google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

हाईटेंशन लाइन की चपेट में आई मां-बेटी झुलसी


लखनऊ, 19 मई 2003 : हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से मां बेटी गंभीर रूप से घायल हो गई। दोनों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अभी भी स्थिति नाजुक बनी हुई है। महिला के शरीर के कई अंग फट गए हैं तो वही बच्ची का भी बाया हाथ काफी जला हुआ है।

भोजीपुरा थाना क्षेत्र के भरताना गांव की रहने वाली सोमवती और उनकी बेटी पिंकी शुक्रवार सुबह अपने खेत पर जानवरों को चारा लेने गई थी। खेत में पहले से ही 11 हजार की लाइन टूटी हुई पड़ी थी।

गांव वालो के मुताबिक खेत के चारों ओर की गई तारकशी पर वह लाइन पड़ी थी। जैसे ही पिंकी और उसकी मां सोमवती खेत की तरफ पहुंची और तार से टच होते ही चिपक गई। चीखने की आवाज सुनते ही खेत पर आसपास काम करने वाले लोग आए और बचाकर दोनों को बचाया।

आरोप है कि जब लाइन टूटी तो जेल को फोन करके सप्लाई बंद करने के लिए कहा गया था। कुछ देर सप्लाई बंद रही लेकिन बाद में यही नहीं दोबारा से सप्लाई शुरू कर दी। जिसकी वजह से यह हादसा हुआ। दोनों मां बेटी की हालत काफी गंभीर बनी हुई है।


0 views0 comments

Comments


bottom of page