google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

गाजियाबाद: हथियार बनाने की फैक्टरी का खुलासा, पांच गिरफ्तार


गाजियाबाद, 22 दिसंबर 2021 : उप्र की गाजियाबाद पुलिस ने मुरादनगर क्षेत्र में हथियार बनाने की फैक्टरी पकड़ी है। यह फैक्टरी मेरठ का गिरोह चला रहा था, जहां ऑन डिमांड हथियार बनाए जा रहे थे। पांच आरोपी गिरफ्तार हैं। उनके कब्जे से बड़ी संख्या में हथियार और उन्हें बनाने के उपकरण मिले हैं। पुलिस का दावा है कि विधानसभा चुनाव में इन हथियारों से खूनखराबा हो सकता था।


ये आरोपी पकड़े गए

पकड़े गए आरोपी अमन उर्फ अन्नू रांगड़, नूर हसन सैफी, सलमान कुरैशी, सुहैल मलिक और यूसुफ रांगड़ हैं। 4 आरोपी अब्दुल सलाम, हाजी जुल्फिकार, चांद पहलवान और शाहिद मामा फरार हैं। सभी आरोपी मेरठ जिले में लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं। इनसे 14 तमंचे, एक पिस्टल, एक बंदूक, 14 नाल, पिस्टल की 5 मैगजीन, कारतूस और अन्य उपकरण मिले हैं, जिनसे हथियार बनाये जाते हैं।

मेरठ का गैंग चला रहा था फैक्ट्री


क्राइम ब्रांच प्रभारी अब्दुर रहमान सिद्दीकी ने बुधवार को बताया कि यह फैक्टरी मुरादनगर क्षेत्र के एक मकान में चल रही थी। सटीक सूचना पर पुलिस टीम ने मंगलवार देर रात छापेमारी की। यहां तमंचे और पिस्टल बनाई जा रही थी। फैक्टरी से तैयार हथियारों की सप्लाई गाजियाबाद, मेरठ समेत एनसीआर के जिलों में थी। आरोपियों ने यह मकान मेरठ निवासी जहीरुद्दीन से 20 हजार रुपए महीना किराए पर ले रखा था। इससे पहले जहीरुद्दीन खुद भी इसी मकान में अवैध शस्त्र फैक्टरी चलाता था। आरोपी यहां हथियार खुद बनाते थे और कारतूसों की सप्लाई राधना मेरठ निवासी रहीस लंबू और सोनू से लेते थे।

1 view0 comments

Comments


bottom of page