google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

अखिलेश के डुप्लिकेट 'बाबा' फिर से सुर्खियों में, नौकरी मांगने पहुंचे एलडीए


लखनऊ, 04 नवम्बर 2022 : विधानसभा चुनाव में सपाके राष्ट्रीय अध्यक्षअखिलेश यादव केसाथ कानों मेंकुंडल धारण किएएक बाबा कोअक्सर देखा गया।भगवा पहने यहबाबा की शक्लकुछ हद तकमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथसे मिलती है।कभी अखिलेश यादवके निजी चार्टरविमान में यहडुप्लीकेट बाबा उनकेसाथ खाना खातेनजर आए तोकभी चुनावी रैलीका मंच साझाकरते दिखे। गोरखपुरमें जनसभा केदौरान इन डुप्लीकेटबाबा के साथअखिलेश यादव नेभी कई तंजकसा। यहां तककहां कि उनकेपास असली बाबाहैं। अब अखिलेशके यही बाबालखनऊ विकास प्राधिकरणमें अपनी नौकरीदोबारा पाने केलिए अधिकारियों केयहां दस्तक देरहे हैं।

सीएम योगीआदित्यनाथ के जिसडुप्लीकेट को अखिलेशयादव साथ लेकरचुनाव में घूमरहे थे ।वहडुप्लीकेट बाबा आजएलडीए नौकरी मांगनेपहुंचे। उनको 2016 में एलडीएने मारपीट औरगलत आचरण केकारण निकाल दियाथा।

अखिलेश यादव केसाथ दिखने वालेयह बाबा सुरेशठाकुर हैं। इन्होंनेवर्ष 2008 में छावनीपरिषद का चुनावलड़ा था। तबजमानत जब्त हुईतो सुरेश ठाकुरअपना हुलिया मुख्यमंत्रीयोगी आदित्यनाथ कीतरह बनाकर सीधेसपा के प्रदेशकार्यालय पहुंच गए। यहांअखिलेश यादव कीउनपर नजर पड़ीतो वह सुरेशको अपने साथलेकर विमान सेही घुमने लगे।विधानसभा चुनाव में कईमंचों पर यहअखिलेश के साथनजर आए।

एलडीए उपाध्‍यक्षको दिया नौकरीका अप्‍लीकेशन

शुक्रवार को सफेदपगड़ी बांधे कानोंमें कुंडल धारण्किए हुए वहलविप्रा उपाध्यक्ष डा. इंद्रमणित्रिपाठी के कक्षमें जा पहुंचे।एक अप्लीकेशन आगेबढ़ाते हुए बतायाकि वह सुरेशकुमार हैं औरलविप्रा के मान्यवरकांशीराम जनसुविधा परिसर मेंप्लांट आपरेटर के पदपर तैनात थे।उनको एक मामलेमें सेवा सेबाहर कर दियागया था। अबवह दोबारा नौकरीकरना चाहते हैं।

अभद्रता और सरकारीकाम में बाधाडालने का लगाथा आरोप

एप्लीकेशन के साथजो तत्कालीन लविप्राउपाध्यक्ष की जोजांच आख्या लगीथी उसमें सुरेशकुमार पर अभद्रताऔर सरकारी काममें बाधा पहुंचानेऔर एक फर्जीकर्मचारी संगठन तैयार करगलत तरीके सेकार्यालय बनाने जैसे आरोपलगे थे। फिलहाललविप्रा के उपाध्यक्षडा. इंद्रमणि त्रिपाठीने सुरेश कुमारका एप्लीकेशन रखकरन्यायोचित कार्रवाई का आश्वासनदिया है।

37 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0