google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

सांसद रवि किशन बोले - 'पहले समझ नहीं आता था कि नंदी जी उधर क्यूं देख रहे हैं?'


वाराणसी, 28 मई 2022 : गोरखपुर के दिव्यांग बेटे के पैर का सफल इलाज होने के बाद हालचाल लेने आये सांसद रवि किशन को देख भावुक मां के आंखों में खुशी के आंसू निकल आये। मां ने रवि किशन को भगवान कहा। गोरखपुर के रहनेवाले योगेंद्र पासवान गरीब परिवार से हैं जिनके इकलौते बेटे की दुर्घटना में पैर खराब होने के बाद दर दर की ठोकरें खाने के बाद श्रेयश आठ वर्ष की मां उषा पासवान और दादी विद्या ने गोरखपुर के सांसद और फ़िल्म अभिनेता रवि किशन से इलाज की गुहार लगाई थी। वहीं रवि किशन ने ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर भी कहा कि पहले नंदी ज्ञानवापी मस्जिद की ओर क्‍यों देख रहे हैं यह समझ में नहीं आता था।

रवि किशन ने परिवार की गरीबी और लाचारी को देखते हुए वाराणसी में ओमेगा प्लस हॉस्पिटल सुन्दपुर स्थित डॉक्टर कर्मराज सिंह से इलाज का अनुरोध किया। यहां श्रेयश के सफल इलाज के दौरान सांसद रवि किशन शुक्रवार की शाम ओमेगा प्लस अस्पताल में हालचाल और कुशलक्षेम पूछने आये। रवि किशन ने प्यार से दिव्यांग को सहलाते हुए कहा कि काशी की नगरी में महादेव के आशीर्वाद से सब संभव हो जाता है। कहा कि गरीबी से उठा हूं और भविष्य में भी इस बच्चे के लिए हर संभव मदद करूंगा। उन्होंने बताया कि 2008 में उनके पिताजी के कूल्हे का सफल ऑपरेशन भी डॉ कर्मराज ने ही किया था। रवि किशन ने कहा कि डॉ कर्मराज गरीबों की हमेशा मदद करते हैं इसके लिए आभार है। रवि किशन ने कहा कि गरीबों की सेवा के लिए ही राजनीति में आया हूं।

रवि किशन के जेहन में भी खटक रहा था नंदी का उधर देखना

ओमेगा अस्पताल में प्रेसवार्ता के दौरान सांसद रवि किशन ने सवाल कब जवाब में कहा की काशी स्वर्ग है और मैं शिवभक्त हूं। जब भी महादेव के दर्शन को आता था तो समझ में ये नहीं आता था कि नंदी जी उधर क्यूं देख रहे हैं। फिलहाल इस मामले को लेकर कहा कि मामला न्यायालय में चल रहा है। गोरखपुर के सांसद होने के कारण सबकी नजरें हमारे ऊपर रहती हैं इसलिए इसपर कोई टिप्पणी नहीं करूंगा। मेरा बोलना विपक्ष को तीखा लगता है।

सदन में अखिलेश यादव की झल्लाहट पर कहा कि 20 साल तक अपना भविष्य नहीं देख रहे

सदन में अखिलेश यादव की आपत्तिजनक भाषा पर रवि किशन ने कहा कि मजबूत विपक्ष के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के पिता भी बड़े नेता हैं।सदन की मर्यादा और इस तरह की भाषा से मैसेज गलत गया है। अब लगता है 20- 30 साल तक अपना भविष्य नहीं देख पा रहे हैं।सदन में अमर्यादित भाषा को लेकर युवा वर्ग और जनता काफी नाराज है।रवि किशन ने कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था काफी मजबूत है ।नियम और कानून के दायरे में रहकर सदन जैसे मंदिर की मर्यादा रखना चाहिए क्योंकि उसे दुनियां देखती है।

4 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0