google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

सुशांत की मौत पर सीबीआई जांच से क्यों घबराई दिख रही है महाराष्ट्र सरकार



सुप्रीम कोर्ट ने बॉलिवुड ऐक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच मुंबई पुलिस से लेकर सीबीआई को सौंप दी है। इसके बाद चौतरफा घिरी उद्धव सरकार बचाव की मुद्रा में दिख रही है। कोर्ट के जजमेंट के करीब 6 घंटे बाद मीडिया के सामने आए गृहमंत्री ने बेहद सधी हुई प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने भी अपने ऑब्जर्वेशन में माना है कि मुंबई पुलिस ने सही तरीके से जांच की है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए देशमुख ने कहा, 'सुप्रीम कोर्ट ने अपने जजमेंट में साफ लिखा है कि मुंबई पुलिस ने जो जांच की, वह बेहद प्रफेशनल तरीके से की है। कोर्ट ने माना है कि मुंबई पुलिस की जांच बहुत सही तरीके से हुई।


फैसला सुप्रीम कोर्ट का, गृहमंत्री का केंद्र पर निशाना


हालांकि उन्होंने कोर्ट के फैसले के जरिए केंद्र सरकार पर भी निशाना साधा और तंज कसते हुए कहा, 'बाबा साहेब आंबेडकर के संविधान में जो फेडरल स्ट्रक्चर (संघीय ढांचे) यानी केंद्र-राज्य के संबंध के बारे में लिखा है उस पर भी चिंतकों और संविधान एक्सपर्ट्स को विचार करने की जरूरत है।

गृहमंत्री ने कहा, कोर्ट के आदेश के पैरा 34 के हिसाब से चलेंगे


गृहमंत्री अनिल देशमुख ने सीबीआई के समानांतर मुंबई पुलिस की जांच की संभावना से खुले तौर पर इनकार नहीं किया। उन्होंने कहा, 'राज्य सरकार सुप्रीम कोर्ट के जजमेंट के पैराग्राफ 34 में दी टिप्पणी के अनुसार चलेगी।' पैराग्राफ 34 में कोर्ट ने साफ किया है कि अगर भविष्य में सीआरपीसी की धारा 175 (2) के तहत संज्ञेय अपराध के घटित होने की पुष्टि होती है तो मुंबई पुलिस की ओर से केस में एक समानांतर जांच से इनकार नहीं किया जा सकता।


कोर्ट के फैसले के बाद महाराष्ट्र में हलचल तेज


सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच सीबीआई को सौंपने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद महाराष्ट्र में हलचल तेज हो गई है। कोर्ट के फैसले को मुंबई पुलिस और उद्धव सरकार के लिए एक बड़े झटके के तौर पर देखा जा रहा है। मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने बुधवार शाम मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मुलाकात की। दोनों के बीच मुलाकात करीब आधे घंटे तक चली। इसके बाद पुलिस कमिश्नर ने गृह मंत्री अनिल देशमुख से भी मुलाकात की।

संजय राउत बोले- बिहार चुनाव की वजह से हो रही राजनीति


सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि मुंबई पुलिस जांच के लिए पूरी तरह सक्षम थी, इसमें सीबीआई जांच की जरूरत नहीं थी। मगर बिहार चुनाव की वजह से मामले में राजनीति हो रही है। बिहार के डीजीपी को निशाने पर लेते हुए राउत ने कहा, 'बिहार के डीजीपी किस बात से इतना खुश हैं जो नाच-नाच कर सब जगह बता रहे थे। वर्दी की एक गरिमा होती है, उनके हाथ में बस बीजेपी एक झंडा होना बाकी रह गया था।' संजय राउत ने तंज कसते हुए कहा कि बिहार में क्या कम अपराध हो रहे हैं? हमने वहां के भी बहुत सारे केस देखे हैं जो सीबीआई को ट्रांसफर किए गए।


टीम स्टेट टुडे



4 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0