google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

उपद्रवियों पर चलने लगा बुलडोजर, ढहाया गया मुख्य आरोपित के रिश्तेदार का अवैध निर्माण


कानपुर, 11 जून 2022 : राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द तथाप्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कीतीन जून कोमौजूदगी में जुमाकी नमाज केबाद बवाल करनेवालों पर प्रदेशसरकार का शिकंजाकस गया है।शुक्रवार को कानपुरमें जुमा कीनमाज शांतिपूर्ण माहौलमें सम्पन्न होनेके बाद कानपुरजिला प्रशासन शहरका माहौल बिगाडऩेवालों के खिलाफएक्शन में आगया। कानपुर में उपद्रवियोंके ऊपर तोपुलिस लगातार कार्रवाईकर रही है।अब उनसे जुड़ेलोगों की अवैधसम्पत्ति पर बुलडोजरचलना भी शुरूहो गया है।

शनिवार को केडीएउपाध्यक्ष अरविंद सिंह केआदेश पर केडीएका अमला भारीफोर्स के साथबेनाझाबर स्थित कारोबारी मोहम्मदइश्तियाक की अवैधबिल्डिंग पर बुलडोजरसे ध्वस्तीकरण कीकार्रवाई शुरू कीहै। बड़ी संख्यामें पुलिस बलके साथ केडीए, प्रशासन के अधिकारीव आरएएफ केजवान भी मौकेपर हैं। वैसेतो कहा जारहा है किये बिल्डिंग अवैधरुप से बनीथी तथा इसकेढहाने का आदेशपहले ही होचुका था, परंतुगत दिनों कीहिंसा के पीछेमास्टर माइंड हयात जफरहाशमी का मोहम्मदइश्तियाक रिश्तेदार बताया जारहा है।

यह भी कहा जा रहा है कि इस इमारत के निर्माण में हयात जफर हाशमी का भी पैसा लगा है। इसके अलावा नई सड़क उपद्रव में जिसे एक बड़े बिल्डर का नाम आ रहा है उसने भी इसके निर्माण में पैसा खर्च किया है। हालांकि के लिए प्रशासन ने जिस तरह से केवल फ्रंट का भाग तोड़ा है उसे लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं। वहीं, केडीए ने इससे जुड़े और इमारतों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। एक पखवारे पहले एक बड़े बिल्डर की छह इमारतो को भी सील किया साथ ही दर्शन पुरवा में एक बिल्डर की सील इमारत पर भी छानबीन शुरू की है।

कानपुर में तीन जून के बेकनगंज थाना क्षेत्र के नई सड़क में जुमा की नमाज के बाद उपद्रव को लेकर बेहद गंभीर सीएम योगी आदित्यनाथ की सख्ती के बाद हालात दुरुस्त हो रहा है। इसी बीच जुमा की नमाज शांतिपूर्ण निपटने का इंतजार कर रहा प्रशासन शनिवार को उपद्रवियों के खिलाफ एक्शन में आ गया।

आवासीय को बनादिया कॉमर्शियल

केडीए ओएसडी अवनीशसिंह ने बतायाकि आवासीय मेंइश्तियाक का नक्शादर्ज है। लेकिनपूरी बिल्डिंग कोकॉमर्शियल बना दिया। 130 वर्ग मीटरजमीन के अलावारोड पर करीब 10 वर्ग मीटर अवैधनिर्माण किया गयाथा। सेटबैक भीनहीं छोड़ा था।इसलिए केडीए वीसीअरविंद सिंह केनिर्देश पर अवैधहिस्सा गिराने की कार्रवाईकी जा रहीहै। केडीए अधिकारियोंके मुताबिक 2021 मेंबिल्डिंग को सीलकिया गया था।ध्वस्तीकरण के आदेशभी दिए गएथे, इसके बादभी निर्माण जारीरखा गया है।बिल्डिंग के आधेहिस्से को गिरादिया गया है।

2 views0 comments

Opmerkingen


bottom of page