश्चिम उत्तर प्रदेश में बीजेपी के मिशन को नई रफ्तार देंगे।


ओम प्रकाश राजभर पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई जिलों में राजनीतिक प्रभाव रखने वाली अति पिछड़ी राजभर जाति का प्रतिनिधित्व करते हैं। वहीं दारा सिंह चौहान का संबंध पूर्वांचल के कुछ जिलों में खासी तादाद में मौजूद लोनिया चौहान बिरादरी से है।


एनडीए का घटक बने रालोद को भी मंत्रिमंडल में जगह देकर एनडीए ने लोकसभा चुनाव के दृष्टिगत अपने सामाजिक आधार को और मजबूत करने की कवायद की है। वहीं गाजियाबाद की साहिबाबाद सीट से विधायक सुनील शर्मा को योगी कैबिनेट में जगह देकर ब्राह्मण वोटबैंक को साधने की कोशिश की गई है। इस कदम का फायदा पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी देखने को मिलेगा।


योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल में मुख्यमंत्री और दोनों उप मुख्यमंत्रियों समेत 18 कैबिनेट मंत्री, 14 राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और 20 राज्य मंत्री हैं। इस तरह मंत्रिमंडल के सदस्यों की कुल संख्या 52 है। नियमानुसार मंत्रिमंडल के सदस्यों की अधिकतम संख्या 60 हो सकती है। ऐसे में अभी आठ और सदस्य इसमें शामिल किए जा सकते हैं।

2 views0 comments

Comments


bottom of page