google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

सीएम योगी बोले-बिजनौर को विकसित करना है, आप समस्या बताएं, हम समाधान देंगे


बिजनौर, 3 सितंबर 2022 : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने बिजनौर प्रवास के दूसरे दिन सुबह नौ बजे जनपद के उद्यमियों, एक्सपोर्टर, ट्रांसपोर्टर, शिक्षण संस्थानों के मालिकों, प्रमुख चिकित्सक, व्यापारी समेत सभी क्षेत्रों के प्रमुख लोगों के साथ बैठक करके बिजनौर के सर्वांगीण विकास का खाका तैयार किया।

पर्यटन का बड़ा केंद्र बनाना है

मुख्यमंत्री ने कहा कि बिजनौर को विकसित करना है। इसकी पौराणिकता, आध्यात्मिकता, भारतीय संस्कृति, विरासत के अवशेषों को संरक्षित करके पर्यटन का बड़ा केंद्र बनाना है। इसे विश्व पटल पर चमकाना है। इसके लिए आप सुझाव दीजिए। आप समस्याएं और जरूरतें बताएं। हम उनका समाधान देंगे और संसाधन उपलब्ध कराएंगे। कलक्ट्रेट के महात्मा विदुर सभागार में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री ने प्रत्येक क्षेत्र के प्रमुख व्यक्ति से बात की।

यह समस्‍या बताई

उन्होंने पूछा कि बिजनौर के लिए विकास के क्या क्या किया जा सकता है। नगीना से काष्टकला उद्योगपति सलीम व्हील वालों ने कच्चे माल की उपलब्धता की समस्या बताई तथा बिजली व अन्य समस्याओं के समाधान के लिए शिल्पग्राम की स्थापना की मांग की। ताजपुर के तीन हजार वर्ष पुराने घराने से आए कुंवर इंद्रजीत सिंह ने पापुलर और यूकेलिप्टिस पेड़ों के कटान के लिए वन विभाग की अनुमति की बाध्यता खत्म करने के लिए सरकार को धन्यवाद दिया। साथ ही इसकी बिक्री के लिए मंडी की स्थापना की मांग की। बताया कि इस लकड़ी को हरियाणा की मंडी में भेजना पड़ रहा है जिससे हरियाणा को लाभ हो रहा है।

बोले-सरकार आपके साथ है

प्रदेश में मंडी होगी तो प्रदेश को लाभ होगा। कृष्णा कालेज के प्रबंध निदेशक तथा भाजपा के प्रबुद्ध प्रकोष्ट के जिला संयोजक पवन कुमार ने प्रस्ताव दिया कि कृष्णा कालेज ग्रुप का 150 बेड का कृष्णा आयुर्वेदिक हास्पीटल बनकर तैयार है। सरकार यदि इसे पीपीपी माडल के तहत स्वीकार कर ले तो बिजनौर जनपद में एक साथ दो मेडिकल कालेज का लाभ जनता को मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की प्राथमिकता पहले प्रत्येक जनपद में एक-एक मेडिकल कालेज उपलब्ध कराने की है। आप मजबूती के साथ अपना कालेज संचालित करें। सरकार साथ है।

एनजीटी की आपत्तियां

व्यापार मंडल से मुकुल अग्रवाल ने गंगा एक्सप्रेस-वे को बिजनौर से गढ़ मुक्तेश्वर में जोड़ने की मांग की। बताया कि मेरठ-बिजनौर हाइवे से गढ़ की दूरी मात्र 60 किमी है। इससे उत्तराखंड को भी लाभ होगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि सरकार की भी यही मंशा है। इसके निर्माण में एनजीटी की आपत्तियां हैं। जिनके समाधान के लिए सुप्रीम कोर्ट में भी मामला विचाराधीन है। उन्होंने इसकी गति बढ़वाने का आश्वासन दिया।

हर संभव प्रयास करेंगे

व्यापारी सौरभ ने गंगा बैराज को टूरिज्म सेंटर के रूप में विकसित करने की मांग की। बताया कि वहां रोजाना गंगा आरती होती है जिसमें हजारों की भीड़ उमड़ती है। मुख्यमंत्री ने वादा किया कि सरकार इसके लिए हर संभव प्रयास करेगी। रायपुर से आए किसान शरद राजपूत ने बताया कि जैविक खेती से वे खासा मुनाफा कमाते हैं। मुख्यमंत्री ने उत्पादों की आकर्षक पैकेजिंग का सुझाव दिया।

कई अधिकारी रहे मौजूद

किसान रामकरण सिंह ने बताया कि वे एक एकड़ में गन्ने की फसल उगाकर उससे सिरका बनाते हैं। जिससे सालाना आठ लाख की आमदनी कर रहे हैं। इस दौरान विवेक ग्रुप आफ कालेज से एमडी अमित गोयल, बीआइटी कालेज से अनिल सिंह, डा, बीरबल सिंह ने शिक्षा क्षेत्र की समस्याएं रखी तथा सुझाव दिए। डा. नवनीत गर्ग ने चिकित्सा क्षेत्र के विकास के लिए सरकार से सहयोग मांगा। इस दौरान क्षेत्रीय अध्यक्ष मोहित बेनीवाल समेत तमाम अधिकारी मौजूद रहे।

रात्रिविश्राम पर सीएम को दिया धन्यवाद

बैठक में प्रबुद्ध लोगों ने मुख्यमंत्री को इस बात के लिए धन्यवाद दिया कि लंबे अरसे बाद किसी मुख्यमंत्री ने रात में रूककर जनपद का हाल जानने और उसे आगे बढ़ाने के लिए प्रयास किया।

तोहफे में दें नगीना के काष्ठ कला उत्पाद

मुख्यमंत्री ने कहा कि नगीना की काष्ठकला अदभुत है। इसे बढ़ाने के लिए सबकुछ किया जाएगा। उन्होंने अपील की कि इसे बढ़ाने के लिए सभी लोग दीपावली के उपहार के रूप में काष्ठकला के उत्पाद एक दूसरे को दें।

2 views0 comments