google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर संदिग्ध कार में मिला विस्फोटक, 20 जिलेटिन रॉड बरामद



तो क्या अंबानी के घर को बम से उड़ाने की साजिश थी। जी हां, देश के सबसे बड़े उद्योगपति और रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी के घर के पास एक संदिग्ध कार के मिलने से हड़कंप मच गया। सिल्वर कलर की स्कॉर्पियो कार से 20 जिलेटिन छड़ें बरामद हुई हैं। मौके पर पहुंची पुलिस और बम निरोधक दस्ते की टीमों ने कार को अपने कब्जे में ले लिया है और मामले की जांच शुरू कर दी है।


कैसे रखीं थीं जिलेटिन छड़ें


पुलिस का कहना है कि, गामदेवी पुलिस स्टेशन के अंतर्गत कार्मिकल रोड पर एक संदिग्ध स्कॉर्पियो कार खड़ी मिली। पुलिस को इसकी सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस और बन निरोधक दस्ते की टीमें पहुंच गईं। कार की जांच की गई जिसमें विस्फोटक सामग्री बनाने में इस्तेमाल होने वाली जिलेटन छड़ें बरामद हुई हैं। बताया जा रहा है कि इन्हें असेंबल नहीं किया गया था। मामले में आगे की जांच जारी है।


महाराष्ट्र सरकार ने 'क्राइम ब्रांच को सौंपी जांच


गृह मंत्री अनिल देशमुख ने का कहना है कि अंबानी के घर के पास मिले संदिग्ध वाहन और विस्फोटक की जांच मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई है। जो भी असलियत है, वह जांच में जल्द सामने आएगी।


क्या है जिलेटिन, कितना खतरनाक?


जिलेटिन एक विस्फोटक सामग्री है। तकनीकी भाषा में इसे नाइट्रोसेल्यूलोज या गन कॉटन भी बोला जाता है। इसे नाइट्रोग्लिसरीन या नाइट्रोग्लायकोल में तोड़कर इसमें लकड़ी की लुगदी या शोरा मिलाया जाता है। यह धीरे-धीरे जलता है और आमतौर पर बिना डेटोनेटर्स के विस्फोट नहीं कर सकता। जिलेटिन का उपयोग गिट्टी क्रशर पर चट्टानों को तोड़ने के लिए किया जाता है। पहाड़ों को तोड़ने के लिए भी विस्फोटक के तौर पर इसका इस्तेमाल किया जाता है। इसके इस्तेमाल के दौरान काफी सावधानी रखनी पड़ती है। आतंकी इसका इस्तेमाल आरडीएक्स और अन्य विस्फोटकों के साथ करते हैं।


टीम स्टेट टुडे


विज्ञापन
विज्ञापन

21 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0