google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

सीएम योगी का अधिकारियों को अराजक तत्वों से सख्ती से निपटने का निर्देश


लखनऊ, 11 जून 2022 : उत्तर प्रदेश में शुक्रवारको जुमे कीनमाज के बादअराजकता पर मुख्यमंत्रीयोगी आदित्यनाथ बेहदसख्त हैं। टीम-09 के साथ समीक्षाबैठक में उन्होंनेशासन के अधिकारियोंको इन सभीअराजकतत्वों से सख्तीसे निपटने कानिर्देश दिया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथने शनिवार कोअपने सरकारी आवासपर उच्च स्तरीयटीम के साथप्रदेश में विकासकार्य तथा कानून-व्यवस्था की समीक्षाकी। उन्होंने कहाकि विगत दिनोंप्रदेश के विभिन्नशहरों में माहौलबिगाडऩे के लिएहुए अराजक प्रयासोंमें शामिल समाजविरोधीतत्वों के खिलाफकठोरतम कार्रवाई करें। ऐसेअसामाजिक लोगों के लिएसभ्य समाज मेकोई स्थान नहींहै। इस दौरानयह ध्यान रखेंकि किसी भीनिर्दोष का उत्पीडऩन हो, लेकिनदोषी एक भीन बचे।

मुख्यमंत्री ने कहाकि हमारी सरकारने स्वामित्व, घरौनीऔर वरासत जैसेकार्यक्रमों ने आमजनमानसको बड़ी सुविधाप्रदान करने मेंसफलता प्राप्त कीहै। इनकी अद्यतनस्थिति की समीक्षाकी जाए। एकमाह का विशेषअभियान चलाकर निर्विवाद वरासतके सभी मामलोंमें वरासत दर्जकराएं। उत्तराधिकारियों को उनकाहक यथाशीघ्र मिलनाचाहिए। पैमाईश के लिएसभी जिलों मेंई-फाइलिंग कीव्यवस्था हो।

उन्होंने कहा किबरसात के मौसममें बाढ़ एवंअन्य आपदाओं कीस्थिति में स्थापितराहत कैम्पों मेंरहने वाली महिलाओं/किशोरियों को डिग्निटीकिट उपलब्ध कराएजाएं। इस डिग्निटीकिट में उनकेलिए सैनेटरी पैड, साबुन, तौलिया, डिस्पोजेबल बैग, बाल्टी, मास्क आदि शामिलहों।

किसानों को मिलेंउन्नतशील बीज : मुख्यमंत्री नेकहा कि किसानोंको खाद औरउन्नतशील बीज कीसहज उपलब्धता कराईजाए। ऐसे प्रयासहोने चाहिए किएक वर्ष बीजले जाने वालाकिसान अगले वर्षस्वयं बीज उपलब्धकराने में सहायकबने। इससे बीजकी उपलब्धता बढ़ेगीऔर उस किसानकी आय मेंभी बढोतरी होगी।इस सम्बंध मेंकिसानों को प्रोत्साहितकिया जाना चाहिए।यह सुनिश्चित कियाजाए कि किसानहितैषी योजनाओं से एकभी पात्र किसानवंचित न रहे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथने कहा किनिजी क्षेत्र मेंविश्वविद्यालय स्थापित करने केइच्छुक संस्थाओं को सरकारकी ओर सेसभी जरूरी सहयोगदिए जाएं। स्थापनासंबंधी नियमों/अर्हताओं कोयथासंभव सरल भीकिया गया है।ऐसे प्रस्तावों कोकतई लंबित नरखें।
0 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0