google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

सीएम योगी आदित्यनाथ के पिता के निधन पर शोक सभा



पिता को श्रद्धांजलि देकर सीएम ने टीम-11 की ली बैठक


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट के निधन पर सूबे में शोक की लहर है। लखनऊ में मुख्यमंत्री के आवास पर शोक सभा आयोजित की गई। सीएम योगी ने सोमवार को पिता आनंद सिंह बिष्ट के कल एम्स दिल्ली में निधन के बाद मां को भावुक पत्र भेजा था और कोरोना संक्रमण के चलते अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होनी की बात कही थी।


टीम 11 की बैठक से पहले दो मिनट का मौन


कोरोना वायरस के संक्रमण पर अंकुश लगाने के प्रयास में लगे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को भी अपनी सरकारी आवास पर कोर टीम (टीम-11) के साथ बैठक करने हॉल में पहुंचे। बैठक से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ सभी वरिष्ठ अधिकारियों ने स्वर्गीय आनंद सिंह बिष्ट की आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन रखा।


सीएम आवास पर हुई श्रद्धांजलि सभा



सीएम योगी आदित्यनाथ ने पिता के निधन पर दो मिनट की श्रद्धांजलि देने के बाद बैठक शुरू की। इस दौरान उन्होंने निर्देश दिए हैं कि कोरोना वायरस संक्रमण की प्रभावी रोकथाम की पूल टेस्टिंग और प्लाज्मा थेरेपी को बढ़ावा दिया जाए. उन्होंने कहा कि प्रदेश में ऐसी व्यवस्था हो कि मेडिकल एवं पुलिस टीम संक्रमण से सुरक्षित रहे।

सीएम योगी ने अपनी मां को लिखा भावुक पत्र


सीएम योगी ने सोमवार को कहा था कि अंतिम संस्कार के कार्यक्रम में लॉकडाउन की सफलता तथा महामारी कोरोना को परास्त करने की रणनीति के कारण भाग नहीं ले पा रहा हूं। पूजनीया मां, पूर्वाश्रम से जुड़े सभी सदस्यों से भी अपील है कि वे लॉकडाउन का पालन करते हुए कम से कम लोग अंतिम संस्कार के कार्यक्रम में रहें। पूज्य पिताजी की स्मृतियों को कोटि-कोटि नमन करते हुए, उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित कर रहा हूं।


योगी के बड़े भाई ने किया अंतिम संस्कार


उत्तराखंड के पौड़ी के पास पैतृक गांव पंचूर में सीएम योगी के बड़े भाई मनेंद्र बिष्ट ने पिता को मुखाग्नि दी। आनंद सिंह बिष्ट की अंतिम यात्रा में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, रामदेव, चिदानन्द जी, मदन कौशिक समेत कई गणमान्य लोग शामिल हुए।

मुख्यमंत्री योगी के पिता का निधन


सीएम योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट (89) ने सोमवार को दिल्ली के एम्स में अंतिम सांस ली। 13 मार्च को तबीयत बिगड़ने पर आनंद सिंह बिष्ट को दिल्ली एम्स में भर्ती कराया था। जहां सोमवार सुबह उपचार के दौरान उनका निधन हो गया। सीएम योगी आदित्यनाथ अपने पिता के अंतिम संस्कार में नहीं पहुंचे। सीएम योगी ने कल कहा था कि अंतिम संस्कार के कार्यक्रम में लॉकडाउन की सफलता तथा महामारी कोरोना को परास्त करने की रणनीति के कारण भाग नहीं ले पा रहा हूं। पूजनीया मां, पूर्वाश्रम से जुड़े सभी सदस्यों से भी अपील है कि वे लॉकडाउन का पालन करते हुए कम से कम लोग अंतिम संस्कार के कार्यक्रम में रहें। पूज्य पिताजी की स्मृतियों को कोटि-कोटि नमन करते हुए उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित कर रहा हूं।


राष्ट्रपति और पीएम ने भी जताया शोक


भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी योगी आदित्यनाथ के पिता के निधन पर शोक जताया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सीएम योगी के पिता के निधन पर उनको सांत्वना दी। उन्होंने कहा कि दुख की इस घड़ी में उनकी पूरी संवेदना है। वहीं, सीएम योगी को संबोधित अपने पत्र में पीएम मोदी ने कहा कि स्व. आनन्द सिंह बिष्ट के जीवन की सार्थकता का अनुभव हमें सार्वजनिक जीवन में आप जैसे विलक्षण तत्वज्ञानी के सान्निध्य से होता है। आप जैसे यशस्वी और कर्मठ पुत्र के पिता के रूप में वे एक गौरव पुरुष थे।

भावनाएं काबू कर बैठक करते रहे सीएम



सोमवार को जब मुख्यमंत्री के पिता के निधन का दुखद समाचार आया उस समय मुख्यमंत्री कोरोना से मुकाबले के लिए टीम-11 के अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। खबर मिलने के बाद मुख्यमंत्री ने भावनाओं को नियंत्रित किया। बैठक घंटे भर में खत्म हो गई। मुख्यमंत्री अपने कक्ष में चले गए। अपर मुख्य सचिव गृ़ह अवनीश अवस्थी ने बताया कि पिता के निधन के बावजूद सीएम ने राजधर्म को प्राथमिकता दी।


टीम स्टेट टुडे

2 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0