google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

जयंत चौधरी के पास 52 करोड़ से अधिक की संपत्ति, पत्नी व बेटियां भी करोड़पति


लखनऊ, 31 मई 2022 : राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने सोमवार को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन किया। जयंत चौधरी भले ही 52 करोड़ रुपये से अधिक की चल-अचल संपत्ति के मालिक हैं लेकिन उनके पास न तो कार है और न ही दोपहिया वाहन। वह सोने-चांदी का भी शौक उन्हें नहीं है। उनके ऊपर 2.48 करोड़ रुपये की देनदारियां भी हैं।

राज्यसभा चुनाव में नामांकन दाखिल करते समय सोमवार को रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी ने जो शपथ पत्र दाखिल किया उसके अनुसार जयंत की स्वयं 6.69 करोड़ की चल व 36.30 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति है। उनकी पत्नी चारू सिंह के पास 2.94 करोड़ की चल व दो करोड़ रुपये की अचल संपत्ति है।

रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी की दोनों बेटियां साहिरा व इलिशा भी करोड़पति हैं। साहिरा के पास 2.44 करोड़ की चल-अचल संपत्ति है जबकि इलिशा के पास दो करोड़ रुपये की संपत्ति है। नकदी की बात की जाए तो जयंत के पास मात्र 12 हजार रुपये हैं जबकि पत्नी चारू के पास दो लाख रुपये हैं। चारू के पास 30 लाख रुपये के जेवर भी हैं। लंदन स्कूल आफ इकोनामिक्स एंड पालिटिकल साइंस से एमएससी एकाउंटिंग एंड फाइनेंस करने वाले जयंत के ऊपर एक भी आपराधिक मुकदमा दर्ज नहीं है।

सोमवार को विधान भवन में नामांकन प्रक्रिया पूरी करने के बाद जयंत चौधरी ने राज्यसभा भेजे जाने को अपना सम्मान बताते हुए अखिलेश व गठबंधन के दूसरे दलों का आभार जताया। उन्होंने कहा कि वह यूपी के किसानों और युवाओं की आवाज संसद में उठाएंगे। साथ ही उन्होंने एक बार फिर 2024 का लोक सभा चुनाव अखिलेश यादव के साथ लड़ने का अपना वादा दोहराया।

जयंत चौधरी ने कहा कि 'मुझे उम्मीद है कि जिस तरह गठबंधन मजबूती से लड़ता रहा है, उसी एकजुटता के साथ हम आगे बढ़ेंगे। मैं अखिलेश यादव और गठबंधन के सभी कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देता हूं। जनता ने और सपा गठबंधन ने जो आशीर्वाद दिया है वह हमेशा याद रहेगा। यूपी के प्रतिनिधि के तौर पर मैं यहां के मुद्दों को पुरजोर तरीके से उठाऊंगा।'

उत्तर प्रदेश की 11 राज्यसभा सीटों के लिए 10 जून को होने वाले चुनाव में सपा तीन सीटों पर अपने प्रत्याशी उतार रही है। सपा ने जयंत चौधरी को सपा-रालोद गठबंधन का साझा उम्मीदवार बनाया है। जयंत के अलावा कांग्रेस पार्टी छोड़ चुके यूपीए सरकार में केंद्रीय मंत्री रहे कपिल सिब्बल व जावेद अली खां को सपा ने चुनाव मैदान में उतारा है। यह दोनों पहले ही अपना नामांकन कर चुके हैं।
3 views0 comments