google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

24 घंटे में 57 नए कोरोना संक्रमित, 13 अस्पताल में भर्ती, सक्रिय केस 300 पार


लखनऊ, 14 जून 2022 : कोरोना संक्रमितों की संख्यामें लगातार इजाफाहो रहा है।सोमवार को 57 लोगों कीरिपोर्ट पॉजिटिव आई है।भर्ती मरीजों कीसंख्या 13 पहुंच गई है।दो दिन पहलेनौ मरीज भर्तीथे। इससे स्वास्थ्यविभाग में हलचलबढ़ गई है।वहीं, जीनोम सिक्वेंसिंगके लिए भेजेगए नमूने कीरिपोर्ट आ गईहै। राहत कीबात यह हैकि कोरोना केनए वैरिएंट कीपुष्टि नहीं हुईहै

सबसे ज्यादाचिनहट, रेडक्रास व सिल्वरजुबली इलाके केलोग संक्रमित मिलेहैं। यहां नौ-नौ लोगोंकी रिपोर्ट कोरोनापॉजिटिव आई है।जबकि अलीगंज, इन्दिरानगरइलाके में छह-छह लोगोंमें संक्रमण कीपुष्टि हुई है।कैसरबाग में पांचलोगों में वायरसका पता चलाहै। छह मरीजकैंट स्थित बेसअस्पताल में भर्तीहैं। चार कोरोनासंक्रमितों का इलाजकेजीएमयू में चलरहा है। जबकितीन मरीज महानगरके निजी अस्पतालमें भर्ती हैं। 22 मरीजों ने वायरसको मात देनेमें कामयाबी हासिलकी है। सक्रियमरीजों का ग्राफ 311 पहुंच गया है।

सीएमओ डा. मनोजअग्रवाल ने बतायाकि मरीजों मेंउतार-चढ़ाव होरहा है। संक्रमणपूरी तरह सेखत्म नहीं हुआहै। संक्रमण सेसावधान रहें। लक्षण नजरआने पर जाचंकराएं। संक्रमण को शुरुमें पकड़ करबीमारी से निपटसकते हैं। भीड़-भाड़ मेंजाने से बचें।मास्क लगाकर हीघर से बाहरनिकलें। समय-समयपर हाथों कोसैनेटाइजर से धाएं।बारी आने परकोरोना से बचावकी वैक्सीन लगवाएं।वहीं, स्वास्थ्य विभागने मई तक 312 संक्रमितों के नमूनोंकी जांच कराईथी इनकी रिपोर्टआ गई है।

सीएमओ प्रवक्ता योगेशरघुवंशी ने बतायाकि सभी मेंकोरोना के पुरानेवैरिएंट ओमीक्रॉन की हीपुष्टि हुई है।कोई नया वैरिएंटनहीं पाया गयाहै। यह जांचेंकेजीएमयू में कराईगई हैं। सीएमओडा. मनोज अग्रवालने बताया किडेल्टा वैरिएंट ज्यादा खतरनाकहै। ओमीक्रॉन हल्कावैरिएंट है। पर, बुजुर्ग, गुर्दा, दिल, कैंसरसमेत दूसरी गंभीरबीमारी से पीड़ितोंको अधिक संजीदारहने की जरूरतहै। यह मरीजोंकी सेहत केलिए घातक साबितहो सकता है।इसलिए लापरवाही बिलकुलन बरतें।
0 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0