मुख्तार की विधायकी जाएगी, नहीं रहेगा विधानसभा सदस्य, योगी सरकार ने शुरु की कवायद




गली से गुंडई शुरु कर राजनीति में लोगों को डरा-धमकाकर और मुस्लिम तुष्टीकरण के सहारे अपनी राजनीति चमकाने वाले अंसारी खानदान का मुख्तार योगीराज में बांदा की जेल में बेबस और लाचार है। उसके गुनाहों का हिसाब होना है इसलिए पंजाब से यूपी लाया जा चुका है। अपराध की पराकाष्ठा पार करने वाले मुख्तार अंसारी की खबर लिखते समय थोड़ा सा लिहाज अगर करना पड़ता है तो वो इसलिए क्योंकि अभी भी वो एक विधायक है। बहुजन समाज पार्टी का मऊ से विधायक। यूपी आने के बाद मुख्तार की मुसीबतें बढ़ना तय है और उसकी शुरुआत दिखाई भी देने लगी है।


योगी सरकार मुख्‍तार अंसारी की विधानसभा की सदस्यता को खत्म करने की कार्रवाई भी जल्‍द शुरू कर सकती है। उत्तर प्रदेश के संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना ने बड़ा बयान द‍िया है। उन्होंने कहा है क‍ि मुख्तार अंसारी की विधानसभा सदस्यता खत्‍म करने को लेकर कानूनी राय ली जाएगी। कई दिनों तक लगातार सदन की कार्यवाही में शामिल न होने पर भी सदस्यता रद्द करने का नियम है।


क्या है नियम


नियम है है कि अगर कोई विधानसभा सदस्य विधानसभा की कार्यवाही में शामिल होने से 60 दिन तक अनुपस्थित रहता है तो आर्टिकल 190 के तहत उसकी सदस्यता ख़त्म हो सकती है। इस आर्टिकल 190 के अलावा मुख़्तार के ख़िलाफ़ दर्ज आपराधिक मामलों को भी सदस्यता ख़त्म करने का आधार यूपी सरकार बनायेगी।


क्या कहना है विधानसभा अध्यक्ष का


उत्तर प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित से जब इसके बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, "अगर कोई सदस्य लगातार 60 दिन अनुपस्थित रहता है तो उसके विरुद्ध माननीय सदन कार्रवाई कर सकता है। अगर इस मामले में भारतीय जनता पार्टी की तरफ से कोई याचिका आती है तो उसपर निर्णय होगा। मुख्तार अंसारी 60 दिन से ज्यादा से सदन की कार्रवाई में अनुपस्थित रहा है।


कहां है मुख्तार


मुख्तार अंसारी अब यूपी की बांदा जेल में शिफ्ट किया जा चुका है। उत्तर प्रदेश पुलिस पंजाब की रोपड़ जेल से करीब 900 किलोमीटर का सफर तय करने के बाद आज सुबह साढ़े चार बजे बांदा जेल पहुंची। जेल पहुंचते ही मुख्तार का मेडिकल टेस्ट किया गया। खबर मिली है कि मुख्तार अंसारी जेल पहुंचने के बाद खुद चलकर बैरक के अंदर गया। अभी तक वो सिर्फ व्हील चेयर पर दिखाई दे रहा था। इससे साफ है कि मुख्तार एनकाउंटर के डर से ही व्हील चेयर पर चलने का ड्रामा कर रहा था।


क्या कहा यूपी के जेलमंत्री ने


मुख्तार को यूपी की बांदा जेल लाए जाने पर योगी सरकार में जेल मंत्री जय कुमार सिंह ने कहा कि जब से योगी आदित्यनाथ सरकार आई है गुंडे, माफिया और अपराधी भयभीत हैं। उनको लगता है कि UP हमारे लिए सुरक्षित नहीं है। अपराधियों में खौफ होना जरूरी है। सरकार भयमुक्त समाज की स्थापना के संकल्प के साथ आई थी।


खैर मुख्तार यूपी की जेल में पहुंच चुका है। अब देखना है कि योगी सरकार कितनी ताबड़तोड़ कार्रवाई करती है। वर्ना ये समझा जाएगा कि मुख्तार सिर्फ एक सियासी मोहरा है।


टीम स्टेट टुडे


विज्ञापन
विज्ञापन


46 views0 comments