google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

भारत बायोटेक के MD और सुचित्रा एला को पद्म भूषण, सोनू निगम को भी मिला पुरस्कार


नई दिल्ली, 28 मार्च 2022 : भारत बायोटेक के कोवैक्सिननिर्माता के एमडीडाक्टर कृष्णा मूर्ति एलाऔर सुचित्रा कृष्णाएला को पद्मभूषण पुरस्कार सेसम्मानित किया गयाहै। सोमवार कोराष्ट्रपति राम नाथकोविन्द ने उन्हेंपद्म भूषण सेसम्मानित किया। भारत बायोटेकऔर सीरम इंस्टीट्यूटआफ इंडिया दोनोंने देश कोकोरोना वैक्सीन उत्पादन मेंआत्मनिर्भर बनने कीओर अग्रसर कियाहै। कोवैक्सिन भारतकी पहली स्वदेशीकोरोना वैक्सीन है। डाक्टरकृष्णा मूर्ति को पुरस्कृतकरने के साथही राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द नेगायक सोनू निगमको भी पद्मश्री पुरस्कार सेसम्मानित किया है।

1969 में तमिलनाडुके एक तेलुगुभाषी किसान परिवारमें जन्मे डाक्टरकृष्णा एला नेअपने कृषि विभागके हिस्से केरूप में फार्मास्युटिकलऔर लाइफ साइंसेजकंपनी बायर सेजुड़कर अपने करियरकी शुरुआत कीथी। बाद मेंवे उच्च अध्ययनकरने के लिएअमेरिका चले गएऔर 1996 में हैदराबादमें एक छोटीप्रयोगशाला स्थापित करने केलिए लौट आए।इस दौरान उन्होंनेइसका नाम उन्होंनेभारत बायोटेक रखा।

वर्तमान में वहभारत बायोटेक इंटरनेशनललिमिटेड के अध्यक्षऔर प्रबंध निदेशकहैं। आणविक जीवविज्ञान में एकशोध वैज्ञानिक डाक्टरकृष्णा एला कादृढ़ विश्वास हैकि टीके केविकास में नवीनतकनीक संक्रामक रोगोंके कारण होनेवाली सार्वजनिक स्वास्थ्यसमस्याओं को हलकरने के लिएआवश्यक है।

2 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0