google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

गोरखनाथ मंदिर पर हमला, लगे अल्लाहू-अकबर के नारे, कब-क्या हुआ.. जानिए पूरी बात


लखनऊ, 4 अप्रैल 2022 : रविवार का दिन। शाम के करीब 7 बज रहे थे। गोरखपुर के प्रसिद्ध गोरखनाथ मंदिर की सुरक्षा में लगी पीएसी की बटालियन के जवान गोपाल गौड़ और अनिल कुमार पासवान मंदिर के दक्षिणी गेट पर ड्यूटी पर तैनात थे। इसी समय ऐसी वारदात हुई, जिसके बारे में उन्होंने सोचा भी नहीं होगा। मंदिर के उत्तरी और पूर्वी गेट को पारकर एक युवक तेजी से आया और मुख्य गेट पर तैनात सिपाही गोपाल के करीब पहुंच गया। वह सिपाही से उसके हथियार छीनने लगा। सुरक्षाकर्मी जब तक संभलता, उतने में ही हमलावर ने एक धारदार हथियार से उस पर हमला करना शुरू कर दिया। शोर सुनकर वहां खड़े एक अन्य सिपाही सुनील वहां भागते हुए पहुंचे तो हमलावर ने उन्ंहें भी लहूलुहान कर दिया।

इतनी देर में वहां तैनात अन्य सुरक्षाकर्मियों को आभास हो गया कि मंदिर पर हमला हुआ है। वे तेजी से वारदात स्थल पर भागे। उनको आता देख हमलावर ने जोर-जोर से अल्लाह-हू-अकबर के नारे लगाने शुरू कर दिए। काफी मशक्कत के बाद सुरक्षाकर्मियों ने हमलावर पर काबू पा लिया और मंदिर के साइकिल स्टैंड के पास उसे दबोच लिया। मामले की जानकारी हुई तो पुलिस के उच्चाधिकारी भी मौके पर पहुंच गए।

क्या है मामला

गोरखपुर के मशहूर गोरक्षनाथ मंदिर पर हुए इस हमले ने प्रशासनिक अमले में हड़कंप मचा दिया है। हालांकि, हमलावर किसी आतंकी संगठन से संबद्ध है, इसकी पुष्टि नहीं हुई है। जानकारी के मुताबिक आरोपी का नाम अहमद मुर्तजा है और वह गोरखपुर का ही रहने वाला है। मुर्तजा ने आईआईटी मुंबई से इंजिनियरिंग की है। सुरक्षाबलों ने जब मुर्तजा को पकड़ा तो वह बार-बार एक ही चीज दोहरा रहा था कि वह चाहता है कि कोई उसे गोली मार दे। इस मुठभेड़ में वह घायल भी हुआ है, जिसके बाद उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

अस्पताल में भर्ती होने से पहले मुर्तजा ने बताया कि उसकी पत्नी उसे छोड़कर चली गई है। उसकी नौकरी छूट गई है। इससे वह डिप्रेशन में है और कई रातों से सो नहीं पाया है। मुर्तजा ने यह भी बताया कि वह चाहता है कि कोई उसे गोली मार दे। यही वजह थी कि उसने गोरखनाथ मंदिर के सुरक्षाकर्मियों पर हमला किया।

खैर, मामले की असलियत क्या है, पुलिस इसका पता लगा रही है। हमलावर के पास से धारदार हथियार, पैन ड्राइव, लैपटॉप और हवाई जहाज का टिकट बरामद किया गया है। पुलिस को आशंका है कि मुर्तजा के साथ उसका कोई साथी भी इस घटना को अंजाम देने में मददगार था। इसलिए पुलिस इलाके में तलाशी अभियान चला रही है। आरोपी युवक के पिता से भी पूछताछ की जा रही है। इन सबके बीच एहतियातन गोरखनाथ मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था भी सख्त कर दी गई है।

47 views0 comments