google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

पीएम मोदी के मंच से हटाए गए सांसद पकौड़ी लाल, जानिए क्या रही वजह


लखनऊ, 2 मार्च 2022 : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के छठे चरण का चुनाव तीन मार्च को है। अब विभिन्न दलों के नेताओं का पूरा फोकस सातवें चरण के चुनाव की ओर हो गया है। इस चरण के चुनाव वाले क्षेत्रों में स्टार प्रचारक ताबड़तोड़ रैलियां कर रहे हैं। इसी क्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को सोनभद्र में जनसभा को संबोधित किया। सभा में उनके संबोधन से पहले क्षेत्र के प्रत्याशी और अन्य बड़े नेता मौजूद रहे, लेकिन इसी दौरान राबर्ट्सगंज से अपना दल (एस) के सांसद पकौड़ी लाल कोल मंच से हटा दिया गया।

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले के राबर्ट्सगंज से अपना दल (एस) के सांसद पकौड़ी लाल कोल अपने बयानों को लेकर अक्सर विवादों में रहते हैं। पिछले दिनों मीरजापुर में एक कार्यक्रम में सवर्णों को लेकर अपशब्दों का इस्तेमाल करने का उनका वीडियो वायरल हो गया था। इसे लेकर समाज के लोगों में काफी आक्रोश है। माना जा रहा है कि इसी आक्रोश के मद्देनजर सांसद पकौड़ी लाल कोल को मंच से हटाया गया है।

बता दें कि सोनभद्र केहलिया विकास खंड के बबुरा रघुनाथ सिंह गांव के किरका बस्ती में 18 अक्टूबर, 2021 को हिम्मत कोल की तीसरी पुण्यतिथि पर अपना दल (एस) सांसद पकौड़ी लाल कोल पहुंचे थे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सांसद पकौड़ी लाल कोल कि जुबान फिसल गई। जिसके वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। सांसद ने ब्राह्मण और ठाकुर को लेकर विवादित टिप्पणी कर दी, जिसके बाद जमकर बवाल हो गया।

सांसद पकौड़ी लाल कोल के इस बयान के बाद केंद्रीय राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल का बयान भी आया था। अनुप्रिया पटेल ने कहा कि वह अमर्यादित भाषा के लिए तत्काल क्षमा मांगें। उन्होंने कहा कि किसी भी धर्म या जाति विषय पर अमर्यादित भाषा का उपयोग करना अपना दल के संस्कारों का हिस्सा नहीं है। मैंने अपने पार्टी के सांसद पकौड़ी लाल कोल को अमर्यादित भाषा के लिए तत्काल क्षमा मांगे के लिए कहा है।
0 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0