google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

सरकार में अब तक मारे गए 168 दुर्दांत अपराधी, पुलिस की गोली से 4557 पहुंचे अस्पताल


लखनऊ, 22 नवंबर, 2022: यूपी पुलिस का अपराधियों के विरुद्ध जीरो टालरेंस की नीति के तहत कार्रवाई का अभियान जारी है। वाराणसी में तैनात उपनिरीक्षक अजय यादव को गोली मारकर उनकी सर्विस पिस्टल लूटने वाले दो बदमाशों को 'आपरेशन पाताल लोक' के तहत मुठभेड़ में मार गिराया गया है। प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में हुई इस दुस्साहसिक घटना के बाद वाराणसी कमिश्नर ए.सतीश गणेश ने बदमाशों की तलाश के लिए कई टीमों का गठन किया था। यह कार्रवाई यूपी पुलिस के उस हौसले को भी दोहरा रही है, जो बहुचर्चित बिकरू कांड के बाद मुख्य आरोपित विकास दुबे व उसके अन्य साथियों के साथ मुठभेड़ में पुलिस ने दिखाया था। योगी सरकार में 20 मार्च, 2017 से अब तक कुल 168 कुख्यात अपराधी पुलिस मुठभेड़ में मारे गए हैं।

सीएम योगी खुद करते हैं समीक्षा

योगी आदित्यनाथ ने पहली बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद ही भ्रष्टाचार व अपराधियों के विरुद्ध जीरो टालरेंस की नीति के तहत अभियान चलाकर कार्रवाई का आदेश दिया था। सीएम योगी खुद इन कार्रवाई की समय-समय पर समीक्षा करने के साथ ही कड़े निर्देश भी देते रहते हैं। योगी की इस नीति को दूसरे राज्यों में भी खूब सराहना मिलती रही है। इंटरनेट मीडिया पर भी योगी सरकार व यूपी पुलिस की प्रशंसा को लेकर चलाए गए हैशटैग भी टाप ट्रेंड में रहे हैं।

माफिया की संपत्तियों पर चला बुलडोजर

सीएम योगी आदित्यनाथ दूसरे राज्यों में अपने दौरों के दौरान अपराधियों पर कठोर कार्रवाई व माफिया की काली कमाई से जुटाई गई संपत्तियों पर बुलडोजर चलवाने को लेकर बयान भी देते रहे हैं। गुजरात में विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान भी सीएम योगी ने यूपी में चल रही इन कार्रवाई को प्रमुखता से लोगों के बीच रखा था। यूपी में बदली कानून-व्यवस्था के पीछे पुलिस के बदले तेवर भी हैं।

मेरठ जोन में सर्वाधिक अपराधी मारे गए

एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार के अनुसार अपराधियों के विरुद्ध से चल रही इस जंग में अब तक 13 पुलिसकर्मियों ने भी अपनी जानें गंवाई हैं। बदमाशों की गोली लगने से 1375 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। अब तक पुलिस मुठभेड़ में 22234 अपराधी पकड़े गए हैं। इनमें 4557 पुलिस की गोली लगने से घायल हुए। अब तक पुलिस मुठभेड़ में मेरठ जाेन में सर्वाधिक 64 अपराधी मारे गए हैं।

यूपी में कहां कितनी मुठभेड़ और ढेर

आगरा जोन - 2095 - 19 मारे गए

प्रयागराज जोन - 436 - 10 मारे गए

बरेली जाेन - 1440 - सात मारे गए

गोरखपुर जोन - 374 - सात मारे गए

कानपुर जोन - 455 - सात मारे गए

लखनऊ जोन - 481 - 11 मारे गए

मेरठ जोन - 3459 - 64 मारे गए

वाराणसी जोन - 656 - 19 मारे गए

लखनऊ कमिश्नरेट - 81 - आठ मारे गए

गौतमबुद्धनगर कमिश्नरेट - 644 - आठ मारे गए

वाराणसी कमिश्नरेट - 105 - सात मारे गए

कानपुर कमिश्नरेट - 131 - एक मारा गया

डीजीपी ने दिया पुलिस टीम को 5 लाख इनाम

डीजीपी डा. डीएस चौहान की संस्तुति पर शासन ने वाराणसी में बिहार के कुख्यात मनीष व राजनीश को मुठभेड़ में मार गिराने वाली पुलिस टीम को पांच लाख रुपये इनाम की घोषणा की है। चौहान ने कहा कि पुलिस टीम का मनोबल बढ़ाने के लिए शासन को पत्र लिखकर पुरस्कार देने की संस्तुति की गई थी। इस आपरेशन में सम्मलित उपनिरीक्षक राजकुमार पांडेय तथा बृजेश मिश्रा को उत्साहवर्धन के लिए थाना प्रभारी नियुक्त किया गया है। कहा कि भविष्य में भी अपराधियों के विरुद्ध आपरेशन पाताल लोक चलता रहेगा। मााफिया व अपराधियों के विरुद्ध लगातार कठोर कार्रवाई सुनिश्चित कराई जा रही है। सचिव, गृह तरुण गाबा ने बताया कि पुलिस टीम को पांच लाख रुपये इनाम की स्वीकृति प्रदान कर दी गई है।

8 views0 comments
bottom of page