google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

छत्तीसगढ़ सरकार ने ऐसा क्या किया कि गौशाला पर प्रियंका ने योगी सरकार को घेरा !



कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने एक बार फिर योगी सरकार पर तीखा प्रहार किया है। योगी सरकार बनने के बाद से प्रदेश में गौवंश, गौसरंक्षण, गौशाला आदि पर प्रथम प्राथमिकता के आधार पर कार्यक्रम चलाए गए। प्रदेश में गौशालाओं और गौसरंक्षण को बढ़ावा दिया गया। बावजूद इसके उत्तर प्रदेश में अन्ना प्रथा और ऐसा गौवंश जो गौ-पालकों के लिए अनुपयोगी है उन्हें गौशालाओं में भी जगह नहीं मिली। शहर हों या गांव छुट्टा जानवरों की समस्या प्रदेश में आमजन, किसान सभी के लिए समस्या ही बनी हुई है।

ऐसे में कांग्रेसशासित छत्तीसगढ़ राज्य की गौधन योजना का जिक्र करते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर निशाना साधा। प्रियंका ने ट्वीट कर कहा है कि यूपी की गौशालाओं में ऐसे वीभत्स दृश्य अब आम हैं जो हमें झकझोरते हैं।



अब इसकी तुलना कांग्रेस की छत्तीसगढ़ सरकार की गोधन न्याय योजना से करिए-


पंचायत में गौठान की स्थापना

गौठान में 2 रु kg में गोबर खरीद

इससे जैविक खाद, दियों का निर्माण

खाद की 10 रु किलो में सरकारी खरीद

गौठान आधारित स्वयं सहायता समूहों का निर्माण। धीरे-धीरे ये समूह आत्मनिर्भर हो रहे।

गोबर खरीद योजना से ग्रामीणों की आय बढ़ी और आवारा पशु समस्या का निदान हुआ

मगर यूपी में “प्रचार ही शासन” को मंत्र बनाकर सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी है।


आपको बताते चलें कि, उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के हाल ही में चार साल पूरे हुए हैं। इस दौरान सरकार लगातार प्रदेश की जनता के सामने अपनी उपलब्धियों और योजनाओं का प्रचार प्रसार कर रही है। इस बीच प्रदेश की कई गौशालाओं की स्थिति सरकारी अनुदान के बावजूद दयनीय बनी हुई है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की गौशाला में गायों की मौत से कई सवाल उठ खड़े हुए हैं।


टीम स्टेट टुडे


विज्ञापन
विज्ञापन

15 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0