google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

राजभर सहित समर्थकों पर केस के विरोध में सपा-सुभासपा का प्रदर्शन


गाजीपुर, 13 मई 2022 : विगत दिनों करीमुद्दीनपुर थानाक्षेत्र के पहदरिया (मानसपुर) में हुए विवाद के बाद कार्रवाई की मांग को लेकर शुक्रवार को सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर के समर्थन में सपा और सुभासपा के सभी विधायक व पदाधिकारी सरयू पार्क में धरने पर बैठ गए। जिले के सातों विधायकों के अलावा बलिया से पूर्व नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी व विधायक भी शामिल होंगे। सुभासपा और सपा समर्थकों का जमावड़ा लगने लगा है। इस प्रकरण को लेकर समाजवादी पार्टी और सुभासपा पहली बार एक साथ एक मंथ पर आए हैं और धरना प्रदर्शन के जरिए विपक्षी एकता को धार देने की तैयारी के क्रम में इसे बड़ी पहल मानी जा रही है।

राजभर बाहुल्य इस गांव में पिछले मंगलवार को पहुंचे ओमप्रकाश राजभर की गाड़ियों का काफिला खड़ा होने से एक युवक की बाइक से कार में हल्की टक्कर हो गई थी। इसके बाद ओमप्रकाश राजभर के समर्थकों से युवक का विवाद हो गया था। नौबत हाथापाई और गिरेब5 पकड़ने तक पहुंच गई थी। युवक के साथ अभद्रता की सूचना पर उसके समर्थक भी आ गए। इसके बाद वहां विवाद हो गया। दोनों पक्षों के ग्रामीण ही आमने सामने आ गए थे। ग्रामीणों का कहना था कि ओमप्रकाश राजभर के साथ कुछ भी नहीं हुआ। वहीं अब प्रदर्शन के दौरान दोनों दलों के कार्यकर्ता और पदाधिकारी एकत्रित हो रहे हैं।

पुलिस जांच में भी यही बात सामने आई है। लेकिन ओमप्रकाश राजभर ने हमले का प्रयास बताकर ट्वीट किया। इसके बाद सुभासपा के नेता गांव पहुंचे थे। एडक बाद धरना दिया था।अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण आरडी चौरसिया ने पहुंचकर मामला शांत कराया था। दूसरी तरफ से बलिया सांसद के प्रतिनिधि व भाजपा नेता पहुंच गए थे। पुलिस ने दोनों तरफ से 16- 16 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था।सुभासपा ने तीन दिन का समय आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस को दिया था।इसके बाद शुक्रवार को धरने की घोषणा की थी।

19 views0 comments

Comments


bottom of page