google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

देश में नेतृत्व बदलने से जनता के मन में पैदा हुआ है भरोसा-सीएम


लखनऊ, 19 मई 2022 : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश वही है, नेतृत्व बदलने से देश के हर नागरिक के मन में कैसे नया विश्वास जागृत होता है और सरकार कैसे संवेदनशील होकर बिना भेदभाव के योजनाओं को समाज के हर तबके तक पहुंचाने का काम करे ये आज हमें दिख रहा है। राजधानी लखनऊ में 'आजादी का अमृत महोत्सव' के अंतर्गत विद्या भारती द्वारा आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश वही है, नेतृत्व बदलने से देश के हर नागरिक के मन में कैसे नया विश्वास जागृत होता है और सरकार कैसे संवेदनशील होकर बिना भेदभाव के योजनाओं को समाज के हर तबके तक पहुंचाने का काम करती है। सीएम योगी ने कहा कि विद्या भारती राष्ट्रीयता से ओत-प्रोत संस्कारवान पीढ़ी तैयार कर रही है। वहीं, वर्तमान में 'अमृत वर्ष' के अभियान के साथ जुड़कर अमर बलिदानियों को सम्मान भी दे रही है। हर एक व्यक्ति ईमानदारी के साथ अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए आजादी के 'अमृत काल' को जीवन का ध्येय बनाकर कार्य करे। हमें एक सशक्त और समर्थ भारत का निर्माण करना होगा, तब भारत दुनिया का नेतृत्व करता हुआ दिखाई देगा।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश को 1947 में आजादी मिली थी, लेकिन तत्कालीन सरकारों ने देश के अमर बलिदानियों की परिकल्पना को नजरअंदाज करते हुए तुष्टीकरण की राजनीति को जन्म दिया और देश को धर्म, जाति, साम्प्रदायिक भेदभाव और अलगाववाद की ओर धकेल दिया। वर्तमान में नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में देश संप्रदायवाद, जातिवाद, नक्सलवाद और अलगाववाद से ऊपर उठकर एकजुट है। आज सरकारें संवेदनशील होकर समाज के प्रत्येक तबके के लिए बिना भेदभाव के कार्य कर रही हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आजादी के अमर बलिदानियों को नमन करते हुए श्रद्वांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव पर देश की आजादी को अक्षुण्ण बनाए रखने वाले वीर सेनानियों की वीर गाथा को लोगों तक पहुंचाने का जो अभियान शुरू किया गया है, उसके लिए विद्या भारती परिवार को धन्यवाद करता हूं।

उन्होंने कहा कि विद्या भारती ने 1952 में सरस्वती शिशु मंदिर के नाम से पक्कीबाग गोरखपुर में एक विद्यालय का शुभारम्भ किया था, लेकिन आज पूरे देश में राष्ट्रीयता से ओतप्रोत संस्कारवान शिक्षा देने का केंद्र बिंदु बन चुका है। विद्या भारती और इससे जुड़ी हुई संस्थाएं वर्तमान पीढ़ी को खड़ा करने का कार्य कर रही है, जो सराहनीय है। उन्होंने कहा कि विद्या भारती राष्ट्रभक्त और संस्कारवान युवा पीढ़ी निर्माण कर रही है।

उन्होंने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव अभियान से जुड़कर विद्या भारती अपने वीर सैनिकों को सम्मान दिलाने का कार्य कर रही है, जो कि सराहनीय है। इससे प्रत्येक नागरिक के मन में देश की आजादी के प्रति एक नया जज्बा भी पैदा करता है। उन्होंने कहा कि हम सभी देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आभारी हैं कि उन्होंने सम्पूर्ण देश को जोड़ने के लिए आजादी का अमृत महोत्सव मनाने का निर्णय लिया। इस अवसर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तीन पुस्तकों और मेजर जनरल सुधाकर जी की शौर्य गाथा पर बनी डाक्युमेंट्री का विमोचन भी किया।

1 view0 comments