google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

अखिलेश का जातीय जनगणना के बहाने संजय निषाद पर हमला


लखनऊ, 24 फरवरी 2023 : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव शुक्रवार दोपहर को नोएडा पहुंचें। सपा अध्यक्ष दिल्ली से डीएनडी होते हुए कार से नोएडा पहुंचे। उन्होंने सेक्टर-63 स्थित हजरतपुर वाजिदपुर गांव में प्रतिमा राज पाल सिंह यादव की प्रतिमा का अनावरण किया। यहां एक जनसभा को भी संबोधित किया।

जातीय जनगणना सबसे जरूरी- अखिलेश

अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी केशव प्रसाद मौर्य को हमेशा आगे करती है। जातीय जनगणना आखिरी बार अंग्रेजों के शासन काल 1931 में हुई थी। इसके बाद जनता की मांग पर मुलायम सिंह यादव (नेता जी) और शरद यादव ने कांग्रेस सरकार में प्रयास किया था, आज सबसे जरूरी जातीय जनगणना है।

संजय निषाद से पूछा सवाल

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने आगे कहा कि जाति जनगणना पर छुट भैया नेता न बोलें, इस पर सिर्फ पीएम और सीएम बोलें। अखिलेश यादव ने संजय निषाद और आशीष पटेल को छुट भैया नेता कहा। संजय निषाद से पूछा, क्या वो आउटसोर्सिंग का समर्थन करते हैं। नीतीश कुमार ने जातीय जनगणना का समर्थन किया है। क्या संजय निषाद उनसे बड़े नेता हैं। उन्होंने कहा कि वह बार नोएडा नहीं आए।

अखिलेश ने कहा कि अगर बीजेपी इस बात को कहती है कि सबका साथ,सबका विकास और सबका विश्वास तो कम-कम हर जाति में ये विश्वास पैदा हो कि उनको भी योजना से जोड़ा गया है। बीजेपी की जिम्मेदारी है कि वो इसे करे, अगर वो नहीं करते तो जब कभी सपा को मौका मिलेगा तब जाति जनगणना होगी।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के साथ गठबंधन पर कहा मीडिया के कहने पर गठबंधन नहीं होता है। कार्यकर्ता सपा अध्यक्ष के नोएडा दौरे को लेकर उत्साहित दिखाए दिए। पार्टी पदाधिकारियों की ओर से अखिलेश यादव के दौरे को लेकर सभी तैयारियां पूरी की गई थी। अखिलेश यादव ने वरिष्ठ पदाधिकारियों संग बैठक कर संगठन विस्तार पर चर्चा की।

2 views0 comments

Comentarios


bottom of page